लापरवाह संवेदकों पर लगी लगाम, 20 दिनों का निगम ने दिया अल्टीमेटम

शिकायत करने पर मिलती थी धमकी फिर भी 14वीं बार लिखित शिकायत की दर्ज आरा नगर निगम बोर्ड को वार्ड पार्षद ने दी लिखित शिकायतलम्बित योजनाओं को पूरा नही करने वालों पर कार्रवाई की मांग की निगम ने कहा अगर 20 दिनों के भीतर लम्बित योजनाओं को पूरा नही किया गया तो सभी निविदाएं होंगी रदद् Patna Now Special report आरा, 25 मार्च. आरा नगर निगम किस तरह भ्रष्टाचार के आकंठ में डूबा है इसकी मिसाल उस वक्त देखने को मिली जब 13 बार ऑनलाइन शिकायत दर्ज करने के बाद भी वार्ड पार्षद की शिकायत पर कोई कार्रवाई तो दूर उल्टे उन्हें धमकियां मिलनी शुरू हो गयी. धमकी की परवाह किये बिना वार्ड पार्षद ने आपने वार्ड के विकास की जिम्मेदारी के लिए पुनः लिखित शिकायत की एक फेहरिस्त तैयार की और आरा नगर निगम बोर्ड की साधारण बैठक में इसे सौंप दिया. ये घटना कहीं और का नही बल्कि भोजपुर मुख्यालय आरा का है और  वार्ड पार्षद कोई और नही बल्कि वार्ड 45 पार्षद रीना देवी का है. हालाँकि उनकी 14 वीं बार दिए इस शिकायत के बाद बोर्ड की साधारण बैठक में सार्वजनिक रूप से पढ़ा गया और योजनाओं के शिथलीकरण से हर ओर विकास की अवरुद्ध पड़ी गति को देखने के बाद निगम एक्शन में आ गया और पिछले 4 वर्षों में जारी किए गए सभी योजनाओं के क्रियान्वयन के लिए संवेदको को 20 दिन का अल्टीमेटम देते हुए यह कहा अगर इस अवधि में लंबित कार्यों को पूरा नही किया गया तो सभी निविदाएं निगम की

Read more