क्लिक करें और जानें अपना इंटर का रिजल्ट

बिहार इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा, 2019 का परीक्षाफल जानने के लिए नीचे दिए किसी भी लिंक पर क्लिक करें – ◆http://www.bsebinteredu.in ◆www.biharboardonline.bihar.gov.in ◆http://bsebbihar.com

Read more

डॉ जे के प्रसाद बने बिहार वेटनरी कॉलेज के अधिष्ठाता (डीन)

पटना (अजीत) | डॉ जे.के. प्रसाद ने बिहार पशु चिकित्सा महाविद्यालय, पटना में अधिष्ठाता के तौर पर योगदान दिया. इससे पहले डॉ एस. समंतराय प्रभारी डीन के तौर पर कार्य कर रहे थे. इस अवसर पर नवनियुक्त अधिष्ठाता डॉ जे के प्रसाद ने कहा की जिस तरह बिहार पशु चिकित्सा महाविद्यालय ने अपनी एक अलग पहचान बनायीं है, उसे और आगे ले जाने के लिए प्रतिबद्ध रहूँगा. अपने कार्यानुभव से यह विश्वविद्यालय और महाविद्यालय को शिखर तक ले जाने के लिए हर संभव प्रयास करूँगा, बिहार पशु चिकित्सा महाविद्यालय पुरे भारत का चौथा सबसे पुराना पशु चिकित्सा महाविद्यालयों में से एक है, इस संस्थान का गौरव कायम रहे साथ ही और प्रगति करे यह सुनिश्चित करना मेरी प्राथमिकता होगी.कई प्रतिष्ठित संस्थानों में सेवाएँ दे चुके है डॉ. प्रसादडॉ प्रसाद ने पशुचिकित्सा महाविद्यालय, मथुरा से स्नातक किया है, स्नातकोत्तर के लिए भारतीय पशुचिकित्सा अनुसंधान संस्थान, इज्ज़त्नगर, उत्तर प्रदेश में चयन हुआ, डॉ प्रसाद ने जी.बी पन्त विश्वविद्यालय, पंतनगर से पि.एचडी की डिग्री हासिल की, इन्होंने पशुचिकित्सा महाविद्यालय पंतनगर में पशु प्रसूति विभाग में बतौर एसोसिएट प्रोफेसर,भारतीय पशुचिकित्सा अनुसंधान संस्थान, इज्ज़त्नगर, उत्तर प्रदेश में प्रिंसिपल साइंटिस्ट और विगत कई सालों से भारतीय पशुचिकित्सा अनुसंधान संस्थान, डीम्ड यूनिवर्सिटी में अकादमिक कोऑर्डिनेटर के तौर पर कार्यरत थे. डॉ प्रसाद के नाम इक्यानवे रिसर्च पेपर्स, छप्पन आर्टिकल्स, दो पेटेंट, चौदह रिसर्च प्रोजेक्ट्स और कई अवार्ड्स शामिल है. इन्हें तीन बार यंग साइंटिस्ट अवार्ड से नवाजा जा चूका है.इस अवसर पर डॉ एसआरपी सिन्हा, डॉ चद्रमणि सहित विश्वविद्यालय के तमाम शिक्षक और कर्मचारीगण मौजूद थे.

Read more

डॉ. डी. वाई. पाटिल पुष्पलता पाटिल इंटरनेशनल स्कूल का एनुअल स्पोर्ट्स मीट सम्पन्न

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | शनिवार 2 फरवरी को डॉक्टर डी. वाई. पाटिल पुष्पलता पाटिल इंटरनेशनल स्कूल का वार्षिक क्रीड़ोत्सव पाटलिपुत्र स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स, पटना में आयोजित हुआ. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कुंदन. कृष्णन, ए.डी. जी. तथा जय कुमार सिंह, उद्योग मंत्री , बिहार सरकार रहे. अजय कुमार सिंह, जनरल सेक्रेटरी, जेडीयू विशिष्ट अतिथि रहे. अतिथियों का स्वागत विद्यालय के निदेशक डॉ. सी. बी. सिंह ने पुष्पगुच्छ देकर किया. बच्चों द्वारा ‘हे परमेश्वर….’ स्वागत – गान प्रस्तुत किया गया. कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि कुंदन कृष्णन, जय कुमार सिंह, सचिव प्रेम रंजन सिंह, निदेशक डॉ. सी. बी. सिंह एवं प्राचार्या श्रीमती राधिका के. ने संयुक्त रूप से मशाल प्रज्वलित कर किया. बच्चों द्वारा प्रस्तुत किया गया’ मार्च पास्ट’ और ‘शपथ ग्रहण समारोह’ अत्यंत आकर्षक रहे. मुख्य अतिथि कुंदन कृष्णन ने बच्चों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि यह बच्चे अलग- अलग खेलों में भाग लेकर अपनी प्रतिभा का परिचय दे रहे हैं. अध्ययन के साथ- साथ खेलों का भी हमारे जीवन में महत्त्वपूर्ण स्थान है. आधुनिक परिवेश में आवश्यकता इस बात की है कि बच्चों का सर्वांगीण विकास हो. अध्ययन के अतिरिक्त वे खेलकूद में भी भाग लें. ‘अनेकता में एकता’ इस भारतीय – संस्कृति को प्रदर्शित करते हुए बच्चों ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत कर समारोह का शुभारंभ किया. कक्षा प्रथम एवं द्वितीय के छात्रों द्वारा सामूहिक व्यायाम (ड्रिल) का प्रदर्शन किया गया, जिससे उनके अनुशासन की झलक मिली. कक्षा छठीं से आठवीं के छात्र-छात्राओं के लिए 100 मीटर एवं 200 मीटर दौड़, रिले दौड़, कक्षा नौंवी से ग्यारहवीं के लिए

Read more

शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन

कोइलवर/भोजपुर (आमोद कुमार की रिपोर्ट) | कोईलवर प्रखंड के मध्य विद्यालय बालक कोईलवर में भव्य शिक्षक सम्मान-सह-विदाई समारोह का आयोजन बृहस्पतिवार 31 जनवरी को किया गया. इस समारोह में सेवानिवृत्त निकासी एवं व्ययन पदाधिकारी, अंचल- कोईलवर -सह- प्रधानाध्यापक मध्य विद्यालय बालक कोईलवर, शंभूनाथ पाठक, विरेन्द्र सिंह, कन्या प्राथमिक विद्यालय, खनगांव, नन्द जी राम, उमवि कुंजन टोला, प्रमिला सिंन्हा, मवि सकड्डी, राम बली भारती, प्रावि टी.बी. सेंटोरियम, मो. मुस्तफा, उमवि देवरिया, सुरेश प्रसाद, कन्या मवि कोईलवर और सूर्य नारायण राय, कन्या मवि चांदी को अंगवस्त्र, अभिनन्दन पत्र, बैग और भारतीय संविधान सहित अन्य सामान देकर सम्मानित किया गया. इस आयोजन ने शिक्षकों की गरिमा और संकल्प को रेखांकित करने का मार्ग प्रशस्त किया है. समारोह में जिले के सभी शिक्षक संगठनों के शिक्षक साथी, ने अपने वक्तव्य में शिक्षकों की भूमिका को रेखांकित किया और सेवानिवृत्त होने शिक्षकों का अनुकरण करने की बात कही. सर्वप्रथम, छात्राओं ने स्वागत गीत से सेवानिवृत्त शिक्षकों एवं आगंतुकों का स्वागत किया और शिक्षिका अर्चना कुमारी ने अंत में अपने विदाई गीत से भाव विभोर कर दिया. लोकगीत के मूर्धन्य कलाकार सुदर्शन तिवारी शाहबादी, विरेन्द्र ओझा विमल, अनिता कुमारी और साथियों ने अपने गीत-संगीत से कार्यक्रम में चार चांद लगाने का कार्य किया. इस शिक्षक सम्मान समारोह की अध्यक्षता भोजपुर जिले के लिए एक आदर्श के रुप में प्रतिस्थापित प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी कोईलवर, हीरालाल सिंह तथा मंच संचालन जाने माने कवि, साहित्यकार, शिक्षक राजाराम सिंह “प्रियदर्शी” ने किया. इस अवसर पर कार्यक्रम को संबोधित करने वालों में जिले के प्रतिष्ठित शिक्षकों में प्राथमिक शिक्षक संघ भोजपुर

Read more

करियर पॉइंट, भागलपुर के छात्रों का जेईई मेन परीक्षा में अद्भुत प्रदर्शन

भागलपुर (ब्यूरो रेप्रोट) | पुरे देश में आयोजित जेईई मेन परीक्षा में करियर पॉइंट भागलपुर के छात्र-छात्राओं ने एक बार फिर सफलता का परचम लहराया है. करियर पॉइंट भागलपुर के कई छात्रों ने जेईई मेन परीक्षा में 95 परसेंटाइल से ऊपर अंक लाकर अपने आप को सिद्ध किया है. करियर पॉइंट के छात्रों के इस शानदार प्रदर्शन से न सिर्फ छात्रों के परिवार या संस्थान में ख़ुशी का माहौल बना हुआ है बल्कि पूरा जिला गर्वान्वित महसूस कर रहा है. करियर पॉइंट के निदेशक डॉ मधुरेंद्र कुमार ने बताया कि संस्थान के चार छात्रों ने 97 परसेंटाइल से ऊपर अंक प्राप्त किया वहीं अन्य कई ने 90 परसेंटाइल को पार किया. उन्होंने बताया कि संस्थान के छात्र राज पराशर ने 97.90, दानिश ने 97.77, ऋतिक राज ने 97.75, माधव झुनझुनवाला ने 97.70 परसेंटाइल अंक लाया. साथ ही संपन्ना राजश्री ने 95.63, आलोक कुमार ने 93.40 परसेंटाइल अंक प्राप्त किया तो वहीं अयाज, अर्पिता, मनीष, मिथिलेश, सौरव, सोनाली, अभिषेक, अंकुर समेत अन्य कई छात्रों ने 85 परसेंटाइल को पार किया. संस्थान के छात्रों के सफलता से अभिभूत निदेशक डॉ मधुरेंद्र कुमार ने सभी सफल छात्रों को सफलता की बधाई दी एवं उन्हें जीवन में आगे भी निरंतर सफलता की अग्रिम शुभकामनाएं दी. डॉ मधुरेंद्र कुमार ने आगे कहा कि इस सफलता को देखने से प्रतीत होता है कि करियर पॉइंट इंजिनियरिंग एवं मेडिकल के लिए बिहार झारखंड के चुनिंदा संस्थानों में से एक है. साथ ही उन्होंने उच्च शिक्षा के लिए बिहार एवं झारखंड के विद्यार्थियों को बेहतर सुविधाएं देने की

Read more

कैंसर का इलाज अब संभव

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | कैंसर का डर लोगों के जेहन तक में बैठा हुआ है. कैंसर तेजी से फैलने वाली बीमारियों में शुमार है. अलग अलग कैंसर के कारण भी अलग होते हैं. गंगा के इलाकों में रहने वालों को कैंसर का खतरा अधिक होता है. शोध से पता चला है कि गंगा नदी के इलाकों में आर्सेनिक की अधिकता के कारण कैंसर होने का खतरा ज्यादा बढ़ जाता है. वहीं तंबाकू, गुटका, पान मशाला के सेवन से मुंह के कैंसर का खतरा और ज्यादा बढ़ गया है. मुंह का कैंसर सबसे तेजी से फैलने वाली बीमारी मानी जाती है और तीसरे चरण के मरीज की उम्र महीने में होती है. आईजीआईएमएस के ऑंकोलोजी ( दवा) विभाग के हेड डॉ अविनाश पांडे का कहना है कि कैंसर लाईलाज नहीं है, बस सावधानी की जरुरत है. उनका कहना है कि कैंसर का शुरुआत में पता चलने पर मरीज के ठीक होने की संभावना शत प्रतिशत होती है. डॉ पांडे ने बताया कि शरीर में सेल्स ग्रुप का अनियंत्रित वृद्धि हीं कैंसर है.ये सेल्स टिश्यू को प्रभावित कर शरीर के अन्य हिस्सों में फैलने लगते हैं और कैंसर बढ़ता चला जाता है. डॉ अविनाश के अनुसार गुटका पान मशाला से मुंह के कैंसर ने महामारी का रूप धारण कर लिया है. इसकी शुरुआत मुंह में लाल या सफेद धब्बा पाया जाता है. कुछ लोगों में ठीक नहीं होने वाला मुंह का छाला भी हो सकता है. डॉ अविनाश का कहना है कि मुंह के कैंसर को फैलने में देर नहीं लगती. शुरुआती

Read more

देशी मुर्गी विलायती बोल के चक्कर में पिछड़ रही है मगही

नई दिल्ली / पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | रविवार 6 जनवरी को विश्व पुस्तक मेला, प्रगति मैदान में कविता कोश द्वारा आयोजित “उत्तर भारतीय भाषा, बोली और साहित्य : एक परिचर्चा ” में मगही भाषा पर संवाद हेतु आमंत्रित नालंदा के युवा कवि संजीव कुमार मुकेश से जब यह सवाल किया गया कि मगही आज भोजपुरी और मैथिली से क्यों पिछड़ रही है. इस पर मुकेश ने कहा कि देशी मुर्गी विलायती बोल के चक्कर में मगही पिछड़ रही है. आज हम अपने स्टेटस को मेन्टेन करने के लिये घर में भी हिंदी तो छोड़िये अंग्रेजी को बोल चाल की भाषा बना रहे हैं. बच्चों से संवाद की भाषा भी अंग्रेजी बनती जा रही है. जबकि लोकभाषा में संवाद एक अपनापन पैदा करता है. किसी व्यक्ति तक कोई बात लोक भाषा में आसानी से दिल के करीब तक पहुंचाई जा सकती है, क्योंकि लोक भाषाएं दो व्यक्तियों को वैसे ही जोड़ती है जैसे माँ की कोख. यही कारण है कि बड़े बड़े मंचो से भी शुरुआत इस क्षेत्र की लोकभाषा के अभिवादन शब्दों के साथ खूब किया जा रहा है. मुकेश ने मगही के शुरुआती दौर से आज मगही में हो रहे समृद्ध साहित्यिक विकास की चर्चा की. इस अवसर अंगिका से प्रसून लतांत, अवधी से अमरेन्द्र नाथ त्रिपाठी, बज्जिका से हरि नारायण हरि, मैथिली से कैलाश मिश्र, ब्रज से श्रुति पुरी व भोजपुरी से विनय भूषण जी ने भाग लिया. कार्यक्रम का संचालन रश्मि भारद्वाज ने किया. इस अवसर पर सभी आमंत्रित कवियों साहित्यकारों को प्रतीक चिन्ह से कविता कोश के निदेशक ललित कुमार, संयुक्त

Read more

किसके सम्मान से प्रफुल्लित है भोजपुर ?

बधाईयों और सम्मान का लगा ताँता आरा, 5 जनवरी. कहते हैं कि शोहरत और बुलन्दी जब आपके पैरों में गिर जाए तो फिर दुनिया आपकी हो जाती है. कुछ ऐसी ही भोजपुर के एक ऐसे शख्स ने अपनी शख़्सियत बनाई जिसके बाद लंदन को भी लोहा मनना पड़ा और उन्हें एक विशिष्ट सम्मान से सम्मानित कर दिया. इसके बाद तो जैसे भोजपुर का डंका पूरी दुनिया मे बज गया. हम बात कर रहे हैं शिक्षाविद डॉ कुमार द्विजेन्द्र की, जिन्हें पिछले दिनों दिल्ली के हैबिटेट सेंटर में बॉल्स ब्रिज यूनिवर्सिटी, लंदन द्वारा आयोजित डॉक्टरेट सम्मेलन में शिक्षा, संस्कृति और समाज सेवा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित किया गया. डॉ कुमार द्विजेन्द्र को किसी पहचान की जरूरत नही वे “संभावना आवसीय उच्च विद्यालय, आरा” के निदेशक है. इस सम्मान के बाद बधाई देने और उन्हें सम्मानित करने वालों का तांता लगा हुआ है. कई लोग व्यक्तिगत तो कई संस्थाए उन्हें अपने कार्यक्रमो के बुला सम्मानित कर रही हैं. बताते चलें कि आरा वापस आने के बाद स्कूल में एक कार्यक्रम रखा गया था जिसमे स्कूली बच्चों ने उन्हें सम्मानित किया. इस कार्यक्रम में जिले के कई प्रतिष्ठित व्यक्तियों ने शिरकत किया और उन्होंने भी कुमार द्विजेन्द्र के इस उपलब्धि पर उन्हें सम्मानित और बधाई देकर गर्वान्वित महसूस किया. जो लोग उस समारोह के दौरान नही उपस्थित थे वे अब स्कूल पहुंच बधाई दे रहे हैं. पिछले दिनों इसी क्रम में जदयू नेता भाई जितेंद्र पाण्डेय और छात्र राजद के बिहार प्रदेश उपाध्यक्ष आलोक

Read more

अंग्रेजी ओलंपिया का गोल्ड मेडल जीता बक्सर के स्वराज ओझा ने

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | स्वराज ओझा, जो बक्सर के छोटा सिंघनपुरा के रहने वाले हैं तथा संजीव कुमार और रितु ओझा के बेटे है, ने अंग्रेजी ओलंपियाड में गोल्ड मेल्डल जीता है. पहले भी जब वे पांचवीं क्लास में पढ़ रहे थे तब सायंस ओलंपियाड में ब्रांज मेडल जीता था. इसके अलावा इनकी स्टोरी को स्टोरी मिरर स्टोरी राइटिंग कंपीटिशन में शामिल किया है. स्वराज ओझा अभी दिल्ली के समरविले स्कूल की सातवीं क्लास में पढ़ते हैं. स्वराज ओझा के चाचा अभिषेक कुमार बापू स्मारक महिला उच्च विद्यालय में शिक्षक के पद पर कार्यरत हैं.

Read more

लंदन ने दिया सम्मान,तो घर मे जश्न का हुआ माहौल

भोजपुरवासियों के धन्यवाद का लगा ताँता मेरा नही छात्रों और शिक्षकों के मेहनत का है यह सम्मान : कुमार द्विजेन्द्र आरा, 22 दिसम्बर. कहते हैं कि अगर सच्चे मन और निष्ठा के साथ यदि आप कार्य करें तो पुरी दुनिया आपकी मुरीद बन जाती है. शिक्षा के माध्यम से अपने बेहतरीन काम की वजह से कला, खेल और सामाजिक गतिविधियों में लगातार बेहतर परिणाम देने वाले सम्भावना स्कूल के प्रबन्ध निदेशक, कुमार द्विजेन्द्र को लंदन की यूनिवर्सिटी ने सम्मानित कर इस कथन को साबित कर दिया है. लंदन की बॉल्स ब्रीज यूनिवर्सिटी उनके उत्कृष्ट कार्यो की मुरीद बन उन्हें PHD की उपाधि से सम्मानित किया है. पिछले दिनों यह सम्मान उन्हें यूनिवर्सिटी द्वारा दिल्ली में प्रदान किया गया. कुमार द्विजेन्द्र को बॉल्स ब्रीज यूनिवर्सिटी, लन्दन द्वारा डॉक्टरेट की मानद उपाधि से सम्मानित किये जाने के बाद उनके आरा आगमन पर विद्यालय के छात्रा-छात्राओं और शिक्षकों ने शनिवार को विद्यालय में ‘अभिनन्दन समारोह’ का आयोजन कर भब्य स्वागत किया. विद्यालय के छात्र-छात्राओं तथा शिक्षकों द्वारा आयोजित ‘अभिनन्दन समारोह’ में बच्चों ने स्वागत गान प्रस्तुत किया तथा निदेशक को माल्यार्पण कर स्वागत किया. तत्पचश्चात् विद्यालय की प्राचार्या डॉ. अर्चना सिंह ने निदेशक, कुमार द्विजेन्द्र को बुके और अंग-वस्त्र देकर मंच पर स्वागत किया. इस अवसर पर स्वागत सम्बोधन करते हुए प्राचार्या डॉ. अर्चना सिंह ने कहा कि निदेशक कुमार द्विजेन्द्र का सम्मान पूरे विद्यालय परिवार का सम्मान है. एक अन्तर्राष्ट्रीय विवि द्वारा निदेशक को डॉक्टरेट(PHD) की मानद उपाधि से सम्मानित किया जाना विद्यालय के लिए गर्व का विषय है. बताते चलें कि

Read more