साहिर के गीतों से गुलजार रहा अनशनस्थल

पटना नाउ फॉलोअप- अनशन का 5वां दिनहौसलों से बुलंद अनशनकारी छात्र“हमी को नज्मे-गुलिस्ता पे इख्तियार नहीं” आरा,7 मार्च(सत्य प्रकाश सिंह). VKSU की भूमि पर मेडिकल कॉलेज बनाने को लेकर छात्रों द्वारा जारी भूख हड़ताल आज पांचवे दिन भी जारी रहा. छात्रों से मिलने समाजसेवी,शिक्षकों और साहित्यकारों का ताँता दिनभर जारी रहा. अनशनकारी छात्रों का हौसला बढ़ाने के लिए आज युवा संस्कृतिकर्मियों ने भी शिरकत किया. शहर के युवा गीतकार सिद्धार्थ वल्लभ ने किसी को उदास देखकर व ये किसका लहू है, संस्कृतिकर्मी खुशबू स्पृहा ने परछाईयाँ व रद्दे अमल, रंगकर्मी,निर्देशक व पत्रकार ओ पी पांडेय ने तुमने कितने सपने देखे व रात के राही थक मत जाना और साहित्यकार रवि प्रकाश सूरज ने मौत कभी भी मिल सकती है गाकर साहिर की जन्मशती पर उन्हें याद किया. काव्यपाठ के बाद सभी ने विवि की जमीन पर सरकार के लिए गलत फैसले के प्रति कड़ा रोष प्रगट किया. इससे पहले आज दिन में नगर की महापौर रूबी तिवारी, नगर के माले नेता कयामुद्दीन, राजद नेता रघुबर चंद्रवंशी ने धरनास्थल पर आकर अनशनकारी छात्रों का हौसला बढ़ाया. धरने पर बैठने वाले शिक्षकों में अमरेंद्र नारायण भारत और प्रो विजय सिंह प्रमुख थे. अनशन पर आज साथ देने वालों छात्रों में पूर्व छात्र नेता प्रकाश सिंह, अमित सिंह गौतम,पवन सत्यार्थी, रवि प्रकाश,मनमीत ओझा,चंदन ओझा,रविश बाबू, अमरजीत बिहारी,नारायण जी,दुर्गेश कुमार,मंगलमय जी,आशुतोष ओझा, प्रिया कुमारी,सोनाली कुमारी प्रमुख रहे.

Read more