बाबरी विध्वंस की 26 वर्षगांठ पर भगवा मार्च | यूनाइटेड हिन्दू फ्रंट ने विजय दिवस मनाया

दिल्ली / जंतर मंतर (आशुतोष श्रीवास्तव की रिपोर्ट) | जैसा कि ज्ञातव्य है कि 6 दिसंबर 1992 को ही बाबरी मस्जिद विध्वंस हुआ था, जिसकी जिम्मेदारी सर्वप्रथम जय भगवान गोयल ने ली थी. बृहस्पतिवार को 6 दिसंबर 2018 को जय भगवान गोयल ने मोदी सरकार से आग्रह किया कि अयोध्या में राम मंदिर बनाओ नहीं तो जिस तरह मस्जिद गिराया था, उसी तरह मंदिर भी बनाएंगे. उन्होंने कहा, अयोध्या आंदोलन ने बीजेपी के कई नेताओं को देश की राजनीति में एक पहचान दी, लेकिन राम मंदिर के लिए सबसे बड़ी कुर्बानी पार्टी नेता कल्याण सिंह ने दी. वे बीजेपी के इकलौते नेता थे, जिन्होंने 6 दिसंबर 1992 में अयोध्या में बाबरी विध्वंस के बाद अपनी सत्ता को बलि चढ़ा दिया था. राम मंदिर के लिए सत्ता ही नहीं गंवाई, बल्कि इस मामले में सजा पाने वाले वे एकमात्र शख्स हैं. गोयल के अनुसार मोदी सरकार भी मंदिर बनाने के लिए आयी थी लेकिन अभी तक उनकी तरफ से कोई सुगबुगाहट नही दिखाई दी हैं.         देखिये क्या बोला जय भगवान गोयल ने

Read more

अपराधियों से मुठभेड़ में पटना पुलिस का एक सिपाही शहीद

पुलिस और अपराधियों के बीच हुई क्रॉस फायरिंग में एक सिपाही की मौत पटना में छापेमारी करने गयी पुलिस टीम पर अपराधियों ने चलाई, एक अपराधी को दबोचा एसएसपी समेत कई आला पुलिस अधिकारी पहुंचे न्यू बाईपास स्थित पटना सेंट्रल स्कूल के सामने में हुई वारदात पटना (अजीत की रिपोर्ट) । पटना के न्यू बाईपास पर सोमवार देर शाम अपराधियों ने छापेमार कर रही एसएसपी की विशेष पुलिस टीम के एक कांस्‍टेबल को गोली मार दिया. घायल सिपाही की मौत बाईपास स्थित एक प्राइवेट हॉस्पिटल में हो गई. इस घटना की पुष्टि आईजी, पटना ने की है. बताया जा रहा है कि पुलिस नौबतपुर के कुख्यात उज्ज्वल को पकड़ने गई थी. इससे पहले पटना के कंकड़बाग थाना क्षेत्र के जगनपुरा स्थित बाइपास इलाके में पटना सेंट्रल स्कूल के नजदीक अपराधियों के होने की सूचना पुलिस को मिली. पुलिस की एक विशेष टीम इन अपराधियों को पकड़ने गई जिसमें एसएसपी के रंगदारी सेल के कांस्‍टेबल मुकेश कुमार सिंह भी शामिल थे. पटना पुलिस की यह विशेष टीम बाइपास इलाके में छापेमारी कर रही थी. इसी दौरान पटना सेंट्रल स्कूल के सामने अपराधियों से पुलिस टीम की भिड़ंत हो गई. इस पर अचानक अपराधियों ने पुलिस टीम पर गोली चला दी. आमने-सामने की मुठभेड़ में कांस्‍टेबल मुकेश कुमार को बदमाशों ने कमर और कंधे पर दो गोली मार दी, जिससे कॉन्स्टेबल वहीं गिर पड़े. आनन-फानन में टीम के अन्य सदस्यों ने घायल सिपाही मुकेश को नजदीक में स्थित एक प्राइवेट हॉस्पिटल ले गए जहाँ मुकेश की मौत हो गई. उधर अपराधियो को

Read more

रंगारंग कार्यक्रम के बीच संपन्न हुआ न्यू एरा पब्लिक स्कूल का 25वां वार्षिकोत्सव

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | रविवार 2 दिसंबर को न्यू एरा पब्लिक स्कूल के रजत जयंती के शुभ अवसर पर वार्षिक सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन एसके मेमोरियल हॉल, पटना में किया गया. कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि डॉ0 मोहन लाल वर्मा (कुलपति, गोपाल नारायण सिंह विश्वविद्यालय, बिहार) डॉ0 श्रीमती रत्ना पुरकायस्थ (हेड ऑफ प्रोग्राम, दूरदर्शन पटना), डॉ0 अरविंद कुमार (निदेशक) तथा डॉ0 अमल पुष्प सिंह के द्वारा दीप प्रज्वलन के साथ हुआ. विद्यालय की प्राचार्य डॉ0 नीना कुमार ने विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करते हुए अपने उदबोधन में समय और अनुशासन के महत्व पर जोर दिया. उन्होंने अभिभावकों एवं विद्यार्थियों को कार्यक्रम की सफलता एवं बच्चों को बेहतर भविष्य के लिए सहयोग देने की अपील की. विद्यालय के रजत जयंती के अवसर पर पत्रिका नॉर्थ स्टार का लोकार्पण मुख्य अतिथियों के द्वारा किया गया. विद्यालय के निदेशक डॉ0अरविंद कुमार ने दर्शकों को संबोधित करते हुए कहा कि विद्यार्थियों ने अपने इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए बहुत कड़ी मेहनत की. उन्होंने विद्यार्थियों की प्रतिभा को निखारने एवं इस तरह के आयोजन के लिए हमेशा ही हर संभव सहयोग करने की बात की. समारोह में विशिष्ट अतिथियों में प्रभात कुमार साह, ओम प्रकाश, विनय कुमार साह तथा मो0करीम भी मौजूद थे. इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए जिसमें “गणेश वंदना”, “यह मत कहो खुदा से”, “ब्राउन गर्ल”, “होली बिरज मा” आदि प्रमुख थे. उपस्थित विद्यार्थियों, अभिभावकों एवं आगंतुकों ने रंगारंग कार्यक्रम को खूब सराहा और लुफ्त उठाया. चयनित विद्यार्थियों को पुरस्कृत भी किया गया. अंत में कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान के साथ हुआ.

Read more

बिहिया कांड में सुपरफास्ट फैसला | दोषियों को मिली सजा

आरा (सत्य प्रकाश की रिपोर्ट) | भारत को दुनिया भर में “लिंचिस्तान” और “लिंचोक्रेसी” जैसे शब्दों से दागदार बनाने वाले मॉब लीनचिंग की घटनाओं के बाद पहली बार आरा सिविल कोर्ट ने भीड़ की हिंसा को लेकर एक ऐतिहासिक फैसला सुनाया है. भारत के सुप्रीम कोर्ट द्वारा भीड़तंत्र को कानूनी रूप से मान्यता या इजाजत नहीं दिए जाने जैसे सख्त चेतावनी के ठीक बाद यह ऐतिहासिक फैसला बिहार के आरा सिविल कोर्ट से आया है, जहाँ कोर्ट ने राष्ट्रीय स्तर के बहुचर्चित मामले में दलित महिला को निर्वस्त्र कर सरेआम बाजार में घुमाये जाने और हिंसा फैलाने को लेकर अपराध में शामिल 20 लोगों को सजा देकर सही मायने में भीड़तंत्र के मुंह पर एक करारा तमाचा मारा है. ताजा फैसला है बिहार के भोजपुर जिले के आरा सिविल कोर्ट की जहाँ न्यायमूर्ति ADJ-1 ने विगत 20 अगस्त को भोजपुर जिले के बिहिया प्रखंड के बिहिया बाजार में एक दलित महिला को निर्वस्त्र कर सरेबाज़ार घुमाये जाने और हिंसा फैलाये जाने को लेकर कुल 20 लोगों को कड़ी सजा सुनाई है. इस प्रकरण में 5 लोगों को महिला को निर्वस्त्र कर घुमाने को लेकर 7 वर्ष और एससी/एसटी एक्ट में 2 वर्ष के साथ-साथ 10 रुपये का जुर्माना लगाया गया है. वहीं दूसरी ओर 15 लोगों को एससी/एसटी एक्ट व बाजार में हिंसा फैलाने को लेकर कोर्ट द्वारा 2-2 साल के सजा सजा का एलान किया गया है और साथ ही 2-2 हज़ार रुपये जुर्माना भी लगाया गया है. कोर्ट के फैसले के बाद वकील सतेंद्र कुमार सिंह ने बताया

Read more

बिहिया कांड मामले में कोर्ट ने 20 को दोषी करार दिया, फैसला 30 नवंबर को

आरा (सत्या की रिपोर्ट) | बीते 20 अगस्त को हुए बिहिया कांड मामले में गिरफ्तार सभी 20 आरोपियों के खिलाफ बुधवार को सुनवाई में दोषी करार दिया गया है. आरा सिविल कोर्ट के प्रथम अपर जिला सत्र न्यायाधीश रमेश चंद्र द्विवेदी ने फैसले को 30 नवम्बर तक सुरक्षित रखा है. कोर्ट ने 20 आरोपियों में से किशोरी यादव, विष्णु, मुमताज़, मड़ई एवं सिकंदर 5 को महिला को निर्वस्त्र कर सरेआम घुमाने का दोषी पाया है, वहीं अन्य 15 आरोपियों को दंगा फैलाने का दोषी पाया है. कोर्ट का फैसला आने के बाद से कोर्ट परिसर में अफरा-तफरी का माहौल रहा. आपको बता दे कि बिहिया में बीते 20 अगस्त को रेलवे ट्रैक पर छात्र का शव मिलने के बाद सैकड़ों लोग आक्रोशित हो गए थे और शक के आधार पर एक दलित महिला की पिटाई कर उसे निर्वस्त्र कर पूरे बाजार में नंगे घुमाने के साथ उसके घर में आग लगा दी थी. जिसके बाद पुलिस ने वीडियो फूटेज के आधार पर सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया था. देखिये वीडियो  

Read more

श्रद्धालुओं को असुविधा न हो | मुख्यमंत्री ने छठ महापर्व से पहले गंगा घाटों का किया निरीक्षण

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | शनिवार को मुख्यमंत्री ने स्टीमर पर लगभग दो घंटे तक नासरीगंज से गायघाट के बीच अवस्थित सभी छठ घाटों का मुख्यमंत्री ने सूक्ष्म रूप से अवलोकन किया और लगातार अधिकारियों को दिशा-निर्देश देते रहे ताकि छठव्रतियों को किसी प्रकार की कठिनाई न हो. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोक आस्था के महापर्व छठ पर्व के मद्देनजर पटना के छठ घाटों का निरीक्षण किया. उन्होंने स्टीमर के द्वारा दानापुर के नासरीगंज से पटना सिटी के गायघाट तक गंगा घाटों का निरीक्षण किया और घाटों की सफाई, सुरक्षा एवं स्वच्छता के संबंध में पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये. मुख्यमंत्री ने गंगा घाटों के निरीक्षण के क्रम में घाटों की स्थिति पर संतोष व्यक्त किया. कुर्जी एवं एल0सी0टी0 घाट के निरीक्षण के क्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी इसमें और अधिक काम करने की आवश्यकता है. इसमें अभी और जे0सी0बी0 लगाना होगा और तीव्र गति से कार्य कराना जरूरी है. उन्होंने कहा कि कुर्जी घाट के आगे कटाव ज्यादा हो रहा है ऐसा कटाव पिछले वर्ष नहीं था. मुख्यमंत्री ने कहा कि पानी के लेवेल को देखकर घाटों पर बैरिकेटिंग सुनिश्चित करायी जाय. उन्होंनेअधिकारियों को निर्देश दिया कि जहां भी श्रद्धालु भारी संख्या में अर्घ्य देने के लिये आते हैं, उन्हें अर्घ्य देने में असुविधा न हो, इसका पूरा ध्यान रखने की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि छठव्रतियों के अतिरिक्त दूसरे परिवार के श्रद्धालु भी आते हैं, इसके कारण होने वाली भीड़ को देखते हुये आवागमन को दुरूस्त रखना होगा. इस संबंध में भी उन्होंने अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश

Read more

अब घुट घुट कर नहीं जी सकता – तेज प्रताप यादव

पटना (राजेश तिवारी की रिपोर्ट) | शुक्रवार 2 नवंबर को राष्ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू यादव के बड़े पुत्र तेज प्रताप यादव का अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक का मामला कोर्ट तक पहुँच गया.  तेज प्रताप ने तलाक की खबरों को सच बताया. कोर्ट में अपनी पत्‍नी ऐश्‍वर्या से तलाक लेने के लिए अर्जी दायर करने के बाद लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव ने शनिवार को मीडिया से बातचीत की. उन्‍होंने कहा ‘मैंने कोर्ट में तलाक के लिए अर्जी दाखिल की है, मैं घुट-घुटकर जी रहा था, घुट-घुटकर जीने से कोई फायदा नहीं है. बता दें, शुक्रवार देर शाम तेज प्रताप यादव सिविल कोर्ट में तलाक की याचिका दायर की थी. तेज प्रताप यादव ने 13 (1) (1a) हिंदू मैरिज एक्‍ट के तहत तलाक के लिए अर्जी दी है. अर्जी देने के बाद तेज प्रताप यादव अपने पिता से मिलने के लिए रांची रवाना हुए थे लेकिन बार-बार परिवार से फोन आने के बाद उन्होंने रांची जाने का प्रोग्राम रद्द कर दिया था. शुक्रवार रात भर दोनों परिवारों के बीच सुलह की कोशिशें हुई, लेकिन कोई निष्कर्ष नहीं निकला. तेज प्रताप द्वारा तलाक की अर्जी देने के बाद उनकी पत्नी ऐश्वर्या, ससुर चंद्रिका राय और ऐश्वर्या राय की मां, राबड़ी देवी के आवास पर पहुंचे और रात 11 बजे तक वहां रहे. माना जा रहा है कि पूरा परिवार तेज प्रताप यादव को मनाने की कोशिश में जुटा हुआ है लेकिन तेज प्रताप अपने तलाक के फैसले को बदलने के मूड में नहीं दिख रहे हैं. शनिवार को तेज प्रताप यादव

Read more

पुलिस हैं या कि गुंडे, कई राउंड चली गोलियां, SP / DSP को पीटा

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | पुलिस लाइन में आज शुक्रवार को महिला और पुरुष ट्रेनी पुलिसकर्मियों ने अपने पुलिस अधिकारियों के खिलाफ जमकर हंगामा किया. इन सिपाहियों ने डीएसपी मसलाउद्दीन, एसपी सिटी डी अमर केस और एसपी ग्रामीण आनंद कुमार को डंडों से पीटा. इस मारपीट में डीएसपी मसलाउद्दीन को गंभीर चोंटें आई. दरअसल हुआ यह कि पुलिस लाइन में तैनात एक ट्रेनी महिला पुलिस कुछ दिनों से बीमार थी. वह काफी समय से छुट्टी मांग रही थी लेकिन उसे छुट्टी नहीं मिल रही थी. जब उसका स्वास्थ्य अधिक खराब हो गया तो उसे पटना के एक निजी अस्‍पताल में भर्ती कराया गया. शुक्रवार को इलाज के दौरान उस महिला पुलिस की मौत हो गई. इसके बाद तो पुलिसकर्मियों में आक्रोश फूट पड़ा. उन्होंने उच्च पदाधिकारियों पर मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए पुलिस लाइन में जमकर हंगामा किया. वहां खड़े सभी वाहनों में तोड़फोड़ की. फिर सभी पुलिसकर्मी कानून को हाथ में लेकर सड़कों पर उतर आये और पुलिस लाइन के आसपास की दुकानों को जबरदस्ती बंद करवाया और आम लोगों की पिटाई की. इस दौरान दर्जनों गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई और कई राउंड हवाई फायरिंग भी की गई. हंगामा करनेवालों में कई महिला पुलिसकर्मी भी शामिल रहीं. आक्रोशित पुलिसकर्मियों द्वारा मीडियाकर्मियों को भी निशाना बनाया गया. कई मीडियकर्मियों की भी पिटाई की गई. इसके बाद जब आम लोग आक्रोशित हो गए तब सभी पुलिसकर्मी पुलिस लाइन में लौट गए. लेकिन उनका हंगामा पुलिस लाइन अंदर काफी देर तक कायम रहा. इस पूरे प्रकरण पर बिहार के

Read more

इंडोनेशिया का प्लेन क्रैश, 188 यात्रियों के मारे जाने की आशंका, प्लेन का एक पायलट भारतीय

विमान जेटी-610 जकार्ता से पंगकल पिनॉन्ग जा रहा था, इसमें 188 लोग सवार थे. सर्च ऑपरेशन के अधिकारियों के अनुसार जावा समुद्र तट के पास विमान के टुकड़े नजर आए हैं प्लेन टेक ऑफ के 13 मिनट बाद ही विमान से संपर्क टूट गया जिसके बाद सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया. इसमें सवार 188 लोगों में 178 लोगों के अलावा 3 बच्चे, 2 पायलट और 5 केबिन क्रू सवार थे. जकार्ता (ब्यूरो रिपोर्ट) | इंडोनेशिया के जकार्ता से पांकल पिनांग शहर जा रहा एक यात्री विमान सोमवार सुबह उड़ान भरने के 13 मिनट बाद ही समुद्र में क्रैश हो गया. बताया जा रहा है कि संपर्क टूटने से पहले पायलट ने प्लेन की वापसी का सिग्नल दिया था. विमान संपर्क टूटने वाली जगह से करीब दो नॉटिकल मील (3.7 किलोमीटर) दूर कारावांग की खाड़ी में क्रैश हुआ. प्लेन के दो पायलटों में से एक पायलट भारतीय था जिसका नाम कैप्टन भव्य सुनेजा था. सुनेजा मूल रूप से दिल्ली के रहने वाले थे. मार्च 2011 में ही वे लॉयन एयर से जुड़े थे. उनके पास विमान उड़ाने का 6000 घंटे का अनुभव था. रिपोर्ट्स के मुताबिक विमान ने जकार्ता एयरपोर्ट से उड़ान भरी थी. विमान सुमात्रा के पिंगकल पिनॉन्ग जा रहा था. उड़ान भरने के 13 मिनट बाद ही विमान का संपर्क कण्ट्रोल रूम से टूट गया था. बताया जा रहा है कि संपर्क टूटने से पहले पायलट ने प्लेन की वापसी का सिग्नल दिया था. लेकिन वापसी की इजाजत मिलने के ठीक बाद एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) का फ्लाइट से संपर्क

Read more

पूर्व सांसद सूरजभान के बेटे आशुतोष का हुआ अंतिम संस्कार

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | पूर्व सांसद सूरजभान व वर्तमान सांसद वीणा देवी के बड़े बेटेआशुतोष सिंह का शव शनिवार शाम छह बजे जेट के विमान से पटना लाया गया. इसके बाद शव को गाड़ी से कंकड़बाग के महात्मा गांधी नगर स्थित आवास पर लाया गया. शव पहुंचते ही आवास पर कोहराम मच गया. शनिवार की देर शाम पूर्व सांसद के बेटे आशुतोष सिंह के पार्थिव शरीर का पटना के दीघा के मीनार घाट पर अंतिम संस्कार कर दिया गया. मुखाग्नि छोटे भाई अमितोष ने दी. हजारों लोगों ने आशुतोष को अंतिम विदाई दी. गौरतलब है सूरजभान सिंह के बेटे आशुतोष सिंह का शनिवार अहले सुबह ग्रेटर नोएडा हाईवे पर एक सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी. दुख की इस घड़ी में पूरा मोकामा बाजार बंद रहा और पटना के कौशल्या स्टेट मार्किट भी बंद रहा. सूरजभान सिंह के बेटे के अंतिम यात्रा में सांसद सीपी ठाकुर, रामा सिंह, पूर्व विधायक सुनील पांडे, मुन्ना शुक्ला सहित बड़ी तादाद में राजनीतिक हस्तियां मौजूद थी.

Read more