प्रो.अनिल कुमार राय ने ग्रहण किया केविवि के कुलपति का प्रभार

कुलाध्यक्ष माननीय राम नाथ कोविंद ने स्वीकार किया प्रो.अरविन्द अग्रवाल का इस्तीफा निवर्तमान वीसी प्रो.अरविंद अग्रवाल ने दिल्ली स्थित असोसिएशन ऑफ इंडियन यूनिवर्सिटीज (ए आई यू) में प्रो.राय को सौंपा कार्यभार उच्च शिक्षा विभाग, मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने जारी किया आदेश अध्ययन-अध्यापन पर रहेगा ज़ोर, सबके सहयोग से आगे बढ़ेगा विवि – प्रो.राय पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | महात्मा गाँधी केन्द्रीय विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति प्रो.अनिल कुमार राय ने गुरुवार 15 नवम्बर को विवि के कुलपति पद का प्रभार ग्रहण कर लिया। इससे पूर्व प्रो.अरविन्द अग्रवाल विवि के कुलपति पद का दायित्व संभाल रहे थे. उनके इस्तीफे को भारत के माननीय राष्ट्रपति और विश्वविद्यालय के कुलाध्यक्ष श्री राम नाथ कोविंद ने स्वीकार कर लिया है. कुलपति का कार्यभार निवर्तमान कुलपति प्रो अरविंद अग्रवाल ने दिल्ली स्थित असोसिएशन ऑफ इंडियन यूनिवर्सिटीज (ए आई यू) में प्रोफेसर अनिल कुमार राय को सौंपा. इस संबंध में उच्च शिक्षा विभाग, मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने आदेश जारी कर अगले आदेश तक या विवि में स्थायी कुलपति की नियुक्ति होने तक प्रो.अनिल कुमार राय को कुलपति पद का दायित्व सौंपा है. प्रो.राय ने इस दायित्व को स्वीकार करने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि चम्पारण की धरती पर स्थित इस विवि.को आगे बढ़ाना गाँधी जी के सपने को साकार करने जैसा है. मेरा प्रयास रहेगा कि विवि में अध्ययन-अध्यापन का माहौल बना रहे. विद्यार्थियों व अध्यापकों को किसी तरह की कठिनाई का सामना न करना पड़े. आगे कहा कि सभी को यह बात मालूम है कि विवि बहुत ही सीमित संसाधनों के साथ आगे

Read more

क्यू मैक्स किड्स स्कूल में मनी दीपावली

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट) | आज क्यू मैक्स किड्स स्कूल, नन्दनपुरी, खाजपुरा, बेली रोड में दीपावली मनाई गई. बच्चों ने शिक्षकों के साथ मिलकर रंगोली बनाई. प्रिंसिपल रीना सिंह तथा वाइस प्रिंसिपल करुणा ने दिवाली पर्व की महत्ता बताई. उन्होंने कहा कि दिवाली पर धन की देवी लक्ष्मी का आगमन होता है. उनके स्वागत के लिए घरों में सदियों से रंगोली बनाने की परंपरा चली आ रही है. विद्यालय के निदेशक विवेक विशाल बतौर निर्देशक विवेक विशाल बतौर मुख्य अतिथि सभी कक्षाओं में शिरकत की. उन्होंने सभी अध्यापकों व विद्यार्थियों को दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं प्रदान की. इस मौके पर कुछ बच्चे विभिन्न देवी-देवताओं, खासकर गणेश तथा माता लक्ष्मी के वेश में विद्यालय आए थे.

Read more

होगा जमावड़ा ‘क्षत्रियंस’ का : स्कूल की यादें होगी ताज़ा

11 नवम्बर को होगा हित नारायण क्षत्रिय स्कूल का पहला एल्युमनी मीट भोजपुर के विख्यात हित नारायण क्षत्रिय उच्च विद्यालय का पहला एल्युमनी मीट(पूर्ववर्ती छात्र समारोह) 11 नवम्बर 2018 को होगा. आयोजन को लेकर स्कूल के पूर्ववर्ती छात्रों की एक बैठक हुई जिसमें कार्यक्रम को लेकर विचार विमर्श किया गया. बैठक में पहला एल्युमनी मीट 11 नवम्बर दिन रविवार को स्कूल प्रांगण में करने का निर्णय लिया गया जिसमें सन 2013 तक के पासआउट छात्र भाग ले सकेंगे .इस कार्यक्रम में स्कूल के पूर्ववर्ती छात्रों के साथ ही ख्यातिनाम शिक्षकों को भी बुलाने का निर्णय लिया गया जिन्हें उस दिन सम्मानित किया जाएगा. पहली बार हो रहे इस आयोजन में देश-विदेश के अलग-अलग हिस्सों मे कार्यरत पूर्ववर्ती छात्र भी भाग ले रहे हैं. ‘क्षत्रियन’ फेसबुक पेज और व्हाट्सएप्प ग्रुप की पहल  कार्यक्रम के दिन कई सत्रों के आयोजन के साथ-साथ रक्तदान शिविर और वृक्षारोपण का भी कार्यक्रम रखा गया है. रक्तदान शिविर और वृक्षारोपण दोनों कार्यक्रम स्कूल कैम्पस में ही आयोजित होगा. आयोजन की सफलता को लेकर छात्रों ने ‘क्षत्रियन’ नाम से फेसबुक पेज और व्हाट्सएप ग्रुप भी बनाया है जिसमें कार्यक्रम में भाग लेने वाले सभी छात्रों को रखा गया है. इस आयोजन में स्कूल के 200 से भी ज्यादा पूर्ववर्ती छात्र भाग ले रहे हैं. आयोजन समिति की बैठक में अमरेन्द्र कुमार, ब्रजभूषण सिंह, नीलेश कुमार, डॉक्टर रोहित कुमार, अभय विश्वास भट्ट, रितेश कुमार, अनिल सिंह, एडवोकेट सुनील कुमार, जितेंद्र पांडेय, विकास सिंह, प्रवीण गहलोत, सुधीर सिंह, मनीष सिंह, अभिमन्यु सिंह, कुमुद पटेल, विकु प्रधान, मयंक भूषण, शशिकांत,

Read more

बच्चों को मिली उद्योग औऱ उद्यम के बारे में जानकारी

बिहार इण्डस्ट्रीज एसोसिएशन ने स्कूल स्तर पर शिक्षाग्रहण कर रहे छात्रों के चिन्तन में उद्योग तथा उद्यमिता के सम्बन्ध में जानकारी देने के उद्देश्य से स्कूल स्तर के बच्चों के बीच एक निबंध प्रतियोगिता-सह- oration कार्यक्रम का आयोजन किया, जिसमें विभिन्न विद्यालयों से बच्चों से “Employment Generation through Building of Enterprise”  विषय पर निबंध लिखवाकर तथा तीन सबसे अच्छे निबंध को एसोसिएशन में भेजने का अनुरोध किया गया. इस प्रयास में 36 विद्यालयों ने बच्चों द्वारा लिखे गये निबंध को प्रेषित किया. प्राप्त सभी निबंधों एक Panel of Judges के समक्ष रखा गया, जिन्होंने सभी निबंध को scrutiny किया. पहले चरण में दिनांक 29-9-2018 को वैसे बच्चों के निबंध पर अपना oration present करने के लिए बुलाया गया जिनका निबंध तुलनात्मक रूप में सामान्य दर्जे का था. शनिवार को final round का Oration आयोजित किया गया जिसमें 31 स्कूल के कुल 73 बच्चों को आमंत्रित किया गया था, जिसमें से 62 बच्चों ने oration programme में भाग लिया. प्रत्येक बच्चे को 3 मिनट के निर्धारित समय में दिये गये विषय पर अपने विचार को jury member के सामने रखने का समय दिया गया. Jury member के रूप में आर्यभट्ट नॉलेज युनिभरसिटी के प्रति कुलपति प्रो. सैयद मोहम्मद करीम, पटना दूरदर्शन केन्द्र की Programme Head डॉ रत्ना पुरकायस्थ, प्रशासनिक सेवा के एक वरीय सेवा निवृत प्रशासक ए. एम. प्रसाद थे. दिनांक 29-9-2018 को आयोजित ओरेशन में से 6 बच्चों के निबंध एवं उनके द्वारा दिये गये ओरेशन के आधार पर फाइनल राउण्ड के ओरेशन में एक बार पुनः उन्हें आज के

Read more

VC ने पूछा-“तो क्या जेल जाऊं? छात्रों ने कहा-“हाँ”

छः दिनों के बाद BEd छात्रों का टूटा अनशन, विवि ने मानी सभी शर्ते वार्तालाप में चला कहानियों का दौर, तीरों की तरह चुभते रहे छात्रों के सवाल छः दिनों तक डटे रहे 15 अनशनकारी छात्र, आधे से अधिक की बिगड़ी थी हालत 6ठे दिन जुटे 3 विधायक और 1 केंद्रीय मंत्री BEd में नामांकन को लेकर छात्र राजद और AISA द्वारा जारी आमरण अनशन,छठे दिन नाटकीय वार्तालाप के बाद समाप्त हुआ. बताते चलें B.ed में नामांकन शुल्क वृद्धि को लेकर छात्र संगठन ने आपति जताई थी और 15 छात्रों ने इस फीस वृद्धि वापस को ले आमरण अनशन किया था,जिसके समर्थन में एक के बाद एक सभी संगठन सामने आ गए और विश्वविद्यालय की खटिया खड़ी कर दी. छात्रों के घोर विरोध और आंदोलन के बाद भी विश्वविद्यालय प्रशासन की नींद नहीं खुली. विश्वविद्यालय प्रशासन छात्रों से वार्तालाप कर बेतहाशा बढ़ाए गये फीस वृद्धि को कम करने की बजाय अपने अड़ियल मिजाज पर कायम रहा. विश्वविद्यालय के इस रवैए पर छात्रों का गुस्सा बढ़ता गया और अनशन का कार्यक्रम एक के बाद दूसरे और तीसरे दिन तक लगातार चलता रहा. तीसरे दिन जब 5 छात्रों की हालत बिगड़ी तो छात्रों की नाराजगी और भी बढ़ गई. चौथे दिन छात्रों ने विश्वविद्यालय कैंपस के अंदर पुतला दहन के साथ-साथ प्रशासनिक भवन में ताला बंदी कर सबको अंदर ही बन्द कर दिया. चौथे दिन पुनः 8 छात्रों की हालत बिगड़ गई जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया. इधर विश्वविद्यालय के प्रॉक्टर डॉ अनवर इमाम ने यह कहा कि अगर रविवार तक

Read more

वर्दी वाला शिक्षक

देवघर/झारखण्ड (प्रीती सिन्हा की खास रिपोर्ट) | हाथ में चौक लिये एक वर्दीधारी अगर किसी ब्लैक बोर्ड पर लिखते दिखे तो लगता है कि वह अपने विभाग के कर्मियो को किसी खास मिशन के बारे बता रहा हो. लेकिन हर बार ऐसा नही होता है. हम जिस वर्दीधारी की बात कर रहे हैं वो देवघर के एसडी पीओ विकास चन्द्र श्रीवास्तव है. बाबा नगरी के एक सरकारी स्कूल, आर एल सर्राफ हाई स्कूल में पढ़ाते मिले विकास चंद्र श्रीवास्तव. और हाँ, पढने वाले कोई पुलिसकर्मी नहीं बल्कि स्कूल के ही छात्र थे. आम तौर पर पुलिस का नाम जेहन में आते ही एक अजीब सी तस्वीर उभर कर आती है लेकिन एक ऐसा भी पुलिस अधिकारी है जो वर्दी पहकर सरकारी स्कूल के बच्चो को पढाने का काम कर रहा है. हमने पता करने की कोशिश की कि आखिर ये वर्दी वाला टीचर बच्चो को क्या पढ़ाता है. इस बाबत हमने बात की खुद विकास चंद्र से. उन्होंने बताया कि भागदौड़ वाली ड्यूटी में से समय निकाल बच्चों को पढ़ाने के पीछे उनका एक बड़ा मकसद है. उन्होंने आगे बताया कि चूँकि देश भर मे साईबर क्राईम के मामले में जामताङा और देवघर, एपी सेंटर के रुप में स्थापित हो चुका है, इसलिए वे बच्चो को साईबर क्राईम से जुड़ी कुछ जरुरी बाते बताते हैं ताकि वे इंटरनेट के गलत इस्तेमाल से बचे और अन्य लोगो को भी बताये. वहीं, स्कूल के छात्रों के अनुसार उन्हें इस नए शिक्षक के साथ बहुत मजा आता है तथा उनसे पढ़ना भी बहुत अच्छा लग

Read more

गांधी जयंती पर स्कूली छात्रों ने क्या क्या-क्या करके बताया

गांधी जयंती पर स्कूली छात्रों ने क्या क्या-क्या कर के बताया : आइये पढ़ते हैं कोइलवर/भोजपुर (अमोद कुमार) | राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के 150वीं जयंती के अवसर पर कोईलवर प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय काजीचक में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया. सर्वप्रथम सुबह में स्कूली बच्चों एवं शिक्षकों के द्वारा प्रभातफेरी निकाली गई. बापू के प्रिय भजन “रघुपति राघव राजाराम, पतित पावन सीताराम” का गायन करते हुए बच्चे हाथ में बैनर और स्वच्छता के श्लोगन लिए गांव में घुमते हुए ग्रामवासियों को गांधी जी के विचारों से अवगत कराया. प्रभातफेरी के उपरांत विद्यालय के शिक्षकों और छात्र-छात्राओं द्वारा संंयुक्त रुप से विद्यालय परिसर की साफ-सफाई का कार्य किया गया. इसके बाद विद्यालय परिसर में बापू के तैल चित्र पर बारी-बारी से छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों द्वारा माल्यार्पण कर पुष्प अर्पित कर गांधी जी के आदर्शों पर चलने का संकल्प भी लिया गया. विद्यालय की छात्रा कृति, रुखसार, नेहा, और छात्र अनिरुद्ध, रंजन,आशीष, जावेद सहित कई छात्र-छात्राओं ने गांधी जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए उनसे प्रेरणा लेने की बात कही. कार्यक्रम में शिरकत कर रहे बच्चों को संबोधित करते हूए विद्यालय के शिक्षक और प्रखंड के पूर्व बीआरपी रह चुके राजाराम सिंह ‘प्रियदर्शी’ ने कहा कि गांधी जी के विचार सत्य, अहिंसा,स्वच्छता, उपवास, सत्याग्रह,मेल -मिलाप आज 21 वीं सदी में भी उतने ही प्रासंगिक हैं. हमें भी उनके आदर्शों पर चलते हुए देश के विकास में अपना योगदान देने की जरुरत हैं. बच्चे भारत के वर्तमान और भविष्य दोनों हैं इसलिए गांधी जी के विचारों को आत्मसात करने की

Read more

नियोजित शिक्षकों के लिए आने वाला है बड़ा फैसला

करीब एक साल से सरकार और कोर्ट के चक्कर में पड़े बिहार के लाखों नियोजित शिक्षकों के लिए एक बार फिर राहत भरी खबर है. सुप्रीम कोर्ट में जारी सुनवाई में इस महीने ही बड़ा फैसला आने की उम्मीद बढ़ गई है. नियोजित शिक्षकों के समान काम समान वेतन मामले की सुप्रीम कोर्ट में 25, 26 और 27 सितम्बर को सुनवाई होगी. शनिवार को सुप्रीम कोर्ट ने अगले सप्ताह का केस लिस्ट जारी कर दिया है. जस्टिस अभय मनोहर सप्रे और जस्टिस यू यू ललित की अदालत में 25 सितम्बर के यह केस पहले नम्बर पर सूचीबद्ध है. अब ये उम्मीद की जा रहा है कि अगले सप्ताह तक इस केस पर फैसला आ सकता है. तीनों दिन सुनवाई करेगी दो सदस्यीय खंडपीठ 25, 26 और 27 सितम्बर को न्यायमूर्ति अभय़ मनोहर सप्रे और न्यामूर्ति यूयू ललित की खंडपीठ इस मामले की सुनवाई करेगी. 25 और 26 सितम्बर को फुल डे कोर्ट है जबकि 27 सितम्बर को हाफ डे कोर्ट है. लगातार तीन दिनों तक सुनवाई होने से अब ये उम्मीद की जा रही है कि नियोजित शिक्षकों के मामले में अब फैसला आ सकता है. नियोजित शिक्षकों को है फैसले का इंतजार सुप्रीम कोर्ट में 19 सितम्बर को इस मामले की सुनवाई हुई थी लेकिन अटर्नी जनरल की बात पूरी ना होने के कारण कोर्ट ने अगला डेट दे दिया था. अब 25 सितम्बर से फिर इस मामले की सुनवाई होनी है. 3 लाख 70 हजार नियोजित शिक्षकों को कोर्ट के फैसले का इंतजार है. पिछली सुनावाई में टीइटी

Read more

विष्णु खरे की स्मृति में श्रद्धांजलि सभा

वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय के स्नातकोत्तर हिंदी एवं भोजपुरी विभागों के संयुक्त तत्वावधान में आज हिंदी के सुप्रसिद्ध कविआलोचक,फ़िल्म समीक्षक और दिल्ली हिंदी अकादमी के उपाध्यक्ष विष्णु खरे के निधन पर शोकसभा का आयोजन किया गया. शोकसभा में विभागाध्यक्ष डॉ नीरज सिंह ने स्व विष्णु खरे के व्यक्तित्व एवं कृतित्व का विस्तार से परिचय दिया और उनकी पिछले वर्ष प्रकाशित कविता ‘आलैन’ का पाठ किया. अंत मे शोकसभा में उपस्थित हिंदी भोजपुरी के कथाकार कृष्ण कुमार, शोधछात्र विकास कुमार,शोधछात्रा कुसुम कुमारी, रजनी प्रधान , सतीश पांडेय , दीप्ति कुमारी ,रुपाली त्रिपाठी,नागेंद्र सिंह,त्रिवेणी साह,पंकज कुमारआदि  ने स्व विष्णु खरे की स्मृति में दो मिनट का मौन धारण कर के उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की . पटना नाउ ब्यूरो

Read more

“स्वच्छता एक विचार , एक आन्दोलन” : सम्भावना विद्यालय में मनाया जा रहा स्वच्छता पखवाड़ा

आरा. “स्वच्छता ही सेवा” पखवाड़ा के तहत स्थानीय सम्भावना आवासीय उच्च विद्यालय, शुभ नारायण नगर, मझौवां में सफाई अभियान, नुक्कड़ नाटक, प्रभात फेरी आदि कई स्वच्छता जागरूकता कार्यक्रमों का लगातार आयोजन प्रतिदिन किया जा रहा है. भाषण प्रतियोगिता और नुक्कड़ नाटक से दिया सन्देश   विद्यालय में आयोजित भाषण प्रतियोगिता में कक्षा नवम के छात्र-छात्रा तथा विद्यालय के एन सी सी कैडेटों मंगल कुमार, अभिषेक कुमार, आशीष कुमार, अंजलि रॉय, सलोनी कुमारी, मोनिका कुमारी, तथा कात्यायनी प्रिया ने अपने विचार प्रस्तुत किये. कल हुए कार्यक्रम के दुसरे सत्र में कक्षा नवम के छात्र-छात्रा, एन सी सी कैडेटों, विद्यालय की प्राचार्या तथा निदेशक ने सफाई अभियान चलाया. स्वच्छता जागरूकता कार्यक्रम के तहत आज विद्यालय के छात्र-छात्रा तथा एन सी सी कैडेटों ने विद्यालय परिसर में नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत किया. हज़ारों छात्र-छात्राओं की मौजूदगी में नुक्कड़ नाटक के माध्यम से यह सन्देश दिया गया स्वच्छता से ही स्वस्थ भारत का निर्माण होगा. नाटक में मुख्य भूमिकाओं में सलोनी कुमारी, मंगल कुमार, कात्यायनी प्रिया, अंजलि रॉय, रिया रॉय तथा सिद्धेश्वर पाण्डेय ने जीवंत अभिनय किया.   स्वच्छता राष्ट्रपिता के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि : अर्चना सिंह इस अवसर पर विद्यालय के छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए प्राचार्या डॉ अर्चना सिंह ने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान वर्तमान सरकार की अच्छी पहल है इससे पहले स्वतंत्रता आन्दोलन के समय राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी ने इसकी उपयोगिता समझी थी. गांधी जी की जयंती के अवसर पर जो स्वच्छता पखवाड़ा चलाया जा रहा है यह सिर्फ 2 अक्टूबर तक सीमित ना रहे, बल्कि हमारे दैनिक दिनचर्या में शामिल

Read more