डॉ. डी. वाई. पाटिल पुष्पलता पाटिल इंटरनेशनल स्कूल का एनुअल स्पोर्ट्स मीट सम्पन्न

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | शनिवार 2 फरवरी को डॉक्टर डी. वाई. पाटिल पुष्पलता पाटिल इंटरनेशनल स्कूल का वार्षिक क्रीड़ोत्सव पाटलिपुत्र स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स, पटना में आयोजित हुआ. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कुंदन. कृष्णन, ए.डी. जी. तथा जय कुमार सिंह, उद्योग मंत्री , बिहार सरकार रहे. अजय कुमार सिंह, जनरल सेक्रेटरी, जेडीयू विशिष्ट अतिथि रहे. अतिथियों का स्वागत विद्यालय के निदेशक डॉ. सी. बी. सिंह ने पुष्पगुच्छ देकर किया. बच्चों द्वारा ‘हे परमेश्वर….’ स्वागत – गान प्रस्तुत किया गया. कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि कुंदन कृष्णन, जय कुमार सिंह, सचिव प्रेम रंजन सिंह, निदेशक डॉ. सी. बी. सिंह एवं प्राचार्या श्रीमती राधिका के. ने संयुक्त रूप से मशाल प्रज्वलित कर किया. बच्चों द्वारा प्रस्तुत किया गया’ मार्च पास्ट’ और ‘शपथ ग्रहण समारोह’ अत्यंत आकर्षक रहे.

मुख्य अतिथि कुंदन कृष्णन ने बच्चों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि यह बच्चे अलग- अलग खेलों में भाग लेकर अपनी प्रतिभा का परिचय दे रहे हैं. अध्ययन के साथ- साथ खेलों का भी हमारे जीवन में महत्त्वपूर्ण स्थान है. आधुनिक परिवेश में आवश्यकता इस बात की है कि बच्चों का सर्वांगीण विकास हो. अध्ययन के अतिरिक्त वे खेलकूद में भी भाग लें. ‘अनेकता में एकता’ इस भारतीय – संस्कृति को प्रदर्शित करते हुए बच्चों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर समारोह का शुभारंभ किया.




कक्षा प्रथम एवं द्वितीय के छात्रों द्वारा सामूहिक व्यायाम (ड्रिल) का प्रदर्शन किया गया, जिससे उनके अनुशासन की झलक मिली. कक्षा छठीं से आठवीं के छात्र-छात्राओं के लिए 100 मीटर एवं 200 मीटर दौड़, रिले दौड़, कक्षा नौंवी से ग्यारहवीं के लिए 100 मीटर दौड़, जैसे खेलों का आयोजन किया गया. विद्यार्थियों के अतिरिक्त अभिभावकों के लिए भी 100 मीटर दौड़ का आयोजन किया गया, जिसमें उन्होंने बढ़ – चढ़कर हिस्सा लिया तथा अपने बचपन की यादों को ताजा किया. तत्पश्चात् शिक्षकों एवं शिक्षकेतर कर्मचारियों के लिए भी 100 मीटर दौड़ – प्रतियोगिता आयोजित की गई, जिसमें उन्होंने अपनी स्फूर्ति का परिचय दिया. इस प्रकार केवल बच्चों के लिए ही नहीं, अभिभावकों एवं शिक्षकों के लिए भी यह दिन यादगार बन गया.

बेस्ट हाउस का ख़िताब नीलगिरी हाउस ने जीता वहीं रनर अप का ख़िताब हिमगिरी हाउस को मिला . दोनों को क्रमशः 101 पॉइंट्स और 90 पॉइंट्स मिले. बेस्ट मार्च पास्ट का ख़िताब अरावली हाउस को मिला . वहीं बेस्ट अनुशासित हाउस का ख़िताब विन्ध्या हाउस को मिला. अनुशासन में दूसरा स्थान नीलगिरी हाउस ने प्राप्त किया. 100 मीटर दौड़ में सब जूनीयर लड़कों में रिशु राज नीलगिरी हाउस तथा लड़कियों में श्रेया विन्ध्या हाउस से विजेता रही. जूनियर लड़कों में महाराणा प्रियांशु नीलगिरी हाउस तथा लड़कियों में आन्या राज विन्ध्या हाउस से विजेता रही. सीनियर लड़कों में हर्षवर्धन विन्ध्या हाउस और लड़कियों में दीक्षा अरावली हाउस से विजेता रही. इन सभी विजेताओं को पुरस्कृत किया गया.

मुख्य अतिथि जय कुमार सिंह ने कहा कि खेल – उत्सव के आयोजन से बच्चों में नई स्फूर्ति एवं नई चेतना का संचार हुआ है. विद्यार्थी- जीवन में खेल भी उतना ही आवश्यक है, जितना कि अध्ययन. अध्ययन से मस्तिष्क का विकास होता है तो खेलों से शारीरिक शक्ति का. स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क का वास होता है. स्वस्थ शरीर के लिए खेलकूद अत्यंत आवश्यक है. शरीर के पोषण में पौष्टिक आहार की भांति खेल – कूद की भूमिका भी महत्त्वपूर्ण है इसलिए इसके महत्व को नकारा नहीं जा सकता. व्यायाम एवं योगाभ्यास से शरीर स्वस्थ और बलशाली बनता है. अतः प्रतिदिन कुछ समय हमें व्यायाम एवं खेलकूद में देना चाहिए.प्राचार्या श्रीमती राधिका के. ने खेलों का महत्त्व बताते हुए कहा कि इनसे जीवन में शिष्टाचार एवं आपसी एकता जैसे गुण भी आते हैं. खेल मनोरंजन मात्र नहीं है, यह हमें जीवन को व्यवस्थित ढंग से जीने की सीख देता है. विद्यालय की प्राचार्या श्रीमती राधिका के. ने अतिथियों का आभार भी प्रकट किया. राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ.