नागचंद्रेश्वर मंदिर, उज्जैन से साल में सिर्फ एक बार होने वाला प्रसारण देखें

आज श्रावण मॉस की शुक्ल पंचमी अर्थात नागपंचमी है. उज्जैन स्थित नागचंद्रेश्वर मंदिर साल में सिर्फ एक दिन नागपंचमी (श्रावण शुक्ल पंचमी) पर ही दर्शनों के लिए खोला जाता है. ऐसी मान्यता है कि नागराज तक्षक स्वयं मंदिर में रहते हैं. नीचे दिये गए लिंक पर क्लिक का देखें उज्जैन से नागचंद्रेश्वर का लाइव विडियो…. नागचंद्रेश्वर मंदिर, उज्जैन से साल में सिर्फ एक बार यहाँ प्रसारण देखें      http://117.240.185.24/fb.html

Read more

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ससुर का देहांत

पटना (राजेश तिवारी की रिपोर्ट) | बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ससुर कृष्णनंदन प्रसाद सिन्हा का सोमवार को पटना के कंकड़बाग स्थित उनके आवास पर निधन हो गया. वे 90 वर्ष के थे तथा एक शिक्षक थे. स्वर्गीय कृष्णनंदन प्रसाद सिन्हा का जीवन सादगीभरा था जिसकी मिसाल समाज पेश की जाती रही थी. सीएम के बेटे ने दिया स्वर्गीय कृष्णनंदन प्रसाद सिन्हा को कंधा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपने बेटे निशांत के साथ कंकडबाग स्थित अपने ससुराल जाकर अपने ससुर की शव यात्रा में हिस्सा लिया. उनके बेटे निशांत ने शवयात्रा में अपने दिवंगत नाना को कंधा दिया. उनका दाह संस्कार पटना के बांस घाट पर सम्पन्न हुआ. पत्नी मंजू सिन्हा का निधन 2007 में बता दें कि नीतीश कुमार की पत्नी मंजू सिन्हा का निधन 2007 में हुआ था. उनकी पत्नी पटना में अध्यापिका थीं जो अपने पति नीतीश कुमार के नौकरी छोड़कर राजनीति में सक्रीय होने के फैसले से खुश नहीं थीं. उनके ससुर कृष्णनंदन प्रसाद सिन्हा भी ऐसा नहीं चाहते थे. इस कारण पति-पत्नी दोनों तलाक नहीं लेते हुए अलग-अलग रहने लगे थे. कृष्णनंदन प्रसाद सिन्हा ने एक बार कहा था कि वो अपनी बेटी की शादी एक इंजीनियर से की थी, लेकिन वह नेता हो गया. शवयात्रा मे मंत्री और आला अफसर मौजूद थे कृष्णनंदन प्रसाद सिन्हा की शवयात्रा मे बिहार सरकार के आला अफसर एवं कई मंत्री शामिल थे जिसमें श्रवण कुमार, रणवीर नंदन आदि सम्मिलित थे.

Read more

आरा शहर की सड़कें बेहाल, मंत्री ने कहा सभी सड़कें मैं नहीं बनाता

आरा (ओम प्रकाश पाण्डेय की रिपोर्ट) | बिहार में जहाँ तरक्की की कहानी गढ़ नीतीश कुमार ने अपना चेहरा विकास कुमार का बनाया है, उसमें मुख्य भूमिका निभाई है उनके सरकार में बनाई गई सड़कें.  बहरहाल सड़कें भी अच्छी बनी दिख रही थीं मगर इन अच्छी बनी सड़को में गुणवत्ता की पोल अब खुलने लगी है जब बिहार में बारिश ने अपने पाँव जमाये है …. गड्ढे और उनमें जमा पानी किसी को भी गिराने या कहे कि उसे गंदा करने के लिए काफी हैं. बिहार सरकार के पथ निर्माण मंत्री नन्द किशोर यादव ने कहा कि बिहार सरकार इस मामले पर बहुत सख़्त है और अगर ऐसा है तो इसपे निश्चित ही कार्यवाही होगी, लेकिन आश्चर्य तब हुआ जब उन्होंने कहा कि बिहार की सारी सड़के मैं नही बनाता. उन्होंने कहा कि मैं सिर्फ पथ निर्माण विभाग से जुड़ी सड़के ही बनाता हूँ और मामला भी यही है कि NH (नेशनल हाईवे) की सड़कें नहीं बल्कि SH (स्टेट हाईवे) की स्तिथि ही जर्जर होना शुरू हो चुकी है. जब सड़कें दिखा सरकार अपनी पीठ थपथपा रही होती है तो आम जनता को लगता है कि सरकार ही सारी सड़कें बना रही है. इससे आम जनता को क्या मतलब कि कौन SH है और कौन NH. ‌मंत्री जी ने ये आश्वस्त किया कि कही भी सड़कें टूटी हुई या कही भी सड़क में गड्ढे दिखाई दे, आप हमें बताए, हम किसी भी कीमत पर गुणवत्ता में कोई समझौता नहीं करेंगे और संबंधित लोगों पर कड़ी कार्यवाई करेंगे. ‌‌https://youtu.be/XMepqnLC5Ys

Read more

फतुहा में हत्या….

फतुहा/पटना (अरुण कुमार की रिपोर्ट) | राजधानी पटना के फतुहा थाना क्षेत्र के स्टेशन रोड में आज देर शाम हथियारबंद अपराधियों ने कपड़े के दुकान के कर्मचारी को गोली मार दी. गंभीर हालत में घायल युवक को इलाज के लिए पीएमसीएच भेजा गया जहां इलाज के दौरान डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. मृतक की पहचान फतुहा के रायपुरा निवासी रौशन कुमार के रूप में की गई है. स्थानीय लोगों द्वारा घटना की जानकारी पुलिस को दिए जाने के बाद पुलिस मौके पर पहुंचकर पूरे मामले की छानबीन में जुट गई है. बताया जाता है कि रौशन कुमार फतुहा के स्टेशन रोड स्थित एक कपड़े की दुकान में काम करता था. अपराधी खरीदार बनकर दुकान में आए थे. खरीदारी को लेकर पैसे का विवाद होने पर रौशन और उनके बीच नोकझोंक हो गई. इसी दौरान अपराधियों ने रौशन पर गोली चला दी जिससे रौशन की मौत हो गई. घटना के पीछे प्रथमदृष्टया  प्रेम प्रसंग का मामला सामने आया है. हालांकि, प्रेम प्रसंग में मृत युवक सीधे तौर पर शामिल नहीं था. युवक अपनी मां के साथ ननिहाल दरियापुर में रहता था. तीन दिन पूर्व मृत युवक का मामा राहुल कुमार उर्फ चटनिया मुहल्ले के ही युवती को लेकर फरार हो गया था. इस मामले में युवती के परिजनों ने थाने में प्राथमिकी भी दर्ज करायी थी. पुलिस युवक के मामा व युवती की बरामदगी के लिए उसके नाना व नानी को हिरासत में लेकर पूछताछ कर ही रही थी कि इसी बीच बदमाशों ने रोशन कुमार की गोली मार कर

Read more

सना के लिए दुआओं का दौर चालू, आप भी करें दुआ..

मुंगेर (ब्यूरो रिपोर्ट) | जैसा कि विदित है मंगलवार शाम करीब 4 बजे सना नाम की 3 साल की बच्ची अपने नाना के घर में खुद रहे 100 फीट गहरे बोरवेल में खेलते खेलते जा गिरी. तब से उस बच्ची को बोरवेल से सकुशल बाहर निकालने के लिए लगातार कोशिशें जारी हैं. जिला प्रशासन अपनी पूरी कोशिश कर रही है. मुंगेर शहर के मुर्गियाचक निवासी उमेश नंदन प्रसाद साव के घर 7 दिनों पहले उसकी नतिनी सना अपनी माँ के साथ आई थी. उमेश नंदन के घर में सबमरसेबुल बोरिंग लगाने का काम चल रहा था. मंगलवार की दोपहर सबमरसेबुल के लिए किये गये बोरिंग में केसिन डाल कर ग्रेबुल डाला जा रहा था. बोरवेल के खुले मुंह से कुछ फीट की दूरी से पूरा परिवार बोरिंग की प्रक्रिया को देख रहा था. इसी दौरान सना खेलते हुए आयी और फिसल कर केसिन के बगल से बोरिंग में गिर गयी. SDRF की टीम प्रयासरत है. सुबह खबर लिखे जाने तक बच्ची बोरवेल में फंसी हुई थी. JCB से भी सना को लिकालने की कोशिशें की गई परन्तु अभी तक सफलता नहीं मिली है. बोरवेल के भीतर ऑक्सीजन की सप्लाई दी जा रही है.  सुबह 7 बजे खबर लिखने तक बच्ची को बोरिंग से बाहर निकालने के लिए रेशक्यू ऑपरेशन जारी है. डॉ० सीसीटीवी फुटेज के आधार पर बोरवेल में फंसी बच्ची के पल-पल की गतिविधियों की मोनिटरिंग कर रहे हैं और उनके मुताबिक बच्ची सुरक्षित है. लोगों का सना के लिए मन्नतों का दौर जारी है. आप भी सना के

Read more

दुष्कर्म के प्रयास की ताजा वारदात का वीडियो वायरल

मधुबनी/पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | अभी दुष्कर्म का एक मामला शांत होता नहीं है कि दुसरा सामने आ जाता है. फिर से एक दुष्कर्म के प्रयास की ताजा वारदात का वीडियो वायरल हुआ है और यह वीडियो आरोपियों ने खुद वायरल किया हैं. वायरल विडिओ फुटेज में पीड़ित बच्ची अपनी इज्जत को बचाने के लिए बार बार गुहार लगा रही हैं, कह रही है कि भैया मुझे जाने दो…लेकिन वहसी दरिंदें उसकी अश्लील वीडियो बनाने में लगे रहे. 20 जुलाई को हुई यह घटना मधुबनी जिले के भैरवस्थान थाने की हैं. वहां एक नाबालिग बच्ची के साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया गया. बताया जाता हैं कि बच्ची आम के बगीचे में अपनी माँ को खाना देने जा रही थी कि अचानक आरोपियों के द्वारा उसे घेर कर उसके साथ जबरदस्ती करने की कोशिश की गई. जब वे अपने मकसद में कामयाब नहीं हुए तो चीखती बच्ची के साथ अश्लील हरकत करने लगे और उसका विडियो बनाते रहे…एक आरोपी का नाम किशुन पासवान है तो दुसरे का अजित पासवान. यह मामला लोगों को तब पता चला जब आरोपियों के द्वारा छेड़खानी का यह वीडियो वायरल कर दिया गया. वीडियो वायरल होने के बाद नाबालिग लड़की ने थाने में मामला दर्ज कराया. जिसके बाद पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

Read more

क्यों मन्नतें पूरी करते हैं नालंदा के लंगोट बाबा

बिहारशरीफ/पटना (ब्यूरो रिपोर्ट)। बिहारशरीफ शहर के अखाड़ा में महान संत बाबा मणिराम की समाधि है. यह देश का अकेला ऐसा स्थल है जहां लोग आकर लंगोट चढ़ाते हैं और पूजा कर मन्नतें माँगते है. सूफी संतों की धरती कही जाने वाली बिहारशरीफ की धरती और यहां के बाबा मणिराम की समाधि काफी प्रसिद्ध है. लंगोट अर्पण मेले की खासियत यह है कि मेले की शुरुआत सबसे पहले जिला प्रशासन द्वारा लंगोट अर्पण कर की जाती है. लंगोट अर्पण मेले के पीछे की कहानी 1248 ई. में बाबा मणिराम हरिद्वार से बिहारशरीफ आए और शहर के दक्षिणी छोर पर स्थित पिसत्ता घाट जिसे आज बाबा मणिराम अखाड़ा के नाम से जाना जाता है, पर डेरा डाला था. सनातन धर्म के प्रचार-प्रसार के साथ-साथ उन्होंने स्वच्छ मन के लिए स्वच्छ तन जरूरी है का उपदेश दिया था. इसके लिए एक अखाड़ा बनवाया जो आज भी मौजूद है. लोग यहां मल्लयुद्ध करते थे. खुद बाबा भी बहुत बड़े मल्लयुद्ध योद्धा थे. सन 1300 ईस्वी में बाबा ने समाधि ली थी. बाद में इनके चार शिष्यों में से दो अयोध्या निवासी राजा प्रह्लाद सिंह और वीरभद्र सिंह तथा दो अन्य बिहारशरीफ के कल्लड़ मोदी और गूही खलीफा ने भी समाधि ली थी. यहां मां तारा मंदिर, सूर्य मंदिर तालाब और यज्ञशाला, शिवालय सहित प्राचीन मूर्तियां मौजूद है. यहां के शिवालय का महत्व इस कारण काफी है कि वहां एक ही मंदिर में एक साथ चार शिवलिंग स्थापित है. मांगलिक कार्यों लिए बाबा मणिराम अखाड़ा काफी प्रसिद्ध है. कब शुरू हुआ लंगोट चढ़ाने का प्रचालन

Read more

लगोरी यानि पिट्टो प्रतियोगिता का शुभारम्भ

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) : हमारे समाज का एक मृतप्राय लेकिन अति प्राचीन खेल है लगोरी जिसे हम स्थानीय भाषा में पिट्टो भी कहते हैं. बिहार के इतिहास में पहली बार “लगोरी प्रतियोगिता” का आयोजन Enovation के बैनर तले पटना के गर्दनीबाग स्थित संजय गाँधी स्टेडियम में शुक्रवार को आरंभ हुआ. कुछ दिनों पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस प्राचीन व् मृतप्राय खेल लगोरी पर अपने मनप्रसिद्ध प्रोग्राम “मन की बात” में चर्चा की थी. उन्होंने इस खेल को पुनः जीवित करने की बात की थी. गौरतलब है कि लगोरी अर्थात पिट्टो एक रोमांचक और स्वास्थ्यबर्धक खेल है जिसे हर हाल में पुनर्जीवित करने कि आवश्यकता है – इसी सकारात्मक सन्देश के साथ शुक्रवार दिनांक 27 जुलाई को “लगोरी प्रतियोगिता” का सफल शुभारम्भ हो गया. यह प्रतियोगिता करीब एक महीने तक चलेगा. Enovation के निदेशक राहुल वर्मा ने बताया कि इस खेल में पटना व आसपास के करीब 200 स्कूल भाग ले रहे हैं तथा इस प्रतियोगिता के ब्रांड-अम्बेसडर आकाश सुलभ हैं. Enovation ने बिहार पब्लिक स्कूल एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ० डी के सिंह को आज ही अपना चेयरमैन घोषित किया. इस कार्यक्रम का उद्घाटन बिहार पब्लिक स्कूल एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ० डी के सिंह, ने किया. इस मौके पर प्रतियोगिता के ब्रांड अम्बेसडर आकाश सुलभ, शैलजा वर्मा, डॉ राकेश राजहंस, सुनील कुमार झा (अधिवक्ता, पटना उच्च न्यायालय), हरेश कुमार सिंह, रणजीत कुमार श्रीवास्तव आदि मौजूद रहें. सबों ने इस प्रतियोगिता की मुक्त कंठ से प्रशंसा की तथा इस प्राचीन खेल लगोरी अर्थात पिट्टो

Read more

EXCLUSIVE : NIOS से D El Ed कर रहे‌ शिक्षकों के लिए जरूरी सूचना

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | अगर आप भी राष्ट्रीय मुक्त विद्यालय शिक्षा संस्थान यानी एनआईओएस से डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन कर रहे हैं तो यह खबर आपके ही काम की है. वर्ष 2017-19 सत्र में पहले तीन पेपर 501, 502, 503 की परीक्षा देने के बाद रिजल्ट का इंतजार कर रहे शिक्षकों के लिए ब्रेकिंग खबर यही है कि उनका रिजल्ट 31 जुलाई से 4 अगस्त के बीच आएगा. यह भी पढ़ें https://goo.gl/b7noPD यही नहीं, कई अन्य जानकारियां भी पटना नाउ डॉट कॉम के पास हैं जो हम आज आपको बताने जा रहे हैं. पटना नाउ से एक्सक्लूसिव बातचीत में एनआईओएस के चेयरमैन प्रोफेसर सीबी शर्मा ने कहा कि पहले 3 पेपर की परीक्षा का रिजल्ट आने के बाद सितंबर महीने में ही 504 और 505 पेपर की परीक्षा ले ली जाएगी और इसके साथ ही सभी वर्कशॉप और क्लासेस फरवरी माह तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है. इसके अलावा मार्च 2019 में सभी पेपर की परीक्षा होगी. अगर कोई अभ्यर्थी अपने पहले प्रयास में असफल हो जाता है और किसी भी पेपर की परीक्षा दूसरी बार देना चाहता है तो मार्च में होने वाली परीक्षा में फिर से शामिल हो सकता है. लेकिन यह याद रहे कि मार्च में आखिरी मौका मिलेगा. उसके बाद इस सत्र के शिक्षकों के लिए आगे कोई मौका नहीं होगा. सी बी शर्मा ने यह भी कहा कि 31 मार्च तक सारी परीक्षाएं पूरी कर ली जाएंगी रिजल्ट भले ही अप्रैल या मई के महीने में आए. देखें प्रोफेसर ने क्या कहा  

Read more

सीमा तक छोड़ते हैं जिन्हें “बाबू कुँवर”, वे अब ‘भोजपुर’ छोड़ चले

कहा- देशभक्ति और ईमानदारी में है अथाह ताकत विदाई देने के लिए दिनभर लगा है लोगों का तांता शख्सियत लाइव रिपोर्टिंग Patna Now Exclusive “मैं जब कोईलवर या सहार का ब्रिज पार करता हूँ तब मुझे रौबदार मूछें और लाल आँखों के साथ विशालकाय रूप में घोड़े पर सवार भोजपुर के गौरव वीर बाँकुड़ा बाबू कुँवर सिंह छोड़ने आते हैं. शाहाबाद क्षेत्र के हर कोने तक वो मेरे साथ कई बार मेरी ऊँची उड़ानों में सफर कर चुके हैं “- उक्त बातें 5 बिहार बटालियन के कमान अधिकारी कर्नल बिनोद जोशी बता रहे थे. मैं ये बातें सुनकर स्तब्ध था और पूरी काल्पनिक बातें तो लग ही रही थी लेकिन थोड़ा डर भी लग रहा था कि दिमागी रूप से कर्नल साहब अच्छे इंसान हैं. लेकिन उनकी बातें सुनते ही मुझे स्वदेश दीपक लिखित ‘कोर्ट-मार्शल’ के किरदार कर्नल सूरत सिंह सामने दिखने लगे जो कोर्ट रूम के कमरे में फैसले की घड़ी में धैर्य का परिचय अपने दादा-दादी के बताये किस्से और युद्धभूमि में उनके तेवर को बतला मौत को कन्फ्रन्ट करने के बारे में पूछते नजर आते हैं. दरअसल उनका कड़क मिजाज उनके सच्चे व्यक्तित्व की पहचान है. ठीक वही मिजाज में मेरे सामने विनोद जोशी नजर आ रहे थे.वे कुँवर सिंह के बारे में हर पहलू पर बात कर रहे थे, उन्होंने कहा कि कुँवर सिंह की आदमकद मूर्ति की आंखों और वैसी ही एक विशालकाय पेंटिंग जो दानापुर रेजिमेंट के मेस में है, को पढ़ने में 40 मिनट लग गए. दरअसल पटना नाउ की टीम उनसे मिलने

Read more