घोषणा पत्र में 2020 से 2025 तक का रोड मैप

भाजपा है तो भरोसा है और इसी भरोसे के साथ भाजपा ने बिहार को आत्मनिर्भर बनाने का संकल्प लेते हुए 2020 से 2025 तक का रोड मैप यानी अपना संकल्प पत्र जारी किया.  घोषणा पत्र को 5 सूत्र, एक लक्ष्य 11 संकल्प के विजन के साथ जारी किया गया है. पटना में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पार्टी का घोषणा पत्र जारी करते हुए कहा कि बिहार के लिए संकल्प पत्र पेश करते हुए कहा कि मुझे खुशी हो रही है. बिहार एक ऐसा प्रदेश है जहां के लोग राजनीतिक रुप से काफी संवेदनशील और जागरुक हैं. बिहार के लोगों को संकल्प पत्र पर भरोसा दिलाना इतना आसान नहीं है लेकिन भरोसे को आधार बनाते हुए हमने इसे जारी किया है क्योंकि गत वर्षों में संकल्प पत्र के हर वादे को हमने पूरा किया. हमे पूर्ण आत्मविश्वास है कि इन वादों को पूरा कर पाएंगे. पांच सूत्र शिक्षित बिहार आत्मनिर्भर बिहार, स्वस्थ समाज आत्मनिर्भर बिहार, गांव-शहर सबका विकास, सशक्त कृषि समृद्ध किसान तथा उद्योग आधार सबल समाज एक लक्ष्य आत्मनिर्भर बिहार 11 संकल्प 1.    हर बिहारवासी को कोरोना वैक्सीन का मुफ्त टीकाकरण करवाएंगे। 2.    अगले एक वर्ष में सभी शिक्षण संस्थानों  में तीन लाख नए शिक्षकों की नियुक्ति करेंगे। 3.    बिहार को नेक्स्ट जेनरेशन आईटी हब के रुप में विकसित करके अगले 5 वर्षों में 5 लाख से ज्यादा रोजगार के अवसर उपलब्ध कराएंगे 4.    स्वयं सहायता समूहों तथा माइक्रो फाइनेंस संस्थाओं के माध्यम से 50 हजार करोड़ की माइक्रो फाइनेंस से 1 करोड़ महिलाओं को स्वावलंबी बनाएँगे। 5.    10 हजार चिकित्सक, 50 हजार पैरामेडिकल कर्मियों सहित राज्य में कुल एक लाख लोगों स्वास्थ्य विभाग में नौकरी के अवसर प्रदान करेंगे, दरभंगा एम्स को 2024 तक चालू करेंगे। 6.    धान तथा गेंहू के बाद अब दलहन की भी खरीद एमएसपी की निर्धारित दरों पर ही करेंगे। 7.    बिहार के ग्रामीण तथा शहरी क्षेत्रों के और 30 लाख लोगों को वर्ष 2022 तक पक्के मकान देंगे। 8.    मेडिकल, इंजिनियरिंग समेत सभी तकनीकी शिक्षा को हिंदी भाषा में उपलब्ध कराएंगे। 9.    अगले 2 वर्षों में निजी एवं कोम्फेड आधारित 15 नए प्रोसेसिंग उद्योग खड़े करेंगे। 10.  अगले दो वर्षों में इनलैंड यानी मीठे पानी में पलने वाली मछलियों के उत्पादन में राज्य को देश का नंबर एक राज्य बनाएँगे। 11.  बिहार के एक हजार नए किसान उत्पादन संघों (एफपीओ) को आपस में जोड़कर राज्य भर के विशेष फसल उत्पाद जैसे मक्का, फल, सब्जी, चुड़ा, मखाना, पान, मसाला, शहद, मेंथा, औषधीय पौधों का सप्लाई चेन विकसित करेंगे। इससे प्रदेश मे् रोजगार के अवसर सृजित होंगे। संकल्प पत्र को पेश करते हुए भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल ने कहा कि भाजपा है तो भरोसा है और इसी भरोसे के साथ हमने घोषणापत्र लाया है. हमारा दो सबसे प्रमुख कार्य राष्ट्रवाद और विकास है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश को गरीब-कल्याण और आधार भूत संरचना के विकास तथा आर्थिक उन्नति के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने का संकल्प लेते हए प्रगति के पथ पर आगे बढ़ने का फैसला किया है.  pncb

Read more

वीआईपी ने किया महागठबंधन से किनारा

महागठबंधन में सीट बंटवारे की घोषणा हो गई है . बड़ी खबर है. कांग्रेस को 70 सीटें मिली हैं जबकि वाम दलों को 29 सीटें महागठबंधन में मिली है और इसके अलावा राष्ट्रीय जनता दल 144 सीटों पर लड़ेगी, इसमें वीआईपी और जेएमएम को दी जाने वाली सीटें शामिल हैं. कांग्रेस और सभी दलों ने घोषणा की है कि उसके मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव होंगे. हालांकि इस पूरी कवायद पर सवाल खड़े कर दिए विकासशील इंसान पार्टी के अध्यक्ष मुकेश साहनी ने. प्रेस कॉन्फ्रेंस के बीच में ही मुकेश साहनी के समर्थकों ने हंगामा कर दिया जिसके बाद मुकेश सहनी मंच से बोले कि उनके पीठ में छुरा घोंपा गया है उन्हें 25 सीट और डिप्टी सीएम बनाने का ऑफर मिला था लेकिन उनके साथ धोखा किया गया है इतना कहकर वह प्रेस कॉन्फ्रेंस बीच में ही छोड़कर चले गए. मुकेश साहनी ने राजद पर कई और आरोप भी लगाए हैं मुकेश साहनी का दावा है कि वे इस बारे में पूरा खुलासा रविवार को करेंगे. इस बीच खबर आ रही है कि मुकेश सहनी रालोसपा बसपा गठबंधन में शामिल हो सकते हैं और डिप्टी सीएम पद के उम्मीदवार भी हो सकते हैं. इधर जानकारी के मुताबिक महागठबंधन में वीआईपी के निकलने के बाद अब 142 सीटों पर राजद खुद चुनाव लड़ेगा जबकि 2 सीटें झारखंड मुक्ति मोर्चा को दी जाएंगी इसके अलावा 70 सीटें कांग्रेस और 29 सीटें लिफ्ट के खाते में गई है. मुकेश साहनी प्रकरण के कारण फर्स्ट फेज के उम्मीदवारों की लिस्ट भी आज

Read more