स्कूल की मनमानी से आप भी हैं परेशान, तो यहां करें शिकायत

कोरोना संकट के दौरान भी मनमानी से बाज नहीं आ रहे निजी स्कूल

एक तो कोरोना ने तहलका मचाया हुआ है. बिहार समेत पूरी दुनिया में तबाही मची है. किसी को कुछ समझ नहीं आ रहा कि आगे क्या होगा. इस भयावह स्थिति में भी निजी स्कूलों की मनमानी नहीं कम हो रही. सरकार की चेतावनी के बावजूद कई स्कूलों ने अभिभावकों पर स्कूल फी जमा करवाने का दबाव तो बनाया ही है. स्कूल फी में मनमानी वृद्धि भी कर दी है.




कई अभिभावकों ने पटना नाउ को मैसेज भेज कर इसकी जानकारी दी है. मनमानी करने में पटना के ज्यादातर बड़े स्कूल शामिल हैं. इसे लेकर हमने पटना के प्रमंडलीय आयुक्त से बात की. उन्होंने कहा कि 7% से अधिक की वार्षिक शुल्क वृद्धि करने वाले निजी विद्यालयों को चिन्हित करने का निर्देश दिया गया है.

आयुक्त संजय अग्रवाल ने निजी विद्यालयों द्वारा शिक्षण शुल्क जमा करने हेतु अभिभावकों को दबाव नहीं देने का निर्देश भी दिया. दरअसल ईमेल के माध्यम से अभिभावकों के द्वारा शिकायत प्राप्त हो रही है कि निजी विद्यालयों के द्वारा शिक्षण शुल्क एवं परिवहन शुल्क जमा करने हेतु दबाव बनाया जा रहा है. निजी विद्यालयों के द्वारा अभिभावकों को शिक्षण शुल्क जमा करने हेतु उन्हें उनके मोबाइल पर सूचना भेजी जा रही है.

कोरोना संकट के कारण सरकार के आदेशानुसार संपूर्ण प्रदेश में पूर्ण रूप से लॉक डाउन है और सभी विद्यालय अगले आदेश तक बंद हैं ऐसी स्थिति में विद्यालयों के द्वारा शिक्षण शुल्क जमा करने हेतु अभिभावकों को दबाव नहीं दिया जाए. लॉक डाउन में सभी विद्यालय बंद है वैसी स्थिति में निजी विद्यालय द्वारा परिवहन शुल्क की वसूली करने का कोई औचित्य नहीं है. संजय अग्रवाल ने कहा कि क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक (RDDE) को उक्त आदेश का अनुपालन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया गया है.

इस मामले में पटना के प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल ने कहा कि जिन अभिभावकों को स्कूल को लेकर शिकायत है. वे स्कूल की रसीद के साथ शुल्क वृद्धि की जानकारी आरडीडीई को मेल कर सकते हैं. उन्होंने बताया कि अगर किसी बच्चे के परिजन लॉक डाउन के दौरान स्कूल को फी देने में असक्षम है, तो उन्हें कुछ दिनों की मोहलत दी जानी चाहिए. उन्होंने बताया कि पटना के कुछ स्कूलों ने 7 फीसदी से ज्यादा फी में बढ़ोतरी की है. ऐसे स्कूलों को नोटिस भेजकर एक सप्ताह के अंदर जवाब मांगा गया है.

कोई भी अभिभावक आपने शिकायत सभी प्रमाणकों के साथ क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक (RDDE) पटना के ईमेल [email protected] पर दे सकते हैं.