इको पार्क को मिला नया प्रवेश द्वार

बच्चे करेंगे राजधानी जलाशय का दीदार




सीएम नीतीश कुमार ने राजधानी वाटिका के नये प्रवेश द्वार का उद्घाटन किया. मुख्यमंत्री ने राजधानी वाटिका का भ्रमण किया और राजधानी वाटिका के बारे में अधिकारियों के साथ विमर्श किया. दरअसल जिस जगह वर्तमान में इको पार्क का मुख्य प्रवेश द्वार है वो रास्ता सचिवालय के लिए मुख्य रास्ता है. इको पार्क के कारण इस रास्ते में अक्सर जाम लगता था और यहां पार्किंग की व्यवस्था भी नहीं थी. नये प्रवेश द्वार के पास पार्किंग के पर्याप्त इंतजाम रहेंगे.


राजधानी वाटिका के नये एन्ट्री गेट के उद्घाटन के बाद मुख्यमंत्री ने सचिवालय तालाब परिसर का भ्रमण किया. मुख्यमंत्री ने सचिवालय तालाब का नामकरण ‘राजधानी जलाशय’ के रूप में किया. आज से सचिवालय तालाब ‘राजधानी जलाशय’ के नाम से जाना जायेगा. भ्रमण के दौरान मुख्यमंत्री ने तालाब के पास सोलर पम्प लगाने, और वृक्ष लगाने के साथ-साथ राजधानी जलाशय परिसर के सौंदर्यीकरण के लिये अधिकारियों को कई दिशा-निर्देश भी दिये.

राजधानी जलाशय परिसर में सिर्फ बच्चों का प्रवेश होगा. बच्चों का प्रवेश भी ग्रुप में और ट्रेंड गाइड के साथ होगा. गाइड वन विभाग द्वारा प्रशिक्षित होंगे, जो बच्चों को पक्षियों, हरियाली एवं पर्यावरण से संबंधित विस्तृत जानकारी देंगे. इस परिसर में पक्षियों की कुछ विशेष प्रजाति को संरक्षित करने की व्यवस्था की गयी है.

कार्यक्रम के दौरान उपमुख्यमंत्री, भवन निर्माण मंत्री, मुख्य सचिव और वन, पर्यावरण एवं जलवायु विभाग के प्रधान सचिव दीपक कुमार सिंह भी मौजूद थे.