पटना में ओमिक्रोन नहीं डेल्टा के ज्यादा मरीज

कोरोना का राज्य में कहर जारी
अब तक 85 मरीज कोई मौत नहीं


बिहार में कोरोना के 85 एक्टिव मरीज हैं, लेकिन ग़नीमत है कि संक्रमण से कोई मौत नहीं हो रही है. राज्य में बीते 24 घंटे में 1,67,405 लोगों की जांच हुई। 24 घंटे में 6 नए मामले आए हैं. इसमें पटना में 4 तथा सीवान व वैशाली में एक-एक नए संक्रमित पाए गए हैं। बिहार में अब कुल संक्रमितों की संख्या 7,26,371 हो गई है। जबकि अब तक कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या 7,14,192 है। 12,093 लोगों की मौत हो चुकी है। पटना में सबसे अधिक 58 एक्टिव मामले हैं.


एक तरफ ओमीक्रोन वायरस का खतरा तो दूसरी तरफ डेल्टा वेरिएंट के मिल रहे मरीजों ने एक बार फिर बिहार सरकार की चुनौतियां बढ़ा दी है. बाकि देशों और कई राज्यों में बिगड़ रही हालात को देखते हुए बिहार सरकार भी तीसरी लहर को लेकर अस्पतालों में व्यवस्था मुकम्मल करने में जुटी है, जहां सभी मेडिकल कॉलेजों में जनरल वार्ड से लेकर आईसीयू तक तैयार किये गए हैं वहीं आइसोलेशन सेंटर भी तैयार होने लगा है. पिछले साल तैयार किये गए पाटलिपुत्रा स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में फिर से आइसोलेशन सेंटर को शुरू कर दिया गया है.
एक्सपर्ट बताते हैं कि कोरोना के उतार चढ़ाव का मामला काफी खतरनाक होता है. यह कभी भी अचानक से बढ़ सकता है। इस कारण से इसे लेकर हमेशा अलर्ट रहना होगा। इससे बचाव के लिए गाइडलाइन का पालन करना होगा.




PNCDESK #biharkikhabar