कैसे टूटा 7वें दिन छात्रों का अनशन !

प्रशासन के आश्वासन पर 7वें दिन छात्रों का अनशन टूटा‘लीड’ के लीडरशिप में अगले हफ्ते आरा हाउस से विवि तक निकलेगा शांति मार्चशामिल होंगे छात्रों के साथ शिक्षक व आम जन भी आरा,9 मार्च(ओ पी पांडेय/रवि प्रकाश सूरज). VKSU के जमीन पर सरकार द्वारा जबरदस्ती 25 एकड़ 14 डिसमिल जमीन को दखल कर मेडिकल कॉलेज बनाने के निर्णय के बाद से विवि के स्तीत्व पर गहराए संकट ने छात्रों और शिक्षकों के साथ जिलावासियों की नीद उड़ा दी. इस खबर ने सबको इतना बेचैन किया कि संवेदनशील छात्रों ने विवि को बचाने के लिए अपने प्राणों की बाजी लगा आमरण अनशन पर बैठ गए. आमरण-अनशन में हर रोज लोग लोगों का सहयोग मिलना शुरू हुआ और एक के बाद एक जब छठे दिन तक अनशन पर बैठे छात्र अनिरुद्ध का  स्वस्थ्य बिगड़ना शुरू हुआ तो प्रशासन की नींद खुली और फिर मंगलवार छात्रों और शिक्षकों के के साथ हुए बातों के बाद प्रशासन द्वारा जब आश्वासन मिला तब छात्रों ने अपना अनशन तोड़ा. वीर कुँवर सिंह विवि को बचाने के संघर्ष की लड़ाई तेज करने के संकल्प के साथ ही लीडरशिप फ़ॉर एजुकेशन एंड डेमोक्रेसी (लीड) के सदस्य अनिरूद्ध सिंह ने आज अपना आमरण अनशन एडीएम कुमार मंगलम और कुलपति देवी प्रसाद तिवारी की उपस्थिति में तोड़ा. छात्र अनिरुद्ध सिंह, अमित गौतम, वैभव कुमार पाठक को जूस पिलाने के साथ ही विवि परिसर वीर कुँवर सिंह अमर रहे के नारों से गुंजायमान हो उठा. लीड कार्यकारिणी सदस्यों ने एडीएम के साथ लंबी वार्ता की जिसमें जिला प्रशासन ने बताया कि

Read more

महिला दिवस पर महिला शक्ति का मिला साथ

अनशन की बागडोर छठे दिन महिला शक्ति के हाथमहिला दिवस पर विवि को बचाने आगे आईं शाहाबाद की बेटियाँकल होगी कुलपति और जिलाधिकारी के साथ समन्वय समिति की वार्ता आरा, 8 मार्च(रवि प्रकाश सूरज). लीड संगठन के सदस्य अनिरूद्ध सिंह के आमरण अनशन के छठवें दिन विवि को बचाने की लड़ाई में शाहाबाद की 4 बेटियाँ और विवि की छात्राएं संध्या सिंह, सोनाली कुमारी, सुरभि लता और रूपाली कुमारी भूख हड़ताल पर बैठी. इनके अलावा आज छात्राओं स्नेहा कुमारी, अंकिता सिंह, प्रिया कुमारी ने भी अनशनस्थल पर अपनी मौजूदगी दर्ज कराई. आज छठे दिन अनिरुद्ध का रक्तचाप अब तेजी से गिर रहा है और इसको देखते हुए लीडरशिप फ़ॉर एजुकेशन एंड डेमोक्रेसी की कार्यकारिणी ने सर्वसम्मति से यह प्रस्ताव पारित किया कि अनिरुद्ध सिंह के साथ अप्रिय घटना हुई तो लीड सदस्य अमित सिंह गौतम इस आन्दोलन के नेतृत्व को निर्णायक बिंदु तक ले जाएंगे. इसी बीच अब इस आमरण अनशन को छात्र राजद का समर्थन मिल जाने से प्रशासन पर दबाव बढ़ गया है. विवि प्रशासन ने अनशन तोड़ने की गुजारिश की एक महत्त्वपूर्ण घटनाक्रम में कुलपति देवी प्रसाद तिवारी के साथ विवि के रजिस्ट्रार कैप्टेन श्रीकृष्ण सिंह, सीसीडीसी हीरा प्रसाद, छात्रकल्याण डीन के के सिंह और पूर्व परीक्षा नियंत्रक रामतवाक्या सिंह आज शाम अनशनस्थल पर आए और छात्रों से आमरण अनशन तोड़ने की गुजारिश की. लीड कार्यकारिणी सदस्यों ने इस मुद्दे पर समन्वय समिति बनाकर कुलपति के साथ कल वार्ता करने का प्रस्ताव रखा जिसे विवि ने मंजूर कर लिया। कुलपति ने छात्रों के साथ जिलाधिकारी को भी

Read more

भूख हड़ताल की आग हुई तेज, बाहर से आये छात्र भी अनशन में हुए शामिल

अनशनकारी छात्रों से मिले तरारी विधायक,सोमवार को विधानसभा में फिर गूंजेगा VKSU का मामला शिक्षाविहीन समाज बनाना चाहती है सरकार : सुदामा प्रसाद विवि के अस्तित्व बचाने के संघर्ष में छात्रों के साथ आगे आये विधायक सुदामा प्रसाद आरा,6 मार्च(ओ पी पांडेय/रवि प्रकाश सूरज). विवि की भूमि पर मेडिकल कॉलेज बनाने को लेकर विवि पर गहराये संकट को हटाने के लिए भूख हड़ताल के चौथे दिन भी कोई निष्कर्ष सरकार द्वारा नही निकला। लेकिन लगातार गिरते अनशनकारी अनिरुद्ध के स्वास्थ्य ने जरूर इस भूख-हड़ताल की आग को और तेज कर दी है. भूख-हड़ताल में अनिरुद्ध का हौसला बढ़ाने ही नही बल्कि उनके साथ आमरण अनशन के लिए आरा समेत गोपालगंज से भी छात्र अनशन स्थल पर पहुँच अनशन में बैठ गए हैं. वीर कुँवर सिंह विश्वविद्यालय, आरा की भूमि स्वास्थ्य विभाग को दिए जाने और इससे विवि के अस्तित्व पर गहराते संकट के विरोध में आज चौथे दिन भी आमरण अनशन जारी रहा. छात्र संगठन लीड के सदस्य और आंदोलन का नेतृत्व कर रहे अनिरुद्ध सिंह के साथ आज से जैन कॉलेज के अमित सिंह गौतम, पंकज सत्यार्थी और गोपालगंज से धरने में शामिल होने आए छात्र मनमीत ओझा भी अनशन पर बैठ गए हैं. दोपहर में तरारी के माले विधायक सुदामा प्रसाद नगर अध्यक्ष दिलराज प्रीतम और आइसा के अध्यक्ष सबीर के साथ विवि परिसर पहुँचे और आंदोलनकारी छात्रों को अपना समर्थन दिया. अपने सम्बोधन में विधायक ने कहा कि वे खुद इस विवि को बनाने के लिए 1985 से ही संघर्ष में शामिल रहे हैं और 7 साल

Read more

विवि को बचाने के लिए जान देने पर उतरे छात्र

विवि के स्तीत्व पर ग्रहण के विरोध में आमरण अनशनमेडिकल कॉलेज का विरोध नहीं, पर विवि की कीमत पर नहींछात्रों के आमरण अनशन को मिला शिक्षकों का साथ आरा, 3 मार्च(ओ पी पांडेय/रवि प्रकाश सूरज). VKSU को बचाने के लिए भुख हड़ताल कर जान देने पर वीर कुंवर सिंह विवि के छात्र आज से उतर गए हैं. उन्होंने आज से आमरण अनशन के लिए विवि के पुराने कैम्पस में डेरा डाल दिया है. अनशन से पूर्व छात्रों ने वीर कुँवर सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर शपथ लिया कि वे वीर बाँकुड़ा का अपमान कत्तई बर्दाश्त नहीं करेंगे और लंबे जनांदोलन के बाद बने इस विवि के स्तीत्व को बचाने के लिए अंतिम लड़ाई लड़ेंगे. छात्रों ने कहा कि वे मेडिकल कॉलेज खोले जाने के नाम पर खानापुर्ति का भी विरोध करेंगे. हाल ही में राज्य सरकार द्वारा वीर कुँवर सिंह विश्वविद्यालय के नूतन परिसर की जमीन को प्रस्तावित मेडिकल कॉलेज को आवंटित किए जाने और बदले में राजकीय मानसिक आरोग्यशाला, कोइलवर की जमीन को विवि को दिए जाने का विरोध अब तेज होता जा रहा है. लीड’ छात्र संगठन के सदस्य अब छात्र नेता अनिरुद्ध सिंह के नेतृत्व में विवि परिसर में वीर कुँवर सिंह की प्रतिमा के समक्ष आमरण अनशन पर बैठ गए हैं. छात्रों के इस आन्दोलन को विवि के शिक्षक भी खुलकर साथ है. बता दें कि इसी मुद्दे पर पिछले हफ्ते शिक्षक भी धरने पर थे. अनशनकारी छात्रों का कहना है कि वे मेडिकल कॉलेज का विरोध नहीं कर रहे, पर सरकार के इस एकतरफा

Read more