जयंती पर याद किए गए पूर्व मुख्यमंत्री

एक शिक्षक, राजनेता और समाजसेवी के रूप में डॉ. जगन्नाथ मिश्र अहर्निश बिहार के विकास के लिए प्रयासरत रहे. सीवान मानवाधिकार संरक्षण प्रतिष्ठान के दफ्तर में डॉक्टर जगन्नाथ मिश्र की जयंती मनाई गई. प्रतिष्ठान के जिला अध्यक्ष डॉ रामानंद पाण्डेय ने डॉक्टर मिश्रा के कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि डॉक्टर जगन्नाथ मिश्र छितवन थे और उनकी छांव का फायदा अनगिनत लोगों ने उठाया. प्रोफेसर रामानंद पाण्डेय ने कहा कि डॉ.जगन्नाथ मिश्र के हमेशा बिहार की पीड़ा को समझा, जाना और उसके समाधान के लिए प्रयास किया. इस अवसर पर डॉ राजेंद्र सिंह, वीरेंद्र पाठक,मनोज कुमार, हरिशंकर समेत कई गणमान्य लोगों ने डॉ मिश्रा के जीवन वृत पर प्रकाश डाला। जयंती पर डॉक्टर मिश्रा को श्रद्धांजलि. हीरेश

Read more

जगन्नाथ मिश्रा के निधन पर जताया शोक| सुशील मोदी ने दिल्ली जाकर श्रद्धा सुमन अर्पित किया

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट)| बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के कद्दावर नेता डॉ जगन्नाथ मिश्रा के निधन पर बिहार विधान परिषद के कार्यकारी सभापति मो. हारुण रशीद ने गहरा शोक व्यक्त किया है. उन्होंने कहा कि डॉ साहब बिहार के तीन बार मुख्यमंत्री रहे और मिथिलांचल के सर्वमान्य राजनीतिज्ञ थे. वह 90 के दशक में केंद्रीय कैबिनेट के ग्रामीण विकास विभाग के मंत्री भी रहे थे. बिहार में डॉ मिश्र का नाम बड़े नेताओं के तौर पर जाना जाता है.डॉ जगन्नाथ मिश्रा ने प्रोफेसर के रूप में अपना कैरियर शुरू किया था. उनकी रुचि राजनीति में बचपन से ही थी. उनके बड़े भाई स्व ललित नारायण मिश्रा राजनीति में थे और देश के रेल मंत्री थे. उनकी कमी हमें खलेगी और यह अपूरणीय क्षति है. उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री स्व. जगन्नाथ मिश्रा के दिल्ली स्थित आवास पर जाकर उनके पार्थिव शरीर पर श्रद्धा सुमन अर्पित किया. बिहार के पूर्व सीएम डॉ जगन्नाथ मिश्र के निधन पर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने गहरा दुख व्यक्त किया है.सुशील मोदी ने अपने शोक संदेश में डॉ जगन्नाथ मिश्र के निधन को बिहार और देश की राजनीति की अपूरणीय क्षति बताते हुए कहा है कि निकट भविष्य में इसकी भरपाई सम्भव नहीं है. तीन बार बिहार के मुख्यमंत्री और केंद्र की सरकार में भी मंत्री पद का दायित्व निभा चुके डॉ मिश्र को भूला पाना बिहारवासियों के लिए सम्भव नहीं होगा.मोदी ने दिवंगत आत्मा की शांति व दुख की इस घड़ी में शुभचिंतकों, समर्थकों और परिजनों को धैर्य प्रदान करने

Read more