पब्लिक की आवाज बने सरदाना सदा के लिए हुए खामोश

गृह मंत्री ने गहरी संवेदना व्यक्त की जिंदगी की ताल ठोक अलविदा हुए रोहित सरदाना नई दिल्ली, 30 अप्रैल. 2018 में गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार से नवाजे गए तथा ‘ताल ठोक के’ और ‘दंगल’ जैसे टीवी शो को जनता की जुबान पर लाने वाले मशहूर पत्रकार व न्यूज एंकर रोहित सरदाना का शुक्रवार को ह्रदय गति रुकने से निधन हो गया. वे आजतक न्यूज चैनल के एकंर थे. उन्होंने इसके पूर्व जी न्यूज में लंबे समय तक बतौर एंकर ही काम किया था. ताल ठोक के नाम से आने वाला प्रोग्राम लोगों के बीच काफी फेमस था और एक बेवाक एंकर के तौर पर वे हमेशा समकालीन मुद्दों को उठाया करते थे. रोहित सरदाना कोरोना वायरस से भी संक्रमित थे. हार्ट अटैक के बाद उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था, लेकिन होनी को शायद यही मंजूर था… जी न्यूज में लंबे समय तक उनके साथ काम करने वाले उनके सहयोगी मित्रों में एक वरिष्ठ पत्रकार सुधीर चौधरी ने ट्वीट कर उनके निधन पर अपनी अभिव्यक्ति रोंगटे खड़े कर देने वाला लिखा. ट्वीट में उन्होंने लिखा  कि थोड़ी पहले जितेंद्र शर्मा का फोन आया जिसके बाद खबर सुनकर उनके हाथ काँपने लगे. यह खबर हमारे मित्र और सहयोगी रोहित सरदाना की मृत्यु की ख़बर थी. ये वायरस हमारे इतने क़रीब से किसी को उठा ले जाएगा ये कल्पना नहीं की थी. इसके लिए मैं तैयार नहीं था. यह भगवान की नाइंसाफ़ी है….ॐ शान्ति.’  उनके निधन की खबर पाते हीं न सिर्फ मीडिया जगत को साँप सूंघ गया बल्कि आम जनता की भी जैसे

Read more