तीन बेहतरीन पंडाल और मूर्तिकारों का होगा सम्मान

अपनी खास पहचान, नई शुरुआत और लोगों के उत्साहवर्धन के लिए मशहूर पटना डीएम संजय कुमार अग्रवाल ने एक और नई पहल की है. पटना में इस साल नवरात्र के मौके पर उन्होंने घोषणा की है कि तीन सबसे अच्छे मूर्तिकार और सर्वश्रेष्ठ पंडालों का चुनाव कर उन्हें सम्मानित किया जाएगा. यानि अब किसी मूर्ति का मूर्तिकार कौन है, ये सस्पेंस अब नहीं रहेगा. डीएम संजय कुमार अग्रवाल ने कहा कि प्रायः मूर्ति बनाने वाले कलाकार के बारे में आम लोग नहीं जान पाते हैं. उनकी कला दिखती है वे नहीं दिखते हैं. इसलिए अब मूर्ति बनाने वाले सर्वश्रेष्ठ तीन कलाकारों को चयनित कर दुर्गापूजा के बाद सम्मानित किया जाएगा. उन्होंने कहा कि वर्तमान में मूर्ति बनाने की कला विलुप्त रही है. इस पहल से मूर्ति बनाने की कला को बढ़ावा मिलेगा. डीएम ने कहा कि इस पहल से मूर्ति बनाने वाले कलाकार अपने आपको गौरवान्वित महसूस करेंगे और उनके अन्दर आत्म विश्वास बढ़ेगा. बेहतर पंडाल वाले तीन पंडालों को भी दुर्गापूजा के बाद सम्मानित किया जाएगा. इसके लिए पंडालों की थीम को ध्यान में रखा जायेगा. डीएम के इस पहल की लोगों ने सराहना की है. इससे मूर्तिकारों और पूजा आयोजन समितियों में खासकर काफी खुशी है. कई लोगों ने कहा कि इस सम्मान से पंडाल और मूर्ति निर्माण में बेहतरीन प्रतिस्पर्धा देखने को मिलेगी.

Read more

पंडालों के खुल गए पट, लो आ गई मां

नवरात्र की सप्तमी को पूजा पंडालों के पट खुलते ही जैसे लोग दर्शन के लिए उमड़ पड़े हैं. चाहे पटना हो, आरा या फिर मोतिहारी. हर जगह बस मां के दर्शन के लिए लोगों की भीड़ देखते ही बन रही है. पटना के नाला रोड की तस्वीर बड़ी देवीजी पटना सिटी फुलवारीशरीफ की तस्वीर फुलवारीशरीफ की तस्वीर कोइलवर की तस्वीर पटना सिटी का पंडाल कोलकाता की तस्वीर पटना के एतवारपुर की तस्वीर मोतिहारी की तस्वीर मोतिहारी की तस्वीर पटना की तस्वीर दुर्गा पूजा में भव्य पंडालों की शोभा देखते ही बन रही है. कोलकाता में बाहुबली के सेट की तरह बनाया गया पूजा पंडाल लोगों को खासा आकर्षित कर रहा है. वहीं पटना, फुलवारीशरीफ, कोइलवर और मोतिहारी के पंडाल भी लोगों का ध्यान खींच रहे हैं.   पटना से अजीत, अरुण के साथ कोइलवर से आमोद

Read more