परीक्षा केन्द्रों के आसपास लागू रहेगी धारा 144

UPSC PT परीक्षा 18 जून को पटना के 78 केन्द्रों पर होगी. इसे लेकर शुक्रवार को परीक्षा केन्द्राधीक्षकों, प्रतिनियुक्त दंडाधिकारियों, जोनल दंडाधिकारियों, पुलिस पदाधिकारियों की ब्रीफिंग हुई. पटना के डिवीजनल कमिश्नर आनंद किशोर ने बताया कि यह सबसे महत्वपूर्ण एवं प्रतिष्ठित परीक्षा है. आयुक्त ने बताया परीक्षा केन्द्रो के आस-ंपास 100 मीटर की परिधि में धारा 144 लागू रहेगी औऱ परीक्षा केन्द्रों के आसपास लाउडस्पीकर का प्रयोग भी प्रतिबंधित रहेगा.  इसके अलावा अन्य जरूरी दिशानिर्देशों से भी कमिश्नर ने सभी केन्द्राधीक्षकों और संबंधित अधिकारियों को अवगत कराया. इस  संयुक्त ब्रीफिंग में आयुक्त के साथ संघ लोक सेवा आयोग द्वारा प्रतिनियुक्त प्रेक्षक भारतीय प्रशासनिक सेवा के पदाधिकारी संजय कुमार सिंह, परियोजना निदेशक, सर्वशिक्षा अभियान, साकेत कुमार, गोपाल मीणा, श्रम आयुक्त बिहार समेत सभी संबंधित पदाधिकारी मौजूद थे.

Read more

BPSC PT का रिजल्ट आने वाला है, रहें तैयार

BPSC PT के रिजल्ट का इंतजार कर रहे छात्रों के लिए अच्छी खबर है. पीटी का रिजल्ट अगले 15-20 दिनों में आ जाएगा. हालांकि इससे पहले मई में ही रिजल्ट आने की उम्मीद थी. लेकिन इस बार खुद बीपीएससी ने इसकी पुष्टि की है. बिहार लोेक सेवा आयोग के सचिव प्रभात कुमार सिन्हा ने बताया कि जून के आखिरी हफ्ते या जुलाई के पहले हफ्ते में PT का रिजल्ट आ जाएगा. उन्होंने ये भी कहा कि मुख्य परीक्षा के लिए PT में शामिल अभ्यर्थियों का 10 फीसदी रिजल्ट घोषित किया जाएगा.यानि इससे जुड़ा संशय भी अब खत्म हो गया कि कुल घोषित पदों(करीब 700) का नहीं बल्कि PT में कुल शामिल अभ्यर्थियों का 10 फीसदी रिजल्ट आएगा. क्या कहते हैं विशेषज्ञ- इस बारे में हमने बात की सिविल सेवा विशेषज्ञ डॉ एम रहमान से. डॉ़ रहमान ने कहा कि BPSC की ताजा घोषणा के मुताबिक करीब 16 से 20 हजार अभ्यर्थी मुख्य परीक्षा के लिए क्वालिफाई करेंगे. क्योंकि 60-62वीं BPSC PT परीक्षा में करीब 2 लाख अभ्यर्थियों में से करीब 1.7 लाख अभ्यर्थी शामिल हुए थे. ये काफी राहत की बात है और इससे निश्चित ही कट ऑफ पर भी असर पड़ेगा. अब जिस परीक्षार्थी की तैयारी मुख्य परीक्षा के लिए अच्छी है, उन्हें और जोर-शोर से तैयारी शुरू कर देनी चाहिए.- डॉ एम रहमान, परीक्षा विशेषज्ञ UPSC PT 18 जून को- UPSC PT परीक्षा के लिए अब दो दिन का वक्त है. ऐसे में करेंट अफेयर्स को कंटस्थ कर लेना बेहतर होगा. अब अभ्यर्थियों को पढ़ाई से ज्यादा अपने

Read more

प्रधानमंत्री से मिले उस्ताद अमजद अली खान

मशहूर सरोद वादक अमजद अली खान ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात की. उन्होंने भारतीय शास्‍त्रीय संगीत की 20 महान हस्तियों के जीवन और योगदान पर लिखी अपनी पुस्‍तक “मास्‍टर ऑन मास्‍टर्स” की प्रति प्रधानमंत्री को भेट की.

Read more

नालंदा डीएम को प्रधानमंत्री ने किया सम्मानित

सिविल सर्विस डे पर शुक्रवार को प्रधानमंत्री ने देशभर के चुनिंदा प्रशासनिक अधिकारियों को उनके उत्कृष्ट कार्यों के लिए सम्मानित किया.  इनमें से बिहार के भी दो अधिकारियों को सम्मान मिला है. हर घर बिजली पहुंचाने में बेहतरीन काम के लिए नालंदा के डीएम डॉ त्यागराजन एस एम और साउथ बिहार पावर डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी लिमिटेड के प्रबंध निदेशक आर लक्ष्मणन को संयुक्त रुप से प्रधानमंत्री अवार्ड से नवाजा गया. पंडित दीनदयाल ग्रामीण विद्यूतिकरण में बेहतरीन काम के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ये सम्मान दोनों अधिकारियों को प्रदान किया. प्रधानमंत्री से अवार्ड लेते नालंदा डीएम और SBPDCL के एमडी   क्यों मिला सम्मान बता दें कि देश के 599 जिलों से 2345 प्रविष्टियां विभिन्न श्रेणियों में प्राइम मिनिस्टर अवार्ड के लिए आई थी. इनमें से केवल 12 जिलों को अवार्ड के लिए चयनित किया गया. दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत नालंदा में बिजली से वंचित हर गांव में बिजली पहुंचाई गई. ग्रामीण इलाकों में निर्बाध बिजली आपूर्ति के लिए 6 पावर सब स्टेशन स्थापित किए गए. इसके लिए नालंदा डीएम ने खुद सभी कार्यों की लगातार निगरानी की. बाढ़ प्रभावित इलाकों में बाढ़ का पानी आने से पहले ही विद्युतिकरण का काम पूरा करा लिया गया. इन सब कार्यों का मुआयना दिल्ली से आई टीम ने किया था. यानि काफी कड़े मुकाबले के बाद नालंदा डीएम को ये अवार्ड मिला.

Read more

BPSC PT में कट ऑफ कम रहने के आसार

60-62वीं BPSC PT के रिजल्ट का इंतजार कर रहे छात्रों के लिए अच्छी खबर है. पीटी का रिजल्ट इसी महीने के आखिर तक आने की संभावना है. जानकार सूत्रों के मुताबिक रिजल्ट तैयार है. अब केवल उत्तरों पर आपत्तियों का इंतजार है. इसमें भी ज्यादा से ज्यादा 4-5 सवालों के जवाब पर ही छात्रों को आपत्ति है. उम्मीद है कि इस बार सवाल-जवाब को लेकर मामला ज्यादा नहीं खीचेगा और आयोग भी जल्द ही इस मामले में आपत्तियों का निराकरण करने के बाद रिजल्ट अप्रैल के आखिर या मई के पहले सप्ताह तक घोषित कर देगा. सूत्रों के मुताबिक जुलाई-अगस्त में मुख्य परीक्षा का आयोजन होगा. PT के उत्तरों के लिए क्लिक करें- http://bpsc.bih.nic.in/Advt/Answer-Key-60-62-CCE(Pre)-GS.pdf परीक्षा विशेषज्ञ डॉ एम रहमान ने बताया कि  इस बार PT का कट ऑफ कम रहने के आसार हैं. उन्होंने ये भी कहा कि ज्यादा सवालों में गलती नहीं होने के कारण रिजल्ट भी इस बार जल्द आने की संभावना है.  डॉ रहमान के मुताबिक कुछ ऐसा रहेगा कट ऑफ इस बार 60-62वीं BPSC PT में- GEN- 90 – 95 OBC 85 – 90 EBC 80 – 85 SC 75 – 80 ST 70 – 75 Woman’s GEN 80 -85 OBC 75-80 EBC 72- 75 SC 68 – 72 ST 65 – 68 बता दें कि बिहार लोक सेवा आयोग ने 60-62वीं पीटी के उत्तरों में ऑब्जेक्शन के लिए 24 अप्रैल तक आपत्तियां मंगवाई हैं. इसके तुरंत बाद यानि 28 अप्रैल से 7 मई के बीच रिजल्ट की घोषणा हो सकती है. ज्यादा जानकारी के लिए

Read more

तो अब ऑनलाइन होंगी सभी प्रतियोगिता परीक्षाएं

पहले टॉपर घोटाला और फिर पेपर लीक ने बिहार में शिक्षा और प्रतियोगिता परीक्षाओं की कलई खोल दी है. पेपर लीक मामले में परत-दर-परत खुलते राज में हर दिन कुछ नए नाम जुड़ते जा रहे हैं. माना जा रहा है कि अगर SIT की जांच पूरी ईमानदारी से और सही दिशा में रही तो इस घोटाले में कई बड़े नाम भी सामने आएंगे. टॉपर घोटाले से सबक लेते हुए सरकार ने ना सिर्फ घोटालेबाजों को जेल भेजा बल्कि बिहार विद्यालय परीक्षा समिति में भी कई बड़े बदलाव किए गए. बोर्ड का अध्यक्ष एक तेज तर्रार IAS अधिकारी को बनाया गया और फिर बोर्ड के काम को पारदर्शी बनाने के साथ-साथ, फॉर्म भरने, परीक्षा पैटर्न, प्रश्न पत्र और कॉपियों की जांच तक को ऑनलाइन किया गया. इसके कई सकारात्मक परिणाम देखने को मिले. इन सबके बाद अब सरकार प्रतियोगी परीक्षाओं को भी ऑनलाइन कराने की तैयारी कर रही है. BSSC पेपर लीक मामले से सीख लेते हुए सरकार अब ऑनलाइन परीक्षा के लिए दूसरे राज्यों और भर्ती बोर्ड से राय ले रही है. शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी ने इसके संकेत दिए हैं. परीक्षा ऑनलाइन कराने से ना सिर्फ पेपर लीक की समस्या से निजात मिलेगी बल्कि रिजल्ट में धांधली और सोशल मीडिया के जरिए परीक्षा से जुड़े कॉनफिडेंसियल बातों को वायरल करने की समस्या भी नहीं आएगी.

Read more

31 मार्च तक आ सकता है BPSC PT का रिजल्ट

BPSC PT परीक्षा का रिजल्ट मार्च के आखिर तक आ सकता है. इस बार 642 पदों के लिए ये परीक्षा हुई है, जिसमें करीब 2.42 लाख छात्र शामिल हुए. विशेषज्ञों का कहना है कि मार्च में रिजल्ट आने के बाद छात्रों के पास करीब 3 महीने का वक्त होगा मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए. लेकिन परीक्षार्थियों को इसके लिए इंतजार नहीं करना चाहिए और तैयारी शीघ्र शुरू कर देनी चाहिए.   इस बारे में परीक्षा विशेषज्ञ डॉ रहमान ने कहा कि BPSC ( 60वी से 62वी) की PT परीक्षा का रिजल्ट 31 मार्च तक जारी होने की संभावना है. उन्होंने कहा कि परीक्षा पैटर्न में बदलाव के कारण जनरल का कटऑफ 90, OBC का कट ऑफ 84-85 और SC-ST का कट ऑफ 70-75 के आसपास जाने की संभावना है. ये भी पढ़ें- https://goo.gl/t0UDhc

Read more

UPSC ने जारी किया रिजल्ट, 20 मार्च से शुरू होंगे इंटरव्यू

UPSC ने 2016 की सिविल सेवा मुख्य परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है. 20 मार्च से इंटरव्यू( पर्सनालिटी टेस्ट) शुरू होंगे जिसके लिए क्वालिफाई करने वाले कैंडिडेट्स को अपना कॉल लेटर संघ लोक सेवा आयोग की वेबसाइट से डाउनलोड करना होगा. इंटरव्यू में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों का रौल नंबर जानने के लिए क्लिक करें नीचे दिए गए लिंक पर- http://www.upsc.gov.in/sites/default/files/WR_CSM_16_Hindi_0.pdf http://www.upsc.gov.in/sites/default/files/WR_CSM_16_Engl.pdf

Read more

‘BPSC PT में 5वें विकल्प से नीचे आ सकता है कट ऑफ’

60-62वीं ‘BPSC PT में इस साल 5वें विकल्प ने छात्रों के दिमाग और IQ की जमकर परीक्षा ली. इससे पहले पिछले साल तक 4 उत्तरों के विकल्प से छात्र आसानी से उत्तर दे पाते थे और इससे  परीक्षा का कट ऑफ मार्क्स का अंदाज लगाना भी आसान हो जाता था. लेकिन इस बार 5वां ऑप्सन देकर बिहार लोक सेवा आयोग ने हर सवाल में परीक्षार्थियों को जमकर छकाया. यही नहीं, 5वें ऑप्सन में भी 2 च्वायस होने से असल में ये ऑप्सन 6 हो गए. इससे बड़ी संख्या में प्रश्नों का उत्तर गलत होने की आशंका भी बढ गई है. छात्रों के साथ विशेषज्ञ भी मानते हैं कि इस बार 100-105 के बीच रहने वाला कट ऑफ और नीचे आ सकता है. इसका सबसे बड़ा फायदा उन छात्रों को मिलेगा जो अपना स्कोर 100 से नीचे मानकर मेन्स की तैयारी नहीं करने वाले थे. विशेषज्ञ मानते हैं कि 5वें विकल्प से कट ऑफ निश्चित ही नीचे जाएगा और BPSC जब उत्तर जारी करेगा तभी छात्र अपनी स्थिति का आंकलन कर पाएंगे. ऐसे में बेहतर होगा कि PT में शामिल होने वाले छात्र मुख्य परीक्षा की तैयारी में जुट जाएं. माना जा रहा है कि जुलाई-अगस्त में इस बार मुख्य परीक्षा का आयोजन होगा जिसमें करीब 6500 परीक्षार्थी शामिल होंगे. इस बार एक नया ट्रेंड BPSC ने शुरू किया जो छात्रों के लिए आसान नहीं होगा. इससे अब भविष्य में छात्रों को अपनी तैयारी और पुख्ता करनी होगी और अपने उत्तरों को लेकर उन्हें ज्यादा श्योर रहना होगा ताकि परीक्षा में ज्यादा विकल्प

Read more

इसरो ने लॉन्च किए एक साथ 104 सैटेलाइट

श्रीहरिकोटा स्थित इंडियन स्पेश रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन(ISRO) ने आज इतिहास रच दिया. ISRO ने PSLV के जरिए बुधवार को एक साथ 104 सैटेलाइट का सफल लॉन्च किया. इससे पहले सबसे ज्यादा सैटेलाइट एक साथ लॉन्च करने का रिकॉर्ड रूस के नाम था, जिसने वर्ष 2014 में 37 सैटेलाइट एक साथ लॉन्च किया था. इस लॉन्च में 101 छोटे सैटेलाइट्स हैं जिनका वजन 664 किलो ग्राम था. इन्हें कुछ वैसे ही अंतरिक्ष में प्रक्षेपित किया गया जैसे स्कूल बस बच्चों को क्रम से अलग-अलग ठिकानों पर छोड़ती जाती है. 44.4 मीटर लंबे और 320 टन वजनी रॉकेट PSLV-XL ने सुबह 9.28 बजे उड़ान भरी. पृथ्वी अवलोकन उपग्रह काटरेसैट-2 सीरीज का वजन 714 किलोग्राम है. अन्य उपग्रहों में 101 नैनो उपग्रह हैं, जिनमें से इजरायल, कजाकस्तान, द नीदरलैंड्स, स्विट्जरलैंड व संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के एक-एक और अमेरिका के 96 तथा भारत के दो नैनो उपग्रह शामिल हैं. इन सभी उपग्रहों का कुल वजन लगभग 1,378 किलोग्राम है.       भारत ने इससे पहले जून 2015 में एक बार में 23 उपग्रहों को प्रक्षेपण किया था. यह उसका दूसरा सफल प्रयास है.पीएसएलवी पहले 714 किलोग्राम वजनी काटरेसेट-2 श्रृंखला के उपग्रह का पृथ्वी पर निगरानी के लिए प्रक्षेपण किया और उसके बाद 103 सहयोगी उपग्रहों को पृथ्वी से करीब 520 किलोमीटर दूर ध्रुवीय सन सिंक्रोनस ऑर्बिट में प्रविष्ट करवाया जिनका अंतरिक्ष में कुल वजन 664 किलोग्राम है. इसरो के वैज्ञानिकों ने XL वैरियंट का इस्तेमाल किया है, जो सबसे शक्तिशाली रॉकेट है और इसका इस्तेमाल महत्वाकांक्षी चंद्रयान में और मंगल मिशन में किया जा चुका है.

Read more