2018 के मैट्रिक और इंटर परीक्षार्थियों को बड़ी राहत

बिहार के कई जिलों में आई भीषण बाढ़ से जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है. बाढ़ के कारण इन जिलों में सारे काम ठप पड़ गए हैं. इसी बीच बिहार बोर्ड से अगले साल परीक्षा देने वाले छात्रों का रजिस्ट्रेशन हो रहा है. लेकिन बाढ़ के कारण 19 जिलों में ये काम भी ठप हो गया है.

विद्यालय, प्राचार्य और परीक्षार्थियों की परेशानी को देखते हुए बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने इंटर और मैट्रिक की मुख्य परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन की डेट को आगे बढ़ा दिया है. BSEB अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि सूबे के 19 जिलों में बाढ़ की गंभीर स्थिति को देखते हुए इंटरमीडिएट और मैट्रिक वार्षिक परीक्षा 2018 के लिए रजिस्ट्रेशन की तिथि को विस्तारित करने का निर्णय समिति ने लिया है.  BSEB अध्यक्ष ने बताया कि इन 19 जिलों में लेट फाइन के साथ 7 सितंबर तक इंटर परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन हो सकता है जो पहले 18 अगस्त तक था. इसके साथ ही रजिस्ट्रेशन शुल्क जमा करने की तिथि अब 04.09.2017 से 12.09.2017 के बीच होगी जो पहले 25.08.2017 तक थी. लेट फाइन के साथ इंटर परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन शुल्क अब दिनांक 15.09.2017 से 23.09.2017 के बीच जमा किया जा सकेगा, जो पहले 28.08.2017 था.




वहीं मैट्रिक परीक्षार्थी आवेदन पत्र 09.09.2017 तक भर सकेंगे, जो पहले 25.08.2017 तक था. लेट फाइन के साथ आवेदन पत्र दिनांक 10.09.2017 से 03.10.2017 तक भरा जा सकेगा. जबकि बाढ़ ग्रस्त जिलों के सरकारी विद्यालय भरे गये आवेदन को सीधे एजेंसी को अब दिनांक 10.09.2017 से दिनांक 15.09.2017 तक जमा कर सकेंगे. विलंब शुल्क के साथ आवेदन एजेंसी के सेंटर पर दिनांक 04.10.2017 से 10.10.2017 तक जमा किया जा सकेगा. जिला शिक्षा पदाधिकारी इन विद्यालयों से प्राप्त रजिस्ट्रेशन आवेदन को दिनांक 12.09.2017 से 15.09.2017 के बीच उपलब्ध कराएंगे। विलंब शुल्क के साथ यह तिथि 09.10.2017 से 10.10.2017 है. इन जिलों में रजिस्ट्रेशन शुल्क जमा करने की तिथि दिनांक 11.10.2017 से 18.10.2017 तक है। विलंब शुल्क के साथ यह तिथि 19.10.2017 से 28.10.2017 है.

BSEB के मुताबिक ये बाढ़ग्रस्त जिले हैं- अररिया, पश्चिमी चंपारण (बेंतिया), पूर्वी चंपारण (मोतिहारी), सीतामढ़ी, किशनगंज, सुपौल, मधेपुरा, पूर्णियॉ, मधुबनी, कटिहार, सहरसा, गोपालगंज, दरभंगा, खगड़िया, शिवहर, सारण, मुजफ्फरपुर, भागलपुर एवं समस्तीपुर.