पटना डुबोने वालों पर गिरी गाज

पटना (ब्युरो रिपोर्ट) | गत वर्ष बरसात में पटना लगभग डूब गया था. इसका कारण आकाश से आए वर्षा का पानी नहीं बल्कि पटना से पानी निकालने वाले सभी स्रोतों का फेल होना था. पटना के जल जमाव के बाद इसके लिए एक जांच समिति गठित की गई थी. इस समिति की रिपोर्ट के बाद 27 अधिकारियों पर गाज गिरी है. इस बावत नगर विकास विभाग के सचिव आनंद किशोर ने सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. सचिव ने बताया कि गाज गिरने वाले अधिकारियों में बुडको के तत्कालीन प्रबंध निदेशक (एमडी) और आईएएस अधिकारी अमरेन्द्र प्रसाद सिंह भी शामिल हैं. पटना नगर निगम के तत्कालीन आयुक्त अनुपम कुमार सुमन (आईआरएस सेवा) के खिलाफ कार्रवाई के लिए केन्द्र सरकार से अनुशंसा की जाएगी. जल जमाव के लिए दोषी 14 अभियंताओं को भी निलंबित कर विभागीय कार्यवाही की जाएगी. वहीं संविदा पर तैनात 7 अभियंताओं को कार्युमक्त करने का निर्णय लिया गया है. बुडको एमडी अमरेन्द्र प्रसाद सिंह ने ढिलई कीनगर विकास विभाग के सचिव आनंद किशोर ने सोमवार को बताया कि जल जमाव के बाद गठित जांच समिति की रिपोर्ट और इसपर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अनुमोदन के बाद यह कार्रवाई की गई है. जिन अधिकारियों पर कार्रवाई हुई है उनके खिलाफ गंभीर आरोप हैं. बुडको के तत्कालीन एमडी पर संप हाउस की व्यवस्था की मॉनिटरिंग और संचालन की व्यवस्था की समीक्षा नहीं की गई. रख-रखाव और मरम्मति कार्य का अनुश्रवण भी नहीं किया गया.पहले से बरसात के मौसम को लेकर कोई प्लान नहीं थातत्कालीन नगर आयुक्त और वर्तमान में

Read more