केसरिया हुआ ‘आरा’, केंद्रीय मंत्रियों संग निकली भव्य शोभायात्रा

राममय हुआ आरा,मिटा जाति और मजहब का रंग

आरा, 25 मार्च. चैत्र नवरात्र के नवमी को निकलने वाली राम नवमी शोभायात्रा आज भोजपुर मुख्यालय आरा में भी निकाली गयी. यह शोभायात्रा  देवराहा शिवनाथ दास जी महाराज के नेतृत्व में रामगढ़िया से निकाली गयी जिसमे केंद्रीय मंत्री गिरीराज सिह आरा संसद केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आर के सिंह शोभायात्रा में शामिल हुए. भगवान राम का धर्मंन चौक के समीप आरती करने के बाद माननीयों ने  सभी झांकीयो को हाथ हिलाते हुए अभिवादन किया. तत्पश्चात सभी झांकी शहर के विभिन्न मार्गों से होते हुए
रमना मैदान पहुंची.




रामनवमी के इस शोभायात्रा में प्रभू श्रीराम के जीवन के विभिन्न पहलुओं को दर्शाते हुए करीब 80 झांकियां निकाली गयी, इन झाकियों में करमनटोला से निकाली गयी झांकी ने सभी को आकर्षित किया. शोभायात्रा में जिले के विभिन्न स्थानों से करीब ढाई लाख लोग सम्मिलित हुए.

समूचा शहर केसरिया रंग में पटा हुआ था, वही जय श्री राम, जय माता दी, हर-हर बम-बम और भारत माता की जय जैसे नारों से भक्ति माहौल कायम हो गया था. राम भक्त मोटरसाइकिल, पैदल और चार चक्के वाले वाहनों पर विभिन्न रूपों में विराजमान थे. कोई सन्त बना था तो कोई शिव, तो कोई राक्षस… लेकिन सबका सम्बन्द्ध बस राम से ही था. यही नही रामलला पालकी में झूलते भी दिखे. इस दौरान पारंपरिक अस्त्रों का भी लोगों ने जम कर प्रदर्शन किया. युवा और बच्चे पारंपरिक अस्त्रों के साथ खुशी में झूमते नजर आए. राम भक्तों के सुंदर नजारों को लोगों ने कैमरे और मोबाइल में कैद भी किया.

वही जिस रास्ते से भी यह विशाल शोभायात्रा गुजरी उन रास्तों पर महिलाएं,पुरुष और बच्चे मनमोहक झांकियों को देखने के लिए सड़क के दोनों किनारे खड़े हो घंटों इंतजार के बाद मन को शांत किया. राम भक्तों को ठंडा पेय जल, मिष्ठान और शरबत से विभिन्न कौमों के लोगों ने स्वागत किया. मजहबी दूरियां इस शोभायात्रा के दौरान मिट गई. सभी लोग राम भक्त हो गए थे. शांति और सौहार्द का यह अनोखा नजारा आत्मिक संतुष्टि प्रदान कर रहा था.

80 बरस की कहावत का भी दिखा रंग

भोजपुर जिले में 80 वर्ष में जवान होने की कहावत को चरितार्थ शोभायात्रा के दौरान एक बुजुर्ग ने कर दिखाया जब अस्त्रों के साथ घूम रहे बच्चों और युवाओ के बीच डंडे की कलाबाजियों को उन्होंने प्रदर्शन किया. लगभग 80 वर्ष की उम्र में डंडे से कलाबाजियां दिखाते वक्त वो जोश में युवाओ के समान ही दिख रहे थे. उन्होंने अपनी कला का प्रदर्शन नवादा थाना के पास किया.

प्रशानिक रोक के बाद भी बजे DJ, पारंपरिक अस्त्रों का हुआ प्रदर्शन
जिला प्रशासन ने शोभायात्रा के दौरान शांति बरतने के लिहाज से DJ के साथ मात्र 4 साउंड बॉक्स बजाने की अनुमति दी थी साथ ही किसी भी प्रकार के हथियार को लेकर घूमने पर पाबंदी लगाई थी. प्रशासन द्वारा लगाई गई इस पाबंदी से नाराज युवाओ ने शहर में शनिवार को प्रदर्शन भी किया था. लेकिन इन पाबंदियों की हवा शोभायात्रा के दौरान टाँय-टाँय फिस्स हो गयी. जमकर DJ और अस्त्रों का प्रदर्शन खुलेआम हुआ. शोभायात्रा शहर में शांतिपूर्ण सम्पन्न हुई.

आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट
फ़ोटो: सत्य प्रकाश सिंह