उपमुख्यमंत्री ने 15 दिनों के भीतर मांगी 14 जर्जर सड़कों की सूची

सर्वेक्षण कर प्राथमिकता के आधार पर होगी सूची तैयार, फिर शुरू होगा निर्माण Impact of Patna Now आरा,29 मई. नगर निगम बनने के बाद भी आरा की जर्जर सड़कों को देखने के बाद ऐसा लगता है कि हम किसी गाँव मे भी नही हैं. शहर में रहने के बाद भी लगता है जैसे किसी नरक में ही निवास कर रहे हैं. “पटना नाउ” ने गोढना रोड के नरकीय स्थिति को नर्कलोक का प्रवेश द्वार से खबर प्रकाशित कर शहर के नारकीय स्थिति की वास्तविकता को सरकार और प्रशासन के सामने ला उनको, उनके विकास का आइना दिखाया था. “पटना नाउ” की खबर के बाद उसका असर देखने को मिला है. यह असर शुक्रवार को हुई उपमुख्यमंत्री के आवास पर हुई बैठक के बाद देखने को मिला है. भोजपुर मुख्यालय आरा की इस दुर्दशा पर संज्ञान लेते हुए उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने विभाग के सचिवों को फटकार लगाते हुए सर्वेक्षण कर जर्जर सड़कों की सूची के लिए 15 दिनों का समय मुक़र्रर किया है. नगर विकास सह उप मुख्यमंत्री ने भोजपुर मुख्यालय के 14 जर्जर पथों पर संज्ञान लेते हुए पथ निर्माण विभाग एवं नगर विकास विभाग के सचिव को 15 दिनों का अल्टीमेटम दिया है. उन्होंने आदेश जारी कर कहा दोनों विभागों के स्थानीय मुख्य अभियंता इन जर्जर पथों का सर्वेक्षण 15 दिनों के अंदर प्राथमिकता के आधार पर कर सूची तैयार करने को कहा है. बिहार के उप मुख्यमंत्री सह नगर विकास मंत्री तारकेश्वर प्रसाद की अध्यक्षता में आरा नगर के जर्जर पथों की मरम्मत एवं निर्माण को लेकर

Read more