श्रद्धालुओं को असुविधा न हो | मुख्यमंत्री ने छठ महापर्व से पहले गंगा घाटों का किया निरीक्षण

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | शनिवार को मुख्यमंत्री ने स्टीमर पर लगभग दो घंटे तक नासरीगंज से गायघाट के बीच अवस्थित सभी छठ घाटों का मुख्यमंत्री ने सूक्ष्म रूप से अवलोकन किया और लगातार अधिकारियों को दिशा-निर्देश देते रहे ताकि छठव्रतियों को किसी प्रकार की कठिनाई न हो. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोक आस्था के महापर्व छठ पर्व के मद्देनजर पटना के छठ घाटों का निरीक्षण किया. उन्होंने स्टीमर के द्वारा दानापुर के नासरीगंज से पटना सिटी के गायघाट तक गंगा घाटों का निरीक्षण किया और घाटों की सफाई, सुरक्षा एवं स्वच्छता के संबंध में पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये. मुख्यमंत्री ने गंगा घाटों के निरीक्षण के क्रम में घाटों की स्थिति पर संतोष व्यक्त किया. कुर्जी एवं एल0सी0टी0 घाट के निरीक्षण के क्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी इसमें और अधिक काम करने की आवश्यकता है. इसमें अभी और जे0सी0बी0 लगाना होगा और तीव्र गति से कार्य कराना जरूरी है. उन्होंने कहा कि कुर्जी घाट के आगे कटाव ज्यादा हो रहा है ऐसा कटाव पिछले वर्ष नहीं था. मुख्यमंत्री ने कहा कि पानी के लेवेल को देखकर घाटों पर बैरिकेटिंग सुनिश्चित करायी जाय. उन्होंनेअधिकारियों को निर्देश दिया कि जहां भी श्रद्धालु भारी संख्या में अर्घ्य देने के लिये आते हैं, उन्हें अर्घ्य देने में असुविधा न हो, इसका पूरा ध्यान रखने की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि छठव्रतियों के अतिरिक्त दूसरे परिवार के श्रद्धालु भी आते हैं, इसके कारण होने वाली भीड़ को देखते हुये आवागमन को दुरूस्त रखना होगा. इस संबंध में भी उन्होंने अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश

Read more

अब घुट घुट कर नहीं जी सकता – तेज प्रताप यादव

पटना (राजेश तिवारी की रिपोर्ट) | शुक्रवार 2 नवंबर को राष्ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू यादव के बड़े पुत्र तेज प्रताप यादव का अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक का मामला कोर्ट तक पहुँच गया.  तेज प्रताप ने तलाक की खबरों को सच बताया. कोर्ट में अपनी पत्‍नी ऐश्‍वर्या से तलाक लेने के लिए अर्जी दायर करने के बाद लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव ने शनिवार को मीडिया से बातचीत की. उन्‍होंने कहा ‘मैंने कोर्ट में तलाक के लिए अर्जी दाखिल की है, मैं घुट-घुटकर जी रहा था, घुट-घुटकर जीने से कोई फायदा नहीं है. बता दें, शुक्रवार देर शाम तेज प्रताप यादव सिविल कोर्ट में तलाक की याचिका दायर की थी. तेज प्रताप यादव ने 13 (1) (1a) हिंदू मैरिज एक्‍ट के तहत तलाक के लिए अर्जी दी है. अर्जी देने के बाद तेज प्रताप यादव अपने पिता से मिलने के लिए रांची रवाना हुए थे लेकिन बार-बार परिवार से फोन आने के बाद उन्होंने रांची जाने का प्रोग्राम रद्द कर दिया था. शुक्रवार रात भर दोनों परिवारों के बीच सुलह की कोशिशें हुई, लेकिन कोई निष्कर्ष नहीं निकला. तेज प्रताप द्वारा तलाक की अर्जी देने के बाद उनकी पत्नी ऐश्वर्या, ससुर चंद्रिका राय और ऐश्वर्या राय की मां, राबड़ी देवी के आवास पर पहुंचे और रात 11 बजे तक वहां रहे. माना जा रहा है कि पूरा परिवार तेज प्रताप यादव को मनाने की कोशिश में जुटा हुआ है लेकिन तेज प्रताप अपने तलाक के फैसले को बदलने के मूड में नहीं दिख रहे हैं. शनिवार को तेज प्रताप यादव

Read more

पुलिस हैं या कि गुंडे, कई राउंड चली गोलियां, SP / DSP को पीटा

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | पुलिस लाइन में आज शुक्रवार को महिला और पुरुष ट्रेनी पुलिसकर्मियों ने अपने पुलिस अधिकारियों के खिलाफ जमकर हंगामा किया. इन सिपाहियों ने डीएसपी मसलाउद्दीन, एसपी सिटी डी अमर केस और एसपी ग्रामीण आनंद कुमार को डंडों से पीटा. इस मारपीट में डीएसपी मसलाउद्दीन को गंभीर चोंटें आई. दरअसल हुआ यह कि पुलिस लाइन में तैनात एक ट्रेनी महिला पुलिस कुछ दिनों से बीमार थी. वह काफी समय से छुट्टी मांग रही थी लेकिन उसे छुट्टी नहीं मिल रही थी. जब उसका स्वास्थ्य अधिक खराब हो गया तो उसे पटना के एक निजी अस्‍पताल में भर्ती कराया गया. शुक्रवार को इलाज के दौरान उस महिला पुलिस की मौत हो गई. इसके बाद तो पुलिसकर्मियों में आक्रोश फूट पड़ा. उन्होंने उच्च पदाधिकारियों पर मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए पुलिस लाइन में जमकर हंगामा किया. वहां खड़े सभी वाहनों में तोड़फोड़ की. फिर सभी पुलिसकर्मी कानून को हाथ में लेकर सड़कों पर उतर आये और पुलिस लाइन के आसपास की दुकानों को जबरदस्ती बंद करवाया और आम लोगों की पिटाई की. इस दौरान दर्जनों गाड़ियों में तोड़फोड़ की गई और कई राउंड हवाई फायरिंग भी की गई. हंगामा करनेवालों में कई महिला पुलिसकर्मी भी शामिल रहीं. आक्रोशित पुलिसकर्मियों द्वारा मीडियाकर्मियों को भी निशाना बनाया गया. कई मीडियकर्मियों की भी पिटाई की गई. इसके बाद जब आम लोग आक्रोशित हो गए तब सभी पुलिसकर्मी पुलिस लाइन में लौट गए. लेकिन उनका हंगामा पुलिस लाइन अंदर काफी देर तक कायम रहा. इस पूरे प्रकरण पर बिहार के

Read more

इंडोनेशिया का प्लेन क्रैश, 188 यात्रियों के मारे जाने की आशंका, प्लेन का एक पायलट भारतीय

विमान जेटी-610 जकार्ता से पंगकल पिनॉन्ग जा रहा था, इसमें 188 लोग सवार थे. सर्च ऑपरेशन के अधिकारियों के अनुसार जावा समुद्र तट के पास विमान के टुकड़े नजर आए हैं प्लेन टेक ऑफ के 13 मिनट बाद ही विमान से संपर्क टूट गया जिसके बाद सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया. इसमें सवार 188 लोगों में 178 लोगों के अलावा 3 बच्चे, 2 पायलट और 5 केबिन क्रू सवार थे. जकार्ता (ब्यूरो रिपोर्ट) | इंडोनेशिया के जकार्ता से पांकल पिनांग शहर जा रहा एक यात्री विमान सोमवार सुबह उड़ान भरने के 13 मिनट बाद ही समुद्र में क्रैश हो गया. बताया जा रहा है कि संपर्क टूटने से पहले पायलट ने प्लेन की वापसी का सिग्नल दिया था. विमान संपर्क टूटने वाली जगह से करीब दो नॉटिकल मील (3.7 किलोमीटर) दूर कारावांग की खाड़ी में क्रैश हुआ. प्लेन के दो पायलटों में से एक पायलट भारतीय था जिसका नाम कैप्टन भव्य सुनेजा था. सुनेजा मूल रूप से दिल्ली के रहने वाले थे. मार्च 2011 में ही वे लॉयन एयर से जुड़े थे. उनके पास विमान उड़ाने का 6000 घंटे का अनुभव था. रिपोर्ट्स के मुताबिक विमान ने जकार्ता एयरपोर्ट से उड़ान भरी थी. विमान सुमात्रा के पिंगकल पिनॉन्ग जा रहा था. उड़ान भरने के 13 मिनट बाद ही विमान का संपर्क कण्ट्रोल रूम से टूट गया था. बताया जा रहा है कि संपर्क टूटने से पहले पायलट ने प्लेन की वापसी का सिग्नल दिया था. लेकिन वापसी की इजाजत मिलने के ठीक बाद एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) का फ्लाइट से संपर्क

Read more

पूर्व सांसद सूरजभान के बेटे आशुतोष का हुआ अंतिम संस्कार

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | पूर्व सांसद सूरजभान व वर्तमान सांसद वीणा देवी के बड़े बेटेआशुतोष सिंह का शव शनिवार शाम छह बजे जेट के विमान से पटना लाया गया. इसके बाद शव को गाड़ी से कंकड़बाग के महात्मा गांधी नगर स्थित आवास पर लाया गया. शव पहुंचते ही आवास पर कोहराम मच गया. शनिवार की देर शाम पूर्व सांसद के बेटे आशुतोष सिंह के पार्थिव शरीर का पटना के दीघा के मीनार घाट पर अंतिम संस्कार कर दिया गया. मुखाग्नि छोटे भाई अमितोष ने दी. हजारों लोगों ने आशुतोष को अंतिम विदाई दी. गौरतलब है सूरजभान सिंह के बेटे आशुतोष सिंह का शनिवार अहले सुबह ग्रेटर नोएडा हाईवे पर एक सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी. दुख की इस घड़ी में पूरा मोकामा बाजार बंद रहा और पटना के कौशल्या स्टेट मार्किट भी बंद रहा. सूरजभान सिंह के बेटे के अंतिम यात्रा में सांसद सीपी ठाकुर, रामा सिंह, पूर्व विधायक सुनील पांडे, मुन्ना शुक्ला सहित बड़ी तादाद में राजनीतिक हस्तियां मौजूद थी.

Read more

पटना एम्स पहुंचे सीएम नीतीश कुमार. हुआ सिटी स्कैन

फुलवारी शरीफ (अजीत यादव की रिपोर्ट) । बुधवार की सुबह आठ बजकर दस मिनट पर बिहार के सीएम नीतीश कुमार अचानक पटना एम्स पहुंच गए. सीएम की तबीयत इधर लगातार खराब रहती है. इसी को लेकर नीतीश कुमार सुबह-सुबह पटना एम्स पहुंचे थे. एम्स में सीएम नीतीश कुमार का रेडियोलॉजी विभाग में स्वास्थ्य परीक्षण किया गया. एम्स से मिली जानकारी के मुताबिक नीतीश कुमार का पटना एम्स में सिटी स्कैन कराया गया. मंगलवार की रात ही हेल्थ चेकअप के लिए सीएम पटना एम्स पहुंचने वाले थे लेकिन अचानक किन्ही कारणवश सीएम का कार्यक्रम कैंसिल हो गया था. सीएम के स्वास्थ्य ठीक नही होने के चलते ही रात का कार्यक्रम टल गया और बुधवार की सुबह सीएम एम्स पहुंचकर स्वास्थ्य जांच कराए. डॉक्टरों की सलाह के बाद स्वास्थ्य जाँच कराकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पौने नौ बजे पटना एम्स से वापस पटना लौट गये. इससे पहले भी 18 सितंबर को भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिल्ली एम्स जाकर अपना चेकअप करवाया था. मुख्यमंत्री के पटना एम्स पहुंचने को लेकर सुबह से ही सुरक्षा इंतजाम कड़े कर दिए गए थे. मुख्यमंत्री पटना एम्स रेडियोलॉजी विभाग में अपना मेडीकल टेस्ट करवाया. एम्स के विभागाध्यक्ष डॉ प्रेम के नेतृत्व में चिकित्सकों की टीम ने मुख्यमंत्री का मेडिकल टेस्ट किया. मुख्यमंत्री का सिटी स्कैन किया गया है. उनका स्वास्थ्य पिछले कुछ दिनों से ख़राब चल रहा है.

Read more

चलने लगी नई स्वचालित सीढ़ियां

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | सोमवार को पटना जंक्शन पर केंद्रीय रेल राज्यमंत्री मनोज कुमार सिन्हा ने दो एस्केलेटरों का फीता काटकर उदघाटन किया. इसके साथ ही अब पटना जंक्शन पर एस्केलेटरों की संख्या तीन हो गयी है. इस अवसर पर केंद्रीय रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने अमृतसर में हुए दर्दनाक ट्रेन हादसे पर सिद्धू की पत्नी के बयान पर कहा कि मेरा मानना है कि अमृतसर पुलिस आयुक्त का बयान पंजाब सरकार का एक अधिकृत बयान होना चाहिए. रेलवे ने इस कार्यक्रम के बारे में कोई अनुमति नहीं दी थी. नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी ने कहा था कि ‘रेलवे अपनी जिम्मेदारी से नहीं हट सकता.’ मनोज सिन्हा ने बिहार में कई रेलवे की कई परियोजनाओं का शुभारंभ भी किया. उनके अनुसार बिहार के कई रेलवे स्टेशनों को वाइ-फाइ से जोड़ा जाएगा. इस मौके पर उन्होंने कहा कि बिहार में रेल सुविधाएं बढ़ी हैं. इसके बाद रेल राज्य मंत्री लखीसराय पहुंचे. इस अवसर पर उन्होंने जिले के बड़हिया और किऊल स्टेशनों पर यात्री सुविधा के विस्तार को लेकर कुल 13.99 करोड़ रुपये की रेलवे योजनाओं का शिलान्यास किया. उनके साथ केंद्रीय लघु, सूक्ष्म एवं मध्यम उद्योग राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) गिरिराज सिंह एवं सांसद, मुंगेर वीणा देवी भी मौजूद थे. रेल मंत्री ने इस दौरान बड़हिया में प्लेटफॉर्म विस्तारीकरण, बाढ़ और हथिदह स्टेशन पर फुट ओवरब्रिज निर्माण, पटना-झाझा रेलखंड के विभिन्न हॉल्ट पर यात्री सुविधा के विस्तार की योजनाओं का शिलान्यास किया.जबकि किऊल स्टेशन पर आयोजित कार्यक्रम में वंशीपुर एवं मनकठा स्टेशन पर ऊपरी पैदल पुल निर्माण का शिलान्यास किया. इस

Read more

थावे – जब भक्त की पुकार पर पहुंची थी भवानी

गोपालगंज (अजित की रिपोर्ट) | जिला मुख्यालय से करीब छह किलोमीटर दूर सिवान जाने वाले मार्ग पर थावे नामक एक स्थान है. यहां मां थावेवाली का एक प्राचीन मंदिर है. मां थावेवाली को सिंहासिनी भवानी, थावे भवानी और रहषु भवानी के नाम से भी भक्तजन पुकारते हैं. ऐसे तो साल भर यहा मां के भक्त आते हैं, परंतु शारदीय नवरात्र और चैत्र नवारात्र के समय यहां श्रद्धालुओं की भारी भीड़ लगती है. मान्यता है कि यहां मां अपने भक्त रहषु के बुलावे पर असम के कमाख्या स्थान से चलकर यहां पहुंची थीं. कहा जाता है कि मां कमाख्या से चलकर कोलकाता (काली के रूप में दक्षिणेश्वर में प्रतिष्ठित), पटना (यहां मां पटन देवी के नाम से जानी गई), आमी (छपरा जिला में मां दुर्गा का एक प्रसिद्ध स्थान) होते हुए थावे पहुंची थीं और रहषु के मस्तक को विभाजित करते हुए साक्षात दर्शन दिए थे. देश की 52 शक्तिपीठों में से एक इस मंदिर के पीछे एक प्राचीन कहानी है. जनश्रुतियों के मुताबिक राजा मनन सिंह हथुआ के राजा थे. वे अपने आपको मां दुर्गा का सबसे बड़ा भक्त मानते थे. गर्व होने के कारण अपने सामने वे किसी को भी मां का भक्त नहीं मानते थे. इसी क्रम में राज्य में अकाल पड़ गया और लोग खाने को तरसने लगे. थावे में कमाख्या देवी मां का एक सच्चा भक्त रहषु रहता था. कथा के अनुसार रहषु मां की कृपा से दिन में घास काटता और रात को उसी से अन्न निकल जाता था, जिस कारण वहां के लोगों को अन्न मिलने

Read more

“माता पिता की सेवा से बढ़कर कुछ भी नहीं” – मृदुराज फाउंडेशन का प्रतिभा सम्मान समारोह 2018

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | “माता पिता की सेवा से बढ़कर कुछ भी नहीं, वे लोग खुशनसीब हैं जिन्हें माता-पिता की छत्रछाया में पुष्पित व पल्लवित होने का मौका मिलता है” – ये बातें जनता दल यूनाइटेड बिहार प्रदेश के अध्यक्ष व सांसद वशिष्ठ नारायण सिंह ने पटना के अनिसाबाद स्थित चित्रगुप्त समाज के सभागार में आयोजित मृदुराज प्रतिभा सम्मान समारोह 2018 में अपने उद्घाटन भाषण में कही. इससे पहले मुख्य अतिथि वशिष्ठ नारायण सिंह, जदयू प्रवक्ता, राजीव रंजन प्रसाद, चित्रगुप्त समाज के महासचिव, अजय वर्मा, एवं अन्य विशिष्ट अतिथियों ने, स्वर्गीय मृदुला सिन्हा व स्वर्गीय राजकिशोर प्रसाद के तैल चित्र पर, पुष्पांजलि अर्पित कर अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की. मृदुराज फाउंडेशन द्वारा लगातार तीसरे वर्ष समाज में छिपी प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया. इस क्रम में इस वर्ष राजनीति से इम्तियाज अहमद अंसारी, पत्रकारिता के क्षेत्र से, रूपेश कुमार एवं, दीपक श्रीवास्तव, संगीत में, सत्येंद्र कुमार, खेल के क्षेत्र से, सुश्री माव्या वर्मा, शिक्षा के क्षेत्र से, सुनीता देवी, चिकित्सा से, मणि भूषण कुमार को, उनके उल्लेखनीय योगदान के लिए सम्मानित किया गया. मृदुराज फाउं डेशन के अध्यक्ष, राजीव रंजन ने बताया कि संस्था लगातार तीसरे वर्ष, समाज के विभिन्न क्षेत्रों से उल्लेखनीय योगदानकर्ताओं को सम्मानित करने का काम कर रही है. उन्होंने कहा कि संस्था के प्रेरणा स्रोत उनकी माता स्वर्गीय मृदुला सिन्हा एवं पिता स्वर्गीय राज किशोर प्रसाद की मृत्यु, एक सड़क दुर्घटना में एक साथ हो गई थी. वे दोनों सरकारी सेवा में थे. सरकारी सेवा में रहते हुए भी, उनदोनों ने समाज के हर काम मे बढ़-चढ़

Read more

ये क्या ? प्यार की सजा.. टुकड़े-टुकड़े काट देंगे !

मुख्यमंत्री व प्रधानमंत्री से वीडियो के जरिये मदद के लिए की गुहार Patna now Special report बचपन से आपने और हमने सुना है जीवन में प्रेम ही सब कुछ होता है लेकिन जब यह प्रेम अपनों के बीच सामने आता है तो यह शिक्षा टाय टाय फिस्स हो जाती है. जिगर मुरादाबादी ने एक शेर लिखा था-“ये इश्क़ नहीं आसाँ इतना ही समझ लीजे, इक आग का दरिया है और डूब के जाना है.” इश्क के इसी आग में डूब कर पार करने का निर्णय ले चुके झारखंड के दो प्रेमियों संजय और निखत को यह आग का दरिया उनके जीवन के लिए आफत बन गया है. एक दूसरे को बेइन्तहाँ प्यार करने वाले संजय और निखत ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट कर सबको चौंका दिया है कि शादी के बाद लड़की के परिवार वाले दोनों को मारने की धमकी दे रहे हैं. सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो वायरल है जिसमें दो प्रेमी युगल मुख्यमंत्री रघुवर दास और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपनी जान की हिफाजत के लिए अपील करते दिख रहा है. वीडियो में झारखंड के रामगढ़ जिले के भुरकुंडा निवासी संजय कुमार और निखत परवीन लोगों से यह अपील कर रहे हैं कि उनके प्यार को लेकर उनके परिवारों के बीच में तकरार है. निखत प्रवीण के अनुसार उसके पिता हबीब खान, जीजा फिरोज खान और और मामा मेराज खान उसके जान के दुश्मन बन गए है. वीडियो में वह बताती है कि वह संजय से बेहद प्यार करती है. वे एक दूसरे को हद

Read more