ओवरलोडिंग पर सख्त प्रशासन, सीधे होगी गिरफ्तारी

नावों में ओवर लोडिंग करने वालों को लेकर पटना जिला प्रशासन ने सख्त रुख अख्तियार कर लिया है. पटना डीएम ने ओवरलोडिंग करने वाले नाविकों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज करने और उनकी गिरफ्तारी के आदेश दिए हैं. बाढ़ को लेकर सभी अंचलों में नाविकों के साथ एकरारनामा करने का डीएम ने निदेश जारी किया है. प्रावधानों के अनुरूप सभी नाव में लाइफ जैकेट रहना अनिवार्य है. जिलाधिकारी द्वारा सभी अंचलाधिकारियों को निदेश दिया गया कि नाविकों से बैठक के क्रम में उन्हें अपनी नावों में कम से कम एक-एक लाइफ जैकेट रखने हेतु निदेशित करें.  गंगा के सभी महत्वपूर्ण घाटों पर नियमित निगरानी हेतु चौकीदारों के प्रतिनियुक्ति करने का निर्देश भी दिया गया है. इसके अलावा प्रत्येक अंचल स्तर पर प्रशिक्षित गोताखोरों की सूची तथा उनकी उपलब्धता सुनिश्चित कराने हेतु अपेक्षित कार्रवाई कराने का निर्देश भी दिया गया है. इसके साथ ही जिला स्तर पर देैनिक निगरानी हेतु Flood Control का Whatsapp Group बनाया गया है, जिसमें जल संसाधन विभाग, पथ निर्माण विभाग, ऊर्जा विभाग, बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल, पी.एच.ई.डी. के अभियंता, सिविज सर्जन, जिला पशुपालन पदाधिकारी, जिला कृषि पदाधिकारी, सभी अपर समाहर्ता सभी अनुमंडल पदाधिकारी एवं सभी अंचलाधिकारी को शामिल किया गया है. सभी पदाधिकारियों को निदेश दिया गया है कि अपने क्षेत्र अंतर्गत बांध, तटबंध की स्थिति, जल स्तर आदि के संबंध में दैनिक प्रतिवेदन फोटो सहित ग्रुप में भेजें ताकि स्थिति पर निकटतम निगरानी रखी जा सके. जल संसाधन विभाग के अभियंताओं  को निर्देश दिया गया कि प्रतिदिन पूर्वाह्न 6ः00 बजे एवं अपराह्न 6ः00 बजे गंगा के जल स्तर के संबंध

Read more