सरयू-गंगा-सोन संगम तट पर माघ मेला महोत्सव का आयोजन

कोइलवर/बिंदगावां (आमोद कुमार की रिपोर्ट) | बलवंत टोला-माघ सक्रांति व मक्रान्ति के अवसर पर लाखों लोगों ने त्रिवेणी संगम बिंदगावां- बलवंत टोला में आस्था की डुबकी लगाई. बारह बरसो के उपरांत वेणी राज्य तीर्थ सरयू-गंगा-सोन संगम तट पर माघ मेला महोत्सव का आयोजन स्वामी योगानंद जी महाराज के सानिध्य में सनातन धर्म के अनुरूप धार्मिक अनुष्ठान का आयोजन कर विधिवत पूजा अर्चना की गई. इस दौरान अखण्ड संकीर्तन का आयोजन स्थानीय श्रद्धालुओं के द्वारा किया गया. अहले सुबह से ही त्रिवेणी संगम में कुम्भ स्नान हेतु श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा . कुम्भ स्नान में स्वामी योगानंद जी महाराज के नेतृत्व में सर्वप्रथम ठाकुर जी का शोभायात्रा निकाल कर शाही स्नान कराया गया, तत्पश्चात सवा लाख पार्थिव पूजन एवं हवन किया गया. संध्या बेला में गंगा आरती कर विश्व शांति एवं समाज कल्याण की कामना की गई.

इस अवसर पर स्थानीय समाजसेवी शक्ति सिंह,परमात्मा राय सहीत कई प्रबुद्ध लोगो के अलावा युवाओं ने संगम तट पर आए लोगों को दही चुड़ा का प्रसाद ग्रहण करवाया. इस बाबत स्वामी योगानंद जी महाराज ने बताया कि ऐसा योग सदी में कभी कभी ही आता है, इस कुम्भ स्नान के उपरांत दरिद्रता का नाश होता है, समस्त असुरी शक्तियों का विनाश हो जाता है. समाज का उत्थान होता है. वही समाजसेवी शक्ति सिंह ने सरकार,प्रशासन एवं जनप्रतिनिधियों से वेणी राज्य तीर्थ संगमेश्वर नाथ धाम को विकसित करने की मांग दुहराई. दियारांचल इलाके में आस्था का जनसैलाब देर शाम तक सनातन धर्म को रेखांकित तथा परिभाषित करता दिख रहा था.