CO के ‘आदेश’ को BEO ने दिखाया ‘ठेंगा’

नही हुई महीनों बाद भी कार्रवाई, अब स्कूल में होगी तालाबन्दी

मिड-डे मील में कार्रवाई नही होने से नाराज ग्रामीणों ने दिया पदाधिकारियों को चेतावनी




उत्क्रमित कन्या मध्य विद्यायल के मिड-डे का मामला

अगिआंव, 11 मई. प्रखंड के अगिआंव गांव स्थित उत्क्रमित कन्या मध्य विद्यालय में पिछले 13 मार्च को स्कूली छात्र छात्राओं ने थाली में सादा चावल देख आक्रोशित ग्रामीण व बच्चे मुख्यालय तक पहुंचे थे. मिड डे मील में गड़बड़ी व शिक्षा सुचारू ढंग से नही होने के कारण आक्रोशित छात्र छात्राए मुख्यालय पे पहुंचे थे. वहां प्रखंड विकास पदाधिकारी सन्नी सैराभ ने इस घटना को गंभीरता से लिया और प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी अगिआंव हीरालाल सिह से स्पस्ट रूप जांच कर उचित करवाई करने का आदेश दिया. जयमोति देवी के कार्यकाल में कई बार हुए हंगामें को देखते हुए गड़बड़ी पाने पर अविलंब प्रधानाध्यपिका जयमोति देवी को कार्य से निलंबित करने को कहा.

बावजूद इसके 13 मार्च के महीनो गुजरने के बाद इस मामले की अभीतक जांच नही की गई. मासूम ग्रामीण यह समझ रहे है कि बी ओ साहब कुछ ले दे मर मामला शांत कर दिये है. ये हो भी सकता है क्योंकि भ्रष्टाचार की इस शासन वयस्था में सिर्फ आंदोलन हो रहे है ,करवाई नही. अधिकारियों के इस अनदेखे रवैये से त्रस्त ग्रामीणों ने कहा कि ऐसी ही व्यवस्था रह, तो विद्यालय में जल्द ही तालाबंदी कर दिया जाएगा. अब देखना यह दिलचस्प होगा कि ग्रामीणों के इस चेतावनी के बाद अधिकारियों के आदेश का निष्पादन होता है या यूं ही कान में तेल डाल सभी अपनी धुनि रचाते रहेंगे.

गड़हनी से मुरली मनोहर जोशी की रिपोर्ट