पटना लॉकडाउन में क्या करें और क्या नहीं

पटना जिला मेंं 10 जुलाई से 16 जुलाई तक लाकडाउन लागू किया गया है. लॉकडाउन के दौरान आम लोगों के द्वारा कई प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं. सामान्य रूप में अधिकतम पूछे जाने वाले प्रश्न एवं उसके उत्तर निम्नवत हैंं- 1/क्या सरकारी कार्यालय बंद रहेंगे? नहीं.अनिवार्य सेवाओं को लॉकडाउन से मुक्त रखा गया है . पुलिस जिला प्रशासन अग्निशमन राजस्व प्राप्ति के कार्यालय निबंधन परिवहन आदि.लॉक डाउन की अवधि में किसी सरकारी कार्यालय को अत्यावश्यक कार्यवश खोला जा सकता है. परंतु संबंधित कार्यालय प्रधान द्वारा कर्मियों की न्यूनतम संख्या के साथ अत्यावश्यक सरकारी कार्यों का निष्पादन किया जा सकेगा. साथ ही यह उप कार्यालय प्रधान की जिम्मेवारी होगी कि सरकार द्वारा निर्गत सभी सोशल डिस्टेंसिंग मानकों का पालन हो रहा हो अथवा कार्यस्थल पर फेस मास्क अथवा फेस कवर का उपयोग करना होगा। 2/क्या वाहनों के परिचालन के लिए पास की आवश्यकता है?नहीं.अति आवश्यक सेवाओं के लिए वाहन का उपयोग किया जा सकेगा तथा सामानों का क्रय आसपास के दुकानों से क्रय किया जाना अपेक्षित होगा. वाहन के परिचालन के क्रम में यातायात नियमों का पालन करना होगा तथा मास्क पहनना एवं सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन अनिवार्य होगा. 3/रेल सेवा/ विमान सेवा/ सार्वजनिक बस सेवा कार्यरत रहेगी?हां.रेल सेवा विमान सेवा सार्वजनिक बस सेवा के परिचालन पर किसी प्रकार की रोक नहीं है. यात्रियों को अपने गंतव्य स्थल तक जाने हेतु पास की आवश्यकता नहीं है वे अपने टिकट को पास के रूप में उपयोग कर सकेंगे वाहन को उपयोग के समय यातायात नियमों का पालन किया जाना आवश्यक होगा

Read more

10 से 16 जुलाई तक लॉकडाउन

कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए बिहार सरकार ने कड़ा फैसला किया है. बिहार के सभी जिलाधिकारियों को सरकार ने लॉकडाउन लगाने के लिए अधिकृत कर दिया है. पटना में जिलाधिकारी कुमार रवि ने 10 जुलाई से 16 जुलाई तक लॉक डाउन करने की घोषणा की है. इस दौरान पटना पूरी तरह बंद रहेगा. हालांकि आवश्यक सेवाओं को छूट रहेगी. सरकारी और निजी तमाम दफ्तर बंद रहेंगे सभी दुकानें बंद रहेंगी सिर्फ अस्पताल और अन्य इमरजेंसी सेवाओं को खुला रखने की छूट दी गई है बता दें कि पटना में मंगलवार शाम तक 1400 पॉजीटिव हो चुके थे. कोरोना संक्रमण से 12 लोगों की पटना में अब तक मौत हो चुकी है. डीएम के आदेश के मुताबिक दूध, फल-सब्जी और राशन की दुकानें खुली रहेंगी. हालांकि इन्हें खोलने का वक्त भी तय कर दिया गया है. सुबह 6:00 से 10:00 और शाम में 4:00 से 7:00 के बीच ही कोई भी दुकान खुलेगी. दवा की दुकानों के लिए समय का कोई प्रतिबंध नहीं है. राजेश तिवारी

Read more

अब हर दिन घर पर मंगाइये गरमागरम खाना

लॉक डाउन के दौरान आपके काम की खबर लॉक टाउन में बाहर के लजीज खानों के लिए तरस रहे पटना वासियों के लिए अच्छी खबर है. गुरुवार से अब हर दिन रेस्टोरेंट्स खुलेंगे . जी हां रेस्टोरेंट हर दिन खुलेंगे और शर्तों के साथ आपके मनपसंद खाने की होम डिलीवरी भी करेंगे. आप खुद रेस्टोरेंट नहीं जा सकते. फोन करके खाना ऑर्डर कीजिए और शाम 6:00 बजे से पहले आप के खाने की होम डिलीवरी हो जानी चाहिए. पटना डीएम कुमार रवि ने रेस्टोरेंट्स के साथ-साथ किताबों की दुकानें खोलने के लिए आदेश जारी किए हैं. किताबों की दुकान सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को ही खुलेगी. किताबों की दुकानों के लिए वही नियम लागू होंगे जो इलेक्ट्रॉनिक, इलेक्ट्रिकल और ऑटो स्पेयर्स की दुकानों के लिए हैंं. राजेश तिवारी

Read more