कोरोना पॉजीटिव हुए बिहार के एक और बड़े राजनेता

बिहार में कोरोना का कहर थभता हुआ नहीं दिख रहा है. 8 सितंबर तक बिहार में करीब 16000 कोरोनावायरस संक्रमित एक्टिव मरीज हैं. बिहार के कई बड़े राजनेता जी इसके संक्रमण से नहीं बच पाएंगे. बिहार के कई मंत्री जहां संक्रमित हुए वहीं राष्ट्रीय जनता दल के दो वरिष्ठ नेता कोरोनावायरस के संक्रमण से बुरी तरह प्रभावित होते दिख रहे हैं. रघुवंश प्रसाद सिंह लंबे समय से अपना इलाज दिल्ली में करा रहे हैंं, कल उनकी तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें दिल्ली एम्स के आईसीयू में भर्ती कराया गया है. राजद के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव अब्दुल बारी सिद्दीकी भी पॉजीटिव हो गए हैं. पिछले 4 दिनों से उनकी तबीयत खराब थी. पटना एम्स में भर्ती होने के बाद वे अपना इलाज करा रहे हैं उन्होंने खुद इस बात की पुष्टि की है. pncb

Read more

पटना एम्स के डॉक्टर पर सीबीआई ने कसी नकेल

पटना एम्स के दंत चिकित्सा विभाग के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ. शैलेश कुमार मुकुल के ठिकानों पर सीबीआई की रेड, भ्रष्टाचार मामले में दर्ज है एफआईआर फुलवारी शरीफ. एम्स पटना के दंत चिकित्सा विभाग के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ. शैलेश कुमार मुकुल के खिलाफ सीबीआई ने बड़ी कार्रवाई की है. भ्रष्टाचार से जुड़े मामले में एफआईआर दर्ज करने के बाद गुरुवार को उनके कई ठिकानों पर छापेमारी की गई.बताया जाता है कि देर रात तक हुई तलाशी के दौरान भ्रष्टाचार से जुड़े कई महत्वपूर्ण साक्ष्य हाथ लगे हैं. दांत के इलाज से जुड़े सामान बनाने वाली एक कंपनी के बंगलुरु स्थित दफ्तर में भी छापेमारी हुई.डॉ. मुकुल पर आरोप है कि उन्होंने मरीजों को अधिक दाम पर दांत के इम्प्लांट में इस्तेमाल होनेवाले सामान मुहैया कराए. इसके लिए एम्स की पर्ची का इस्तेमाल नहीं कर अलग से सादे कागज पर लिखते थे. सामान कहां मिलेगा और किससे खरीदना है, वही बताते थे. आरोप के मुताबिक उन्होंने बंगलुरु की एक कंपनी के पटना स्थित डिस्ट्रीब्यूटर से मिलकर यह रैकेट चला रखा था. इस तरह उन्होंने मरीजों को तय कीमत से कहीं ज्यादा दाम में इलाज के लिए जरूरी सामान उपलब्ध कराए. सीबीआई द्वारा दर्ज प्राथमिकी के मुताबिक वर्ष 2013 से 2019 तक यह खेल चलता रहा.आवासीय परिसर और दफ्तर की हुई तलाशी प्राथमिकी दर्ज करने के बाद सीबीआई ने गुरुवार को डॉ. मुकुल के एम्स के आवासीय परिसर स्थित फ्लैट में छापेमारी की. इसके अलावा एम्स स्थित उनके चैंबर को भी खंगाला गया. सूत्रों के मुताबिक उनका चैंबर काफी दिनों से बंद था.

Read more

कोरोना योद्धा डॉ दीपक और डॉ वीपी सिंह को चिकित्सा जगत ने दी श्रद्धांजलि

पटना एम्स में रविवार को 7 लोगों की मौत कोरोना से हो गयी जबकि नए मरीजो में 14 मरीजो की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव निकली है .कोरोना से मरने वालों में पटना के कई अस्पतालों में मरीजो की चिकित्सा सेवा में लगे प्रसिद्ध कार्डियोलॉजिस्ट डॉ दीपक कुमार औऱ मुजफ्फरपुर के प्रसिद्ध चिकित्सक डॉ वी पी सिंह भी शामिल हैं. दो दो कोरोना योद्धा चिकित्सको की मौत से चिकित्सा जगत में मातम का माहौल है. पटना के डॉ दीपक मेडिका हॉस्पिटल सहित कई निजी अस्पतालों में अपनी सेवा दे रहे थे. वहीं मुजफ्फरपुर के डॉ वी पी सिंह सरकारी अस्पताल में भी अपनी सेवा दे चुके थे. डॉ अजय कुमार और डॉ दिवाकर तेजस्वी समेत तमाम चिकित्सकों ने उन्हें श्रद्धांजलि दी है.  एम्स कोरोना नोडल आफिसर डॉ संजीव कुमार के मुताबिक पटना एम्स में  कदमकुआं के 44 वर्षीय डॉ दीपक कुमार, पत्रकारनगर के 70 वर्षीय सरवजीत मलहन, राजीव गांधी नगर के 55 वर्षीय दिनेश कुमार शर्मा, महीषी के 68 वर्षीय रविन्द्र चैधरी, मुजफरपुर के 74 वर्षीय डॉ वीपी सिंहा, बिहटा के 57 वर्षीय बुद्धदेव शर्मा और अगमकुआ के 72 वर्षीय उर्मिला देवी कि मौत हो गयी है . वहीं रविवार को एम्स के आइसोलेशन वार्ड में 14 नये मरीजो की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई जिसमें पटना, जहानाबाद, बिहटा के मरीज शामिल हैं. इसके आलावा  एम्स में 17 लोगों ने कोरोना को मात दे दिया जिन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया. बिहार में रविवार को 2247 नये पॉजीटिव मरीज मिले हैं. पटना में 203 नये केस मिले हैं जबकि बेगूसराय

Read more

एम्स में कंकड़बाग के 2 सहित 4 की कोरोना से मौत

एम्स में कोरोना से 4 लोगोंं की मौत19 नए कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आये ,भागलपुर की कमिश्नर वंदना किनी समेत 16 लोगों ने कोरोना को हराया, मिली छुट्टी बिहार में कोरोना मरीजों की संख्या एक 109875 तक पहुंच गई है. इनमें से 80740 लोग ठीक हो चुके हैं जबकि 558 कोरोना संक्रमितों की मौत हो चुकी है. पटना एम्स में मंगलवार को 4 लोगों की मौत कोरोना से हो गयी जबकि नए मरीजोंं में 19 मरीजो की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव निकली है. इसके आलावा भागलपुर की कमिश्नर वंदना किनी समेत एम्स में 16 लोगों ने कोरोना को मात दे दिया जिन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया. एम्स कोरोना नोडल आफिसर डॉ संजीव कुमार के मुताबिक पटना एम्स में  कंकड़बाग के 77 वर्षीय डॉ यू के श्रीवास्तव, गड़ीखाना के 53 वर्षीय राजेन्द्र प्रसाद, कंकड़बाग के 78  वर्षीय के पी मेहता और बोरिग रोड के 72 वर्षीय दयानंद सिंह की मौत हो गई. वहीं मंगलवार को एम्स के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती 19 नये मरीजोंं की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई जिसमे पटना के 8, औरंगाबाद, बलिया, सासाराम, के मरीज शामिल हैं . अजीत

Read more

बिहार में रिकॉर्ड 4071 नये मामले

बिहार में कोरोना संक्रमण के 4071 नए मामलों के साथ एक दिन में सबसे ज्यादा केस आने का रिकॉर्ड कायम हो गया है. इधर पटना में आज फिर 552 नए मरीज मिले हैं. इसके अलावा बेगूसराय, पूर्वी चंपारण,कटिहार, मधुबनी और मुजफ्फरपुर में भी बड़ी संख्या में नए पॉजिटिव मामले सामने आए हैं. पटना एम्स में मंगलवार को 3 लोगों की मौत कोरोना से हो गयी जबकि नए मरीजो में 25 मरीजो की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव निकली है . एम्स कोरोना नोडल आफिसर डॉ संजीव कुमार के मुताबिक पटना एम्स में  नौखा कि 46 वर्षीय रेणु देवी, बेउर के 62 वर्षीय अनिल कुमार सिंह, अनिसाबाद कि 55 वर्षीय रसमुनि देवी  की कोरोना से मौत हो गयी है . वहीं मंगलवार को एम्स के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती 25 नये मरीजो की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई जिसमे पटना, दरभंगा,  के मरीज शामिल हैं .इसके आलावा  एम्स में 27 लोगों ने कोरोना को मात दे दिया जिन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया. अजीत

Read more

24 घंटे में 75 हजार से ज्यादा सैंपल की हुई जांच

पटना एम्स में शनिवार को 4 लोगों की मौत कोरोना से हो गयी. एम्स कोरोना नोडल आफिसर डॉ संजीव कुमार के मुताबिक पटना एम्स में गुरुद्वारा लाइन कॉलोनी खगौल निवासी 50 वर्षीया महिला सुनीता देवी, महेंद्रू शिवपुर पटना निवासी 69 साल के अरविंद कुमार सिन्हा पाटलिपुत्रा इंद्रपुरी रोड नम्बर 10 निवासी 45 वर्षीय रंजीत कुमार सिंह और रक्सौल वार्ड नम्बर 23 पूर्वी चंपारण निवासी जगदीश रुंगटा की मौत इलाज के दौरान कोरोना से हो गयी है. वहीं एम्म्स में भर्ती पटना के 11 मरीजोंं सहित कुल 18 मरीजोंं ने कोरोना को हराकर जंग जीत ली है जिन्हेंं अस्पताल से डिस्चार्ज कर घर भेज दिया गया. डिसचार्ज किये गए मरीजोंं को एक सप्ताह तक होम कोरोंटीन में रहने को कहा गया है. इसके अलावा एम्स में भर्ती 12 नये मरीजोंं की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है, जिनमेंं पटना के तीन मरीजोंं सहित दरभंगा ,बेला बेल्हारि , बक्सर, दरौंदा, इंदुपुर, मेजरगंज, बड़हरा, वारिसलीगंज, बंजरिया मोतिहारी के मरीज शामिल हैं. संपतचक और फुलवारी में 129 में से 14 पॉजीटिव निकले शनिवार को सम्पतचक और फुलवारी प्राथमिक स्वास्थ्य केद्र में एंटीजन टेस्टिंग में 14 लोगों को कोरोना पॉजीटिव पाया गया जिन्हें मेडिकल किट देकर होम कोरोंटीन में रहने को कहा गया है. साथ ही बताया गया की अगर कोई परेशानी हो तो तुरंत पीएचसी से संपर्क करें ताकि आपको जरुरी सहायता पहुंचाई जा सके. फुलवारी पीएचसी प्रभारी डॉ आर के चौधरी ने कहा की सभी लोगों को अपनी जांच कराना चाहिए जिनमे कोरोना के लक्ष्ण पाए जा रहे हैं. उन्होंने बतया की शनिवार

Read more

एम्स में तीन डॉक्टर और कृषि पदाधिकरी समेत कोरोना से नौ लोगों की मौत

39 नए कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आये25 लोगों ने कोरोना को हराया, मिली छुट्टी पटना एम्स में गुरुवार को सेना में मेजर रहे एक डॉक्टर के साथ तीन चिकित्सकोंं और दानापुर के कृषि पदाधिकारी समेत कुल 9 लोगों की मौत कोरोना से हो गयी जबकि नए मरीजो में 39 मरीजोंं की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव निकली है. इसके आलावा एम्स में 25 लोगों ने कोरोना को मात दे दिया जिन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया.एम्स कोरोना नोडल आफिसर डॉ संजीव कुमार के मुताबिक पटना एम्स में पटना निवासी सेना में मेजर रहे डॉ एके सिंह , चंपारण मोतिहारी के सदर हॉस्पिटल के डॉ नागेन्द्र प्रसाद और जहानाबाद के रहने वाले डॉ के राजन की मौत कोरोना से हो गयी है. वही दानापुर के कृषि पदाधिकारी जयनाथ प्रसाद की मौत भी कोरोना संक्रमण से हुई है. इसके अलावा पटना राजेन्द्रनगर के 56 वर्षीय संजय कुमार गंगवाल, दिघा कि 74 वर्षीय मालती सिंहा, पुर्वी चंपारण के 81 वर्षीय अनिरूद्ध प्रसाद सिंह, गया के 57 वर्षीय पवन कुमार, मुजफरपुर के 78 वर्षीय पुरूषोतक लाल मसकारा की कोरोना से मौत हो गयी है । वहीं गुरूवार को एम्स के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती 39 नये मरीजो की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई जिसमे पटना के 25, औरगाबाद, वैशाली, मुजफरपुर, मधुबनी, भोजपुर, लखीसराय,बेगुसराय, के मरीज शामिल हैं. बता दें कि पटना में गुरुवार तक 8130 लोग पॉजीटिव पाए गए हैं. इनमें से 4599 मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं. जबकि 45 लोगों की इस महामारी ने जान ली है. अजीत

Read more

पटना एम्स में 2 चिकित्सकोंं सहित कोरोना संक्रमित 13 मरीजोंं की मौत

कोरोना ने एम्स में भर्ती इलाजरत दो और डॉक्टरों की जान ले ली है. इसके आलावा एम्स में एक दिन में अबतक सबसे ज्यादा 13 कोरोना संक्रमित मरीजोंं की मौत से हड़कम्प मचा हुआ है. साथ ही एम्स में शुक्रवार को 25 नए मरीजोंं की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आयी है जिनका इलाज आइसोलेशन वार्ड में किया जा रहा है. वहींं 23 मरीजोंं ने कोरोना को हरा दिया है जिससे उन्हें एम्स अस्पताल से डिस्चार्ज कर घर भेज दिया गया. एम्स के कोरोना नोडल आफिसर डॉ संजीव कुमार ने बताया कि सुपौल जिले के हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. महेंद्र चौधरी की इलाज के दौरान पटना एम्स में मौत कोरोना से हो गई है. डॉक्टर महेंद्र चौधरी अरवल में सरकारी अस्पताल में पदस्थापित थे. बीमार होने के बाद डॉक्टर चौधरी सुपौल आए थे. कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद गंभीर हालत में 20 जुलाई को पटना एम्स रेफर कर दिया गया था. वहीँ पीएमसीएच के रेडियोथेरेपी विभाग के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ मिथिलेश प्रसाद सिंह की मौत भी कोरोना से हो गयी है. पटना के राजेन्द नगर टेलीफोन एक्सचेंज के पीछे इलाके में रहने वाले 70 वर्षीय डॉ मिथलेश कुमार पीएमसीएच से सेवानिवृत हुए थे. डॉ मिथिलेश को एम्स में आज ही भर्ती कराया गया था. एक साथ दो दो कोरोना योद्धाओं की मौत से चिकित्सा जगत में मातम का माहौल है. साथ ही एम्स में शुक्रवार को ही पीएमसीएच के डॉ रंजीत कुमार की कोरोना संक्रमित पत्नी की भी मौत हो गयी है. एम्स कोरोना नोडल आफिसर डॉ संजीव कुमार के मुताबिक

Read more

एम्स में इलाज के दौरान बदइन्तजामी का वीडियो वायरल

पटना एम्स में कोरोना वार्ड में मरीजो के इलाज में भारी लपरवाही की बाते सामने आ रही है. कोरोना संक्रमित परिवार के एक मरीज जिनका एम्स के कोविड वार्ड में इलाज चल रहा है उसे देखने मरीज की बेटी कोविड वार्ड में दाखिल हो गयी. कोविड वार्ड में जाकर अपने पिता को शौच किये कपड़ो में देख युवती बिफर पड़ी और एम्स के गार्ड एवं नर्सो पर जमकर बरसी. इस दौरान मरीज की सेवा और इलाज करने एवं गंदे कपड़ो को बदलने के बजाए उलटे एम्स कर्मी उस युवती पर गुस्सा हो गये की वे कोविड वार्ड में कैसे दाखिल हो गयी. एम्स के कोविद वार्ड में कोरोना के मरीजो के इलाज में घोर अनियमितता और लापरवाही बरते जाने की जानकारी देने वाली यवती ने खुद को भी कोरोना पॉजिटिव बताते हुए कहा की उनके परिवार के कई लोग कोरोना से संक्रमित है और उनके पिता का इलाज एम्स कोविड वार्ड में चल रहा है लेकिन कई दिनों से उनकी कोई सही सही जानकारी नहीं मिल रही थी तो वे खुद ही एम्स में भर्ती अपने पिता को देखने कोविड वार्ड में घुस गयी. युवती ने वायरल वीडियो के जरिये जानकारी दिया है कि एम्स के कोविड  वार्ड में मरीजो को सही ढंग से इलाज और सेवा नही किया जा रहा है इससे मरीज अपने स्तर से किसी तरह इलाज करा रहे हैं वहीँ जो मरीज लाचार और वृद्ध हैं उनके लिए की विशेष वयवस्था नही है. युवती ने बताया है कि उनके पिता के बेड के आस पास के मरीजो

Read more

एम्स में दरभंगा के शख्स की कोरोना से मौत, पटना के कई और मरीज पॉजीटिव

पटना एम्स में कोरोना पॉजिटिव मरीजो की संख्या लगातार बढती जा रही है. रविवार को दरभंगा के 65 वर्षीय एक शख्स की एम्स में इलाज के दौरान कोरोना से मौत हो गयी. बिहार में रविवार को 131 नए मरीज मिले हैं जिसके साथ बिहार के कुल कोरोनावायरस संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 9117 हो गई है. 7156 मरीज अब तक स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं . बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण से रिकवरी रेट 78 प्रतिशत है अब तक इस बीमारी से 62 लोगों की जान जा चुकी है. पटना एम्स के कोरोना नोडल पदाधिकारी डॉ संजीव कुमार सिंह ने कोरोना से एक व्यक्ति की मौत की पुष्टि करते हुए बताया की दरभंगा निवासी मरीज को साँस में तकलीफ की शिकायत पर इक्कीस जून को एम्स में भर्ती कराया गया था. इसके अलावा पटना के पांच मरीजोंं और मुजफ्फरपुर से आये एक डॉक्टर की जांच रिपोर्ट एम्स में कोरोना पॉजिटिव आई है. रोजाना कई संक्रमित मरीज बाहर से भी रेफर होकर एम्स में इलाज के लिए आ रहे हैं जिनकी जांच रिपोर्ट यहाँ भी पॉजिटिव बता रही है. फुलवारी के भुसौला दानापुर के कोरोना संक्रमित एक पचास वर्षीय व्यक्ति के अलावा पटना के बाढ़ के बिचली मलाही निवासी एक चार साल का बच्चा ,अशियाना नगर फेज टू निवासी 45 साल के शख्स का रिपोर्ट पॉजीटिव आया है. बिहटा के महावीर नगर निवासी 32 वर्षीय युवक सहित पटना के दरियापुर की 25 वर्षीया युवती और मुजफ्फरपुर के एक 70 वर्षीय डॉक्टर भी एम्स में भर्ती हुए हैं जिनकी रिपोर्ट पॉजीटिव

Read more