बिहार में कैसा होगा लॉक डाउन 5.0!

लॉकडाउन 5.0 / अनलॉक 1.0 केंद्र सरकार की ओर से 30 मई को जब लॉक डाउन 5.0 की घोषणा की गई उसके बाद से ही लोगों के मन में यह सवाल उठ रहे थे कि बिहार में कैसा होगा लॉकडाउन 5.0. क्या केंद्र के आदेश को हूबहू लागू किया जाएगा या बिहार में सख्ती अभी जारी रहेगी. इसके पीछे वजह बिल्कुल साफ है. हर दिन बिहार में 200 या इससे ज्यादा पॉजिटिव केस बढ़ रहे हैं. प्रवासियों का आना लगातार जारी है जिससे संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है. 21 लोगों की मौत हो चुकी है और यही वजह है कि लॉक डाउन कितना सख्त हो या फिर इसमें ढील दी जाए, इसे लेकर रविवार को एक महत्वपूर्ण बैठक हुई. बैठक में बिहार सरकार के आला अधिकारी और सभी राज्यों के डीएम और एसपी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से एक दूसरे से जुड़े थे. बैठक के बाद यह फैसला बिहार सरकार ने लिया है कि केंद्र सरकार के आदेश को हुबहू बिहार में भी लागू किया जाएगा. मतलब साफ है, 30 जून तक बिहार में लॉक डाउन रहेगा. केंद्र सरकार ने जो नए रूल्स बनाए हैं उसी हिसाब से बिहार में भी लॉक डाउन का पालन होगा. बिहार भी चरणों में अब अनलॉक होगा और यह अनलॉक 1.0 से शुरू हो रहा है 1 जून से. 1 जून से किसी भी जिले में आने जाने के लिए आपको पास की जरूरत नहीं पड़ेगी. सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखना होगा. सभी दफ्तर खुलेंगे. 8 जून से सभी धार्मिक स्थल और शॉपिंग मॉल

Read more

अब हवाई यात्रा के लिए भी हो जाइए तैयार

रेल यात्रा के बाद अब हवाई यात्रा शुरू करने की तैयारी केंद्रीय नागरिक नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीट करके यह जानकारी दी है कि 25 मई से घरेलू हवाई सेवा शुरू की जा रही है. इस बाबत सभी एयरलाइन कंपनियों को जानकारी दे दी गई है और गाइडलाइंस जारी किया जा रहा है. घरेलू विमान सेवा नियंत्रित तरीके से शुरू होगी और इसमें कोरोना संक्रमण के खतरे को लेकर तमाम सावधानियां बरती जाएगी. घरेलू विमान सेवा शुरू करने के लिए लॉक डाउन के नियमों में संशोधन भी केंद्र सरकार की ओर से कर दिया गया है. आपको बता दें कि 12 मई से देश में चुनिंदा ट्रेनों की शुरुआत की गई है जबकि 1 जून से 200 ट्रेनें शुरू करने की घोषणा की गई है. इस बीच, स्टेशनों पर अवस्थित सभी कैटरिंग/वेंडिंग यूनिट तत्काल प्रभाव से खुलेंगे. पूर्व मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि रेलवे बोर्ड द्वारा स्टेशनों पर जितने भी कैटनिंग यूनिट, बहुउद्देशीय स्टॉल आदि हैं, इन सभी को तत्काल प्रभाव से खोले जाने का निर्णय लिया गया है. इसी कड़ी में पूर्व मध्य रेल के स्टेशनों पर अवस्थित कैटरिंग यूनिट,/वेंडिंग स्टॉल, बहुउद्देशीय स्टॉल, दवा की दुकानें आदि तत्काल प्रभाव से खोले जा रहे हैैं. PNC

Read more

एक साथ मिले 54 नये मरीज

बिहार में कोरोना वायरस के संक्रमण का दायरा लगातार बढ़ रहा है. स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक आज 54 नए मरीज मिले हैं. इनमें भागलपुर में 12, बांका में 10, नालंदा और मधुबनी में 6-6, गोपालगंज और कटिहार में एक-एक, सुपौल में दो और सबसे ज्यादा 15 नए मरीज खगड़िया में मिले हैं. बिहार में 1573 कोरोना पॉजिटिव मरीज हैं. वहीं सरकार जनजीवन को पटरी पर लाने की कोशिश में जुटी है। 57 दिन के लॉकडाउन में पटरी से उतरी अर्थव्यवस्था को व्यवस्थित कर के लिए कुछ छूट की घोषणा सरकार ने की है. लॉक डाउन 4 को लेकर बिहार के पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पाण्डेय ने लोगों को सावधान करते हुए कहा कि 11 बजे से 4 बजे तक ही अपने जरूरत के सामानों की खरीदारी करने के लिए अपने घर से निकलेें. डीजीपी ने कहा कि लोग अपने घर से आसपास के दुकानों से ही खरीददार करें. उन्होंने कहा कि खरीददारी के वक्त लोग मास्क और सोशल डिस्टेंस का सख्ती से पालन करें.डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय ने कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव को देखते हुए कड़े शब्दों में कहा कि शाम 7 बजे से सुबह 7 बजे तक कर्फ़्यू जैसी स्थिति रहेगी. गुप्तेश्वर पाण्डेय ने लोगों को आगाह करते हुए कहा कि बिना काम के घर से निकलने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि आपातकालीन और कोरोना वायरस संक्रमण के चेन को तोड़ने और आवश्यक काम करने वाले कोविड 19 वारियर्स को आने – जाने पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा.सूबे में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या

Read more

’31 मई तक लॉकडाउन बढ़ाने की मांग’

पीएम के साथ वीसी में हुई डिमांड कोरोना वायरस से सुरक्षा एवं बचाव पर आयोजित आज प्रधानमंत्री की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार शामिल हुए. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम सेअपने संबोधन में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने में केंद्र, राज्य सरकार के सामूहिक प्रयास की सराहना की. उन्होंने कहा कि इस संकट के समय राज्यों नेे भी अपनी जिम्मेवारी का बेहतर ढंग से निवर्हन किया है. वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए किए जा रहे कार्यो, लॉकडाउन के दौरान छट में किये जा रहे रोजगार सजन के कार्यों एवं कोरोना संक्रमण की अद्यतन स्थितिके साथ-साथ तथा भविष्य की रणनीति पर विस्तृत चर्चा की गई. मुख्यमंत्री नीतीश कमार ने अपने संबोधन में सभी लोगों का स्वागत करते हुये कहा कि आज की इस चर्चा में बहुत सारी बातें सामने आयी हैं. उन्होंने कहा कि बिहार के संबंध में हमआप सभी को जानकारी देना चाहते हैं कि देश के अन्य हिस्सों से एवं विदेशों से आने वाले लोगों के कारण बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या 700 से ज्यादा हो गयी है. अभी भी लोग बाहर से आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि 4 मई से 10 मई के बीच 1 लाख से ज्यादा लोग आये हैं. उनमें 1,900 लोगों की रैडम टेस्टिंग करायी गयी है, जिसमें 148 लोग कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार के बाहर दूसरे राज्यों में फंसे श्रमिकों, छात्रों जरूरतमंदों को ट्रेनों से लाने की अनुमति देने

Read more

पटना के ये मार्केट फिलहाल नहीं खुलेंगे

भीड़भाड़ वाले इन मार्केट कांप्लेक्स को खोलने पर रोक पटना में बढ़ते संक्रमण को ध्यान में रखते हुए डीएम कुमार रवि ने अपने पहले के आदेश में संशोधन किया है और एक नया आदेश जारी किया है. इस आदेश के अनुसार, कंटेनमेंट जोन के निकट होने अथवा भीड़भाड़ वाले क्षेत्र में होने के कारण निम्न थाना क्षेत्र के अंतर्गत पड़ने वाले दुकानेंं नहीं खुलेगीं- बुद्धा कॉलोनी थाना क्षेत्र में हरिहर चैंबर कोतवाली थाना अंतर्गत चांदनी मार्केट और मौर्या कंपलेक्स पाटलिपुत्रा थाना क्षेत्र अंतर्गत गोसाईंटोला रोड मार्केट शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत राजा बाजार मार्केट हवाई अड्डा थाना क्षेत्र अंतर्गत शेखपुरा बाजार,राजा बाजार, खाजपुरा बाजार और जगदेव पथ बाजार श्रीकृष्णापुरी थाना क्षेत्र अंतर्गत वर्मा सेंटर मार्केट गर्दनीबाग थाना क्षेत्र अंतर्गत चितकोहरा मार्केट कदमकुआं थाना क्षेत्र अंतर्गत चूड़ी मार्केट पीरबहोर थाना क्षेत्र अंतर्गत हथुआ मार्केट,खेतान मार्केट और बाकरगंज मार्केट परसा बाजार थाना क्षेत्र अंतर्गत कुरथौल बाजार, परसा, इतवारपुर बाजार इनके अलावा सूत्रों के अनुसार महाराजा कॉम्प्लेक्स और हरनिवास कॉम्प्लेक्स को भी खोलने पर रोक लग सकती है. जिलाधिकारी कुमार रवि ने से इस आदेश का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित कराने का निर्देश संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी / थानाध्यक्ष को दिया है. आपको बता दें कि शुक्रवार से पटना में निजी दफ्तर खुलने वाले हैं। उनके साथ रिपेयरिंग और मरम्मत की कई दुकानें भी खुलेंगी. जिनमें प्रमुख रूप से मोबाइल, लैपटॉप, कंप्यूटर, हार्डवेयर,ऑटो पार्ट्स, इलेक्ट्रिक और इलेक्ट्रॉनिक शॉप प्रमुख हैंं. डीएम के आदेश के मुताबिक सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को निजी दफ्तर और ये दुकानें खुलेंगी. हालांकि ऑटो गैरेज अब प्रतिदिन खुलेंगे. राजेश तिवारी

Read more

सरकार का आदेश जारी, देखिए कौन-कौन सी दुकान है खुलने वाली

लॉक डाउन के बीच बिहार सरकार ने 6 मई को बड़ा आदेश जारी किया है. गृह विभाग ने सभी डीएम और एसपी को पत्र लिखकर जानकारी दी है कि अब बाजार खुलेंगे. विशेष रूप से हर तरह के निर्माण कार्य, मरम्मत और रिपेयरिंग वर्क आदि दुकानों को खोलने की अनुमति दे दी गई है. बिहार सरकार ने इलेक्ट्रिक गुड्स, पंखा, कूलर, एयर कंडीशनर दुकान खोलने एवं मरम्मत करने वाली दुकान शुरू करने के आदेश दिए हैं. इसके अलावा मोबाइल दुकान, कंप्यूटर दुकान, लैपटॉप, यूपीएस और बैटरी विक्रय और मरम्मत दुकान चालू होगी. निर्माण सामग्री के भंडारण एवं बिक्री से संबंधित प्रतिष्ठान जैसे सीमेंट,स्टील,बालू-गिट्टी, सैनिटरी फिटिंग, लोहा, पेंटिंग सामान खोलने की इजाजत भी दी गई है. इनके अलावा ऑटोमोबाइल्स, टायर, ट्यूब, मोटर वाहन, मोटरसाइकिल, स्कूटर मरम्मत गैरेज सहित ऑटोमोबाइल स्पेयर पार्ट्स की दुकान प्रत्येक एक दिन के अंतराल पर खोली जा सकती हैं. गैराज एवं वर्कशॉप प्रतिदिन खोले जाएंगे. हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट की दुकान प्रमंडलीय मुख्यालय स्तर पर दो तथा जिला स्तर पर एक दुकान खोली जा सकती है. इसके अलावा प्रदूषण जांच केंद्र खोलने का भी आदेश दिया गया है. हालांकि इन सभी के लिए परिस्थितियां देखकर निर्णय लेने का अधिकार जिलाधिकारी के पास होगा. राजेश तिवारी

Read more

बिहार में दुकानें खोलने को लेकर अभी नहीं हुआ है फैसला

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने शर्तों के साथ दी अनुमतिआज से देशभर में सभी दुकानों को खोलने की छूटबड़े मॉल, सिंगल ब्रांड स्टोर खोलने की अनुमति नहींरेड जोन और हॉटस्पॉट्स में नहीं खुलेगी कोई दुकानसिर्फ रजिस्टर्ड दुकानें ही खुलेंगी बिहार के लोगों के लिए बड़ी बात यह कि अभी तक इस राज्य में दुकान को खोलने की इजाजत सरकार ने नहीं दी है यह पूरी तरह लॉक डाउन है शाम 5:00 बजे के बाद सरकार इस बारे में फैसला ले सकती है कि दुकान खुलवाना है या नहीं इस बारे में बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने बताया कि सभी दुकानोंं को खोलने के केंद्र सरकार के गाइड लाइन पर शाम 5 बजे बैठक होग. मुख्य सचिव के साथ अन्य विभागोंं के अधिकारियों की बैठक होगी जिसमें दुकानें खोलने को लेकर फैसला हो सकता है. अगर बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार दुकानें खोलने की अनुमति देते हैं तो बिहार शॉप्स एंड एस्टेब्लिशमेंट एक्ट के तहत रजिस्टर दुकानें खोलने मिल सकती है इजाजत.

Read more