24 घंटे में 75 हजार से ज्यादा सैंपल की हुई जांच

पटना एम्स में शनिवार को 4 लोगों की मौत कोरोना से हो गयी. एम्स कोरोना नोडल आफिसर डॉ संजीव कुमार के मुताबिक पटना एम्स में गुरुद्वारा लाइन कॉलोनी खगौल निवासी 50 वर्षीया महिला सुनीता देवी, महेंद्रू शिवपुर पटना निवासी 69 साल के अरविंद कुमार सिन्हा पाटलिपुत्रा इंद्रपुरी रोड नम्बर 10 निवासी 45 वर्षीय रंजीत कुमार सिंह और रक्सौल वार्ड नम्बर 23 पूर्वी चंपारण निवासी जगदीश रुंगटा की मौत इलाज के दौरान कोरोना से हो गयी है. वहीं एम्म्स में भर्ती पटना के 11 मरीजोंं सहित कुल 18 मरीजोंं ने कोरोना को हराकर जंग जीत ली है जिन्हेंं अस्पताल से डिस्चार्ज कर घर भेज दिया गया. डिसचार्ज किये गए मरीजोंं को एक सप्ताह तक होम कोरोंटीन में रहने को कहा गया है.


इसके अलावा एम्स में भर्ती 12 नये मरीजोंं की जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है, जिनमेंं पटना के तीन मरीजोंं सहित दरभंगा ,बेला बेल्हारि , बक्सर, दरौंदा, इंदुपुर, मेजरगंज, बड़हरा, वारिसलीगंज, बंजरिया मोतिहारी के मरीज शामिल हैं.




संपतचक और फुलवारी में 129 में से 14 पॉजीटिव निकले

शनिवार को सम्पतचक और फुलवारी प्राथमिक स्वास्थ्य केद्र में एंटीजन टेस्टिंग में 14 लोगों को कोरोना पॉजीटिव पाया गया जिन्हें मेडिकल किट देकर होम कोरोंटीन में रहने को कहा गया है. साथ ही बताया गया की अगर कोई परेशानी हो तो तुरंत पीएचसी से संपर्क करें ताकि आपको जरुरी सहायता पहुंचाई जा सके. फुलवारी पीएचसी प्रभारी डॉ आर के चौधरी ने कहा की सभी लोगों को अपनी जांच कराना चाहिए जिनमे कोरोना के लक्ष्ण पाए जा रहे हैं. उन्होंने बतया की शनिवार को 63 लोग जांच कराने आये जिनमे दस कोरोना पॉजिटिव पाए गये हैं. वहींं संपत चक पीएचसी प्रभारी डॉ लक्ष्मण प्रसाद ने बतया की 66 लोगों की जांच हुई जिसमे चार की कोरोना रिपोर्ट पौजीटीव आई है. उन्होंने जन प्रतिनिधियों और बुद्द्जिवी वर्ग के लोगो से आह्वान किया है कि आगे बढ़कर अपने इलाके के बीमार लोगों को कोरोना जांच करने के लिए प्रेरित करें.

अजीत