पद्म पुरस्कार 2019 घोषित

देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से एक- पद्म पुरस्‍कार, तीन श्रेणियों – पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्मश्री वर्गों में प्रदान किए जाते हैं। ये पुरस्कार विषयों, गतिविधियों के विभिन्न क्षेत्रों, नामत: कला, सामाजिक कार्य, सार्वजनिक मामले, विज्ञान और इंजीनियरिंग, व्यापार और उद्योग, चिकित्सा, साहित्य और शिक्षा, खेल, प्रशासनिक सेवा आदि में प्रदान किए जाते हैं. ‘पद्म विभूषण’ असाधारण और विशिष्ट सेवा के लिए, ‘पद्म भूषण’ उच्च क्रम की विशिष्ट सेवा के लिए और ‘पद्मश्री’ किसी भी क्षेत्र में विशिष्ट सेवा के लिए प्रदान किए जाते हैं. इन पुरस्कारों की घोषणा हर साल गणतंत्र दिवस के अवसर पर की जाती है. ये पुरस्कार राष्ट्रपति द्वारा रस्‍मी समारोहों में प्रदान किए जाते हैं, जिनका आयोजन राष्ट्रपति भवन में आमतौर पर हर साल मार्च/अप्रैल के आसपास किया जाता है. इस वर्ष भारत के राष्ट्रपति ने 112 पद्म पुरस्कार प्रदान करने की मंजूरी दी है, जिसमें एक युगल मामला (युगल मामले में, पुरस्कार को एक माना जाता है) है, जैसा कि निम्‍नलिखित सूची में दिया गया है. इस सूची में 4 पद्म विभूषण, 14 पद्म भूषण और 94 पद्म श्री पुरस्कार शामिल हैं. पुरस्कार पाने वालों में 21 महिलाएं हैं और सूची में विदेशी/प्रवासी भारतीय/ पीआईओ /ओसीआई, की श्रेणी के 11 व्यक्ति, 3 मरणोपरांत पुरस्कार पाने वाले और 1 ट्रांसजेंडर व्यक्ति भी शामिल हैं. पद्म विभूषण (4) सुश्री तीजन बाई कला-गायन-लोक छत्तीसगढ़ श्री इस्माइल उमर गुलेह (विदेशी) सार्वजनिक मामले जिबूती श्री अनिलकुमार मणिभाई नाइक व्यापार और उद्योग-बुनियादी महाराष्ट्र ढांचा श्री बलवंत मोरेश्वर पुरंदरे कला-अभिनय-थियेटर महाराष्ट्र पद्म भूषण- (14) श्री जॉन चैम्बर्स (विदेशी)

Read more