समाज के कमजोर तबकों के साथ मिलकर काम करेगा कायस्‍थ महासभा : राजीव

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट)। अखिल भारतीय कायस्‍थ महासभा की राज्‍य कार्यकारिणी की बैठक रविवार को गेट टू गेदर हॉल, पटना में संपन्‍न हुई. बैठक की अध्‍यक्षता करते हुए अखिल भारतीय कायस्‍थ महासभा के बिहार प्रदेश अध्‍यक्ष जे के दत्ता ने कहा कि बेरोजगारी की समस्‍या को खत्‍म करने का उचित प्रयास हमारी प्राथमिकता है. साथ ही महासभा को मजबूत करना भी हमारा प्रमुख उद्देश्‍य है.
इस मौके पर महासभा के राष्‍ट्रीय कार्यकारी अध्‍यक्ष राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि अखिल भारतीय कायस्‍थ महासभा समाज के कमजोर तबकों के साथ मिलकर काम करेगा, क्‍योंकि हमारी ताकत समाज के कमजोर तबकों के पास है. उन्‍होंने कहा कि मौजूदा दौर में शहर में हमारे समाज की उपस्थिति प्रभावकारी है. इसके बाद भी कायस्‍थ समाज की हिस्‍सेदारी बिहार विधान सभा में नगण्‍य है. यह दर्शाता है कि अपने इतिहास और विरासत के अनुसार व्‍यवस्‍था में हमारा हस्‍तक्षेप बेहद कम है.
उन्‍होंने कहा कि कायस्‍थ समाज की शक्ति को बढ़ाने के लिए महासभा ‘कदम’ नाम के संगठन और अन्‍य सामाजिक समूहों के साथ मिलकर काम आरंभ करेगी। जल्‍द ही इसके संगठनात्‍मक ढ़ांचों का एलान किया जायेगा। उन्‍होंने कहा कि पिछली बैठक में समाज के उपेक्षित समूहों के साथ सामाजिक स्‍तर पर एक समीकरण बनाने की बात पर सहमति बनी थी. अब हमें उससे आगे काम करना है. राजीव रंजन प्रसाद ने ज्‍यादा से ज्‍यादा कायस्‍थों को जोड़ने और सदस्‍यता अभियान पर बल दिया. साथ ही उन्‍होंने समाज में दहेज प्रथा को रोकने के हर संभव प्रयास पर भी जोर दिया.
बैठक में अखिल भारतीय कायस्‍थ महासभा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष राजीव रंजन प्रसाद, प्रदेश अध्‍यक्ष जे के दत्ता के अलावा प्रदेश सचिव श्रीमती अर्पणा भारती, दीपक अभिषेक, कोषाध्‍यक्ष सुनील कुमार सिन्‍हा, संजय कुमार, अनूप ठाकुर, श्‍यामजी सहाय आदि लोग मौजूद रहे.