उर्दू के प्रसिद्ध लेखक अली जावेद का निधन

देश के संस्कृतिकर्मियों में शोक की लहर

प्रगतिशील लेखक संघ के कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष और उर्दू के प्रसिद्ध लेखक अली जावेद का मंगलवार आधी रात को दिल्ली के जीबी पंत अस्पताल में निधन हो गया। वे 68 साल के थे । उनके निधन पर देश भर के साहित्यकारों में गहरा शोक है ।संस्कृतिकर्मियों तथा लेखक संगठनों ने गहरा शोक व्यक्त किया है और सांप्रदायिकता तथा फ़ासीवाद के ख़िलाफ़ लड़ाई में उनके योगदान को याद किया है।




स्व. अली जावेद

जनवादी लेखक संघ (जलेस) की ओर से जारी संदेश में कहा गया है कि इस कठिन समय में साथी अली जावेद का जाना देश के लोगों के लिए एक सदमा लगा है । हाल ही में वो ब्रेन हैमरेज के शिकार हुए थे 13 अगस्त को उन्हें ब्रेन हैमरेज हुआ था । बाद में उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां उन्होंने मंगलवार की देर रात सांस ली।

दिल्ली विश्वविद्यालय के उर्दू विभाग से सेवानिवृत्त प्रो. अली जावेद ने जे एन यू से एमए और पीएचडी की उपाधि ली थी। इन दिनों वे प्रगतिशील लेखक संघ के कार्यकारी अध्यक्ष थे और इससे पहले उसके महासचिव रहे। 2012 से 2016 तक वे अफ्रीकन एण्ड एशियन राइटर्स यूनियन के भी अध्यक्ष रहे।