समस्याएं बहुत हैं, क्या-क्या बताऊं | गांव से बाहर जा नहीं पा रहे हैं

भोजपुर/आरा (ब्यूरो रिपोर्ट) | जनसमस्या समाधान केन्द्र (24×7 हेल्पलाईन) बबुरा के निदेशक डा० अनिल कुमार सिंह “अनल” ने बाढ़ पीड़ित बडहरा क्षेत्र का भ्रमण अपनी टीम के साथ किया. कई गांवों , टोलों तक पहुंचने का कोई साधन नहीं था परन्तु प्रशासन द्वारा तुरंत नावें उपलब्ध कराई गई. डा० सिंह द्वारा जब लोगो से उनकी समस्याओं के सम्बंधित जानकारी लिया तो लोगों ने बताया कि समस्याएं बहुत हैं, क्या-क्या बताऊं. गांव से बाहर जा नहीं पा रहे हैं. बाढ की स्थिती के कारण सारा कारोबार ठप्प है. भोजन की समस्या के अलावा, बिमारी की समस्या भी मुंह बाये खडी है. इधर बाढ पीडित लोग सरकार से तत्कालिक सहायता की आशा कर रहे हैं पर उन्हे अभी तक किसी प्रकार की सहायता नहीं मिली है. किसानों की हजारों हेक्टेयर कृषी भूमि जलमग्न होने के कारण उनका भारी नुक्सान तो हुआ ही हैं साथ में आने वाले समय में कोई फसल‌ नहीं होने के कारण उन्हे अत्यधिक आर्थिक विपन्नता का सामना करना पडेगा. डा० अनिल कुमार सिंह “अनल” द्वारा सभी की समस्याओं का पूर्णत: निराकरण कराने का आस्वासन दिया गया.

लगभग सभी पंचायतों के सैकडों बाढ पीडित ऐसे हैं जिनका नाम प्रशासन द्वारा जारी लिस्ट में नही है, डा० अनल द्वारा उनके नाम को भी शामिल करने के लिये प्रशासन से उचित संशोधन करने के लिये आग्रह किया गया और यह आस्वासन दिया गया कि वह सम्पूर्ण भोजपुर के किसानों और आम जनता की हक की आवाज उठाने के लिये तत्पर हैं.




प्रशासन के कदमों की तत्परता की बात भी लोगों को समझाते हुये कहा कि प्रशासन अपनी पूरी प्रक्रिया पूरी कर के ही कदम उठाता है जिससे विलम्ब हो जाता है, साथ ही जिला प्रशासन से आग्रह किया कि तत्काल राहत की जरूरत है. भोजपुर के सभी गंगा तटिय क्षेत्रों को तुरंत बाढपीडित घोषित कर उचित कार्यवाही करें. साथ ही जनता से वादा किया कि वह मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री को जल्द ही ई-मेल पर हालात से अवगत करवाते हुये भोजपुर जिले के बाढपीडित क्षेत्रों के लिये विशेष पैकेज की मांग करेंगे. उन्होंने राज्य सरकार और केंद्र सरकार से भोजपुर को बाढ आपदा पीडित घोषित करने और विशेष आर्थिक पैकेज देने की मांग की.

जन समस्या समाधान केंद्र बबुरा बाढ और जनता की समस्याओं पर नजर रखे हुये है राहत न मिलने पर एक प्रतिनिधिमंडल शीघ्र ही प्रशासनिक अधिकारियों से उचित कार्यवाही हेतु मिल कर आग्रह करेगा.