मिल गया काला धन : धन कुबेर भी हुए फेल

ATM  से  पैसे नही मिलने पर ग्राहकों को पेनाल्टी क्यों नही देता बैंक ? Reality check of Patna now Exvlusive Report आरा, 29 अप्रैल. क्या आपने धन कुबेर मशीन देखा है? चक्कर खा गए क्या? अरे हुजूर, मॉर्डन जमाने का धन कुबेर तो दरअसल ATM ही है जहाँ लाखो रुपये रखे रहते हैं जो सबकी आवश्यकताओं को पूरा करता है. ATM कहने को तो ये धन कुबेर यंत्र है, लेकिन यहाँ हमेशा ताला ही मिलता है. सरकार कितने ही वादे कैश क्रंच के लिए क्यों न करे लेकिन इन धन कुबेर मशीनों की वर्तमान स्थिति तो कुछ और ही हकीकत बयां करती है. पटना नाउ ने कैश क्रंच की रियालिटी जानने के लिए इन धन कुबेर मशीनों का जब दौरा किया तो ऊपर से थाट बात और नीचे से मोकामा घाट वाली कहावत नजर आयी.  बताते चलें कि पूरे शहर में विभिन्न बैंकों के इन धन कुबेर मशीनों की संख्या लगभग 100 है. पटना नाउ को 3 घण्टे तक इनका चक्कर काटने के बाद भी इन मशीनों से कही भी पैसा नही मिला. इस दौरान हमारी ही तरह पैसों की तलाश में इन ATMs के पास पहुंचे बहुत से लोगो से बात हुई. इन लोगों में से कोई अपनी माँ का इलाज कराने शहर आया है तो कोई अपनी बेटी, बहन की शादी के लिए खरीदारी करने आये थे,लेकिन सभी पैसे नही मिलने की वजह से बैरंग वापस लौट गए. अपने पैसे बैंक में रखने और टैक्स देने के बाद भी आम आदमी बैंकों द्वारा इसी तरह ठगा महसूस कर

Read more

नए पैटर्न पर मुख्य परीक्षा आज से

आज से 60-62वीं BPSC की मुख्य परीक्षा शुरू हो रही है.  4 मई तक चलने वाली परीक्षा में इस बार 8 हजार से ज्यादा अभ्यर्थी भाग ले रहे हैं. BPSC ने इस बार मुख्य परीक्षा के फॉर्मेट में बदलाव किया है. पहली बार ये परीक्षा UPSC के पैटर्न पर ली जा रही है. ये हैं अहम बदलाव- इस बार ऑप्शनल पेपर एक ही है जो 300 मार्क्स का होगा. जबकि पहले ये 400-400 मार्क्स के दो पेपर होते थे.  वहीं अब GS का पेपर 600 नंबर का हो गया जो पहले 400 मार्क्स का होता था. इसके साथ ही इंटरव्यू अब 150 की जगह 120 नंबर का ही होगा. हालांकि इंटरव्यू का ये बदलाव 56-59वीं BPSC पर लागू नहीं होगा. परीक्षा विशेषज्ञ डॉ एम रहमान ने बताया कि अब रट्टा मारने वाले अभ्यर्थियों का काम नहीं चल पाएगा. जब तक कॉन्सेप्ट क्लियर नहीं होगा और बिहार के बारे में पूरी ठोस जानकारी नहीं होगी, BPSC का मेन्स क्लियर करना आसान नहीं होगा. डॉ रहमान ने सभी अभ्यर्थियों को ओवरऑल नॉलेज पर जोर देने की सलाह है और परीक्षा से पहले अच्छी तरह रिवाइज करने की भी बात कही है.   राजेश तिवारी

Read more

ITI अभ्यर्थियों का हंगामा, 3 गिरफ्तार

ITI अभ्यर्थियों का हंगामा, 3 गिरफ्तार पटना, 28 फरवरी. पटना के राजेंद्रनगर इलाके के यार्ड के पास रेलवे के ITI अभ्यर्थियों ने अप और डाउन रेल लाइन को जाम कर जमकर प्र्दशन किया. जिसके बाद आरपीएफ पुलिस ने भीड़ को हटाने के लिए बल का प्रयोग करते हुए प्रदर्शन कर रहे छात्रों को खदेड़ा ,रेल ट्रैक जाम करने के आरोप में तीन अभियर्थियों को गिरफ्तार भी किया गया है. फ़ोटो फीचर:- देखिये कैसे हुआ हंगामा और कैसे पकड़े गए छात्र पटना सिटी से अरुण कुमार की रिपोर्ट

Read more

बेरोजगार छात्रों और पुलिस में भिड़ंत, पथराव और लाठी चार्ज में दो दर्जन लोग जख़्मी

रेलवे परीक्षा में शुल्क वृद्धि के खिलाफ बेरोजगार युवकों ने काटा बवाल, ट्रेन रोकी लाठी चार्ज, हवाई फायरिंग, दर्जनों घायल घायल में छात्र, पुलिस समेत 2 महिला पुलिसकर्मी भी आरा, 16 फरवरी. दानापुर रेल मंडल के आरा रेलवे स्टेशन पर हजारों बेरोजगार युवाओ ने सासाराम पैसेंजर ट्रेन को रोक बवाल काटा. बेरोजगारों ने यह बवाल असिस्टेंट लोको पायलट तथा अन्य तकनीशियन के पदों पर बहाली में लगभग 12 गुना से भी ज्यादा शुल्क में बढ़ोतरी को लेकर काटा. वे रेलवे से ITI की अनिवार्यता को हटाने की भी मांग कर रहे थे. बताते चलें कि प्रदेश ही नही देश मे व्याप्त बेरोजगारी व लंबे समय से बहाली नही होने से नाराज बेरोजगार युवकों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. बेरोजगार छात्रों का हुजूम चलती ट्रेन पर चढ़ गया और सबसे पहले आरा सासाराम रेलखंड पर जाने वाली सासाराम पैसेंजर ट्रेन को रोककर अपना प्रदर्शन किया. हंगामे के कारण आरा रेलवे स्टेशन पर अफरा-तफरी मची रही, जिसके कारण घंटों रेलवे का परिचालन बाधित हुआ. छात्रों के इस हंगामे के कारण अप एंड डाउन लाइन पर आरा और आसपास के रेलवे स्टेशनो पर कई ट्रेनों को खड़ा करना पड़ा. बेरोजगार युवकों का कहना था कि लगभग 4 साल के बाद बहाली भी आई है तो उम्र सीमा 18-30 की जगह 18-28 कर दी गई. यही नहीं सामान्य वर्ग के अलावा OBC, SC और ST वर्ग में भी उम्र सीमा पहले 18-35 की जगह 18-33 कर दी गई जो बिल्कुल जायज नहीं है. इसके अलावे 2014 में जो आखिरी बहाली रेलवे की

Read more

बैंक ऑफ बड़ौदा ने बांटा गरीबो को शॉल

बैंक ऑफ बड़ौदा ने बांटा गरीबो को शॉल पीरो,27 जनवरी. जिले के पीरो में अवस्थित स्थानीय बैंक ऑफ बड़ौदा ने 69वे गणतंत्र दिवस के उपलक्ष्य में गरीबो के बीच शॉल वितरित किया गया.शॉल वितरण का यह कार्यक्रम पीरो शाखा प्रबंधक पंकज कुमार के नेतृत्व में हुआ और 50 गरीबो को शॉल दिया गया. शाखा प्रबंधक पंकज कुमार ने बताया कि यह कार्यक्रम गणतंत्र दिवस के मौके पर संचालित की गईं और साथ मे सभी को झंडा भी दिया गया. बैंक मैनेजर ने लोगो से अपील किया कि वे बैंक में आए एवं अधिकारी से संचालित योजना के बारे में जानकारी ले. शॉल वितरण के बाद बैंककर्मियों ने लोगो को बैंक से जोड़ने का यह एक छोटा प्रयास किया गया ताकि लोग बैंक में आए और बैंक द्वारा संचालित योजना की जानकारी ले. इस मौके पर अजित कुमार,कैशियर धर्मेन्द्र गुप्ता,रवि कुमार,अमित कुमार, एम०एम०जोशी, शशिकांत शर्मा,संतोष कुमार सहित बैंक के गार्ड भी मौजूद थे. पीरो से मुरली मनोहर जोशी की रिपोर्ट

Read more

SSC TIER-1 परीक्षा का रिजल्ट यहां देखें

SSC यानि कर्मचारी चयन आयोग के COMBINED GRADUATE LEVEL EXAM(CGL) के टियर-1 का रिजल्ट आ गया है. SSC CGL TIER 1 की परीक्षा अगस्त महीने में 1 से 23 तारीख तक हुई थी, जिसमें 15,43,962 परीक्षार्थी शामिल हुए थे. Tier 1 में सफल होने वाले छात्र ही Tier II, Tier III में भाग ले सकते हैं. जिसके बाद अंत में कंप्यूटर टेस्ट/ डेटा एंट्री टेस्ट होता है. SSC CGL Tier 1 परीक्षा कंप्यूटर पर आधारित परीक्षा होती है जिसमें इंग्लिश, जीके, रीजनिंग, क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड आदि विषयों से 25-25 प्रश्न पूछे जाते हैं. आप नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके अपना रिजल्ट देख सकते हैं. TIER-1 में सफल होने वाले वैसे परीक्षार्थी जो TIER-2 (PAPER-1, PAPER-2, PAPER-4) & TIER-3 में शामिल हो सकते हैं- http://164.100.78.55/sscwebsitepdf/english/results_pdf/LIST_1_30102017.pdf TIER-1 में सफल होने वाले वैसे परीक्षार्थी जो TIER-2 (PAPER-1, PAPER-2, PAPER-3) & TIER-3 में शामिल हो सकते हैं- http://164.100.78.55/sscwebsitepdf/english/results_pdf/LIST_2_30102017.pdf TIER-1 में सफल होने वाले वैसे परीक्षार्थी जो TIER-2 (PAPER-1, PAPER-2) & TIER-3 में शामिल हो सकते हैं- http://164.100.78.55/sscwebsitepdf/english/results_pdf/LIST_3_30102017.pdf

Read more

ग्रैजुएट लेवल परीक्षा का रिजल्ट देखने के लिए क्लिक करें

अभ्यर्थियों के लगातार धरना प्रदर्शन का असर हुआ है. बिहार कर्मचारी चयन आयोग ने गुरुवार को सेकेंड स्नातक स्तरीय मुख्य परीक्षा का रिवाइज्ड रिजल्ट जारी कर दिया है. इस रिजल्ट में 29 ज्यादा अभ्यर्थियों का रिजल्ट भी शामिल है. अब आयोग इसी रिजल्ट के आधार पर मेरिट लिस्ट जारी करेगा. विज्ञापन संख्या 07070114 में 15853 रिजल्ट जारी किया गया है. BSSC की दूसरी ग्रैजुएट लेवल परीक्षा का रिवाइज्ड रिजल्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें- http://www.bssc.bih.nic.in/Advertisement/resultof07070114.pdf

Read more

BPSC के खिलाफ कोर्ट जाएंगे अभ्यर्थी

BPSC के एक्सपेरिमेंट से PT में छात्र हुए परेशान  एक तो बेरोजगारी, उसपर से सरकार के रुख़ से व्यथित हैं युवा सरकारी नौकरी के मौके लगातार कम हो रहे सरकार की बेरुखी से डिप्रेशन में हैं छात्र अब तो जागिए सरकार शराबबंदी और दहेजबंदी से ज्यादा जरुरी है रोजगार कैसा लगता है जब आप परीक्षा की तैयारी करें और वैकेंसी ही ना आए. कैसा लगता है जब हर बार नेता रोजगार के अवसर देने का वायदा करके चुनाव जीतें और कुर्सी मिलते ही रोजगार शब्द से ही नाता तोड़ लें. इसका दर्द तो उन्हें ही पता होगा जिनके पास उम्र सीमा का बंधन हो और वक्त पर वैकेंसी ना आने के कारण वे बेरोजगार रह जाएं. शायद इसका अहसास भी आज किसी राजनीतिक पार्टी को नहीं है. क्योंकि आज रोजगार से बड़े मुद्दे जीएसटी, नोटबंदी, शराबबंदी और दहेजबंदी हैं. बिहार की बात करें तो BSSC जैसा आयोग एक-एक परीक्षा लेने में वर्षों लगा देता है.. और रिजल्ट तो भूल ही जाइए. वहीं BPSC एक साथ तीन-तीन बैकलॉग की परीक्षा (56-59वीं परीक्षा और 60-62वीं परीक्षा) लेता है. जिनका रिजल्ट आने में भी वर्षों लग जाते हैं. जरा सोचिए… जब तीन साल की परीक्षा एक साथ ली जा रही हो तो जाहिर है इस दौरान कई उम्मीदवारों की उम्रसीमा खत्म हो चुकी होती है या फिर उनके लिए  आखिरी अटेम्ट होता है. फिर भी अगर बीपीएससी जैसा आयोग पीटी परीक्षा में  बिना बताए एक्सपेरिमेंट(परीक्षा में 4 की बजाय 5 ऑप्सन दे) करे और रिजल्ट देने में भी कंजूसी करे तो अभ्यर्थी क्या

Read more

BSSC इंटर लेवल PT परीक्षा का शेड्यूल रेडी

क्या आप तैयार हैं? बिहार कर्मचारी चयन आयोग की PT परीक्षा का शेड्यूल तैयार है. आपको याद दिला दें कि इसी साल जनवरी -फरवरी महीने में ये परीक्षा चार चरणों में ली जा रही थी. लेकिन पीटी परीक्षा में प्रश्नपत्र लीक कांड ने देशभर में बिहार की किरकिरी कर दी थी.इस मामले में SIT ने भी मीडिया और स्टूडेंट्स के खुलासे पर मुहर लगाते हुए कई लोगों को गिरफ्तार किया था. आनन-फानन में परीक्षा को कैंसिल कर दिया गया था. File Pic इस मामले में आयोग के पूर्व सचिव परमेश्वर राम, अध्यक्ष सुधीर कुमार और कई स्टाफ जेल में बंद हैं. अब ताजा जानकारी के मुताबिक ये परीक्षा अगले महीने हो सकती है. कर्मचारी चयन आयोग ने अक्टूबर और नवंबर महीने में चार चरणों में परीक्षा कराने की तैयारी को लेकर सभी जिलों के डीम और सभी कमिश्नर को पत्र जारी किया है. सबसे पहले पटना नाउ आपको ये जानकारी दे रहा है. पहले ये परीक्षा ऑनलाइन कराने पर भी विचार किया गया था. लेकिन ना तो सरकार औऱ ना ही किसी निजी संस्थान के पास इतनी बड़ी संख्या में छात्रों की परीक्षा हैंडल करने का संसाधन है. इसलिए इसबार इस परीक्षा को ऑफलाइन कराने पर ही बात फाइनल हुई है. BSSC के सचिव के नाम से जारी इस पत्र से ये साफ हो गया है कि अक्टूबर और नवंबर महीने में ये परीक्षा होगी, जिसमें करीब 18.5 लाख अभ्यर्थी शामिल होंगे. इस परीक्षा के जरिए विभिन्न सरकारी विभागों में ग्रुप सी के करीब 15 सीटों पर बहाली होनी है.

Read more

सिर्फ 11 रू में शिक्षा के साथ जिंदगी की दिशा भी तय होती है यहां

ऐसा कोई सोच भी कैसे सकता है. मार-काट की प्रतिस्पर्धा, कंपिटीटिव मार्केट और एक-दूसरे को हर पल मात देने वाले शिक्षा के बाजार में ऐसी सोंच रखना आर्थिक रुप से काफी नुकसानदायक साबित हो सकता है. लेकिन ऐसा हो रहा है. वो भी राजधानी पटना में जहां ना सिर्फ पूरे बिहार बल्कि यूपी, झारखंड और पड़ोसी देशों के भी विद्यार्थी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए आते हैं. एक तरफ पैसा है तो दूसरी तरफ वो सामाजिक दायित्व जिसका निर्वहण कर रहे हैं गुरुजी. बात हो रही है डॉ एम रहमान की. छात्रों के बीच गुरू रहमान के नाम से मशहूर रहमान सर ने छात्रों के बीच अपनी एक अलग पहचान बनाई है. उनके यहां UPSC, BPSC से लेकर रेलवे, दारोगा और SSC की तैयारी के लिए भी बड़ी संख्या में छात्र आते हैं. गुरु रहमान ना सिर्फ अनाथ और गरीब,दिव्यांग छात्रों को मुफ्त में तैयारी कराते हैं बल्कि हर सुख-दुख में उनके साथ खड़े नजर आते हैं. डॉ़ रहमान का ये प्रयास रंग भी ला रहा है. उनके संस्थान अदम्य अदिति गुरुकुल से हर साल बड़ी संख्या में छात्र पास होते हैं और नौकरी पाकर अपनी जिंदगी संवारते हैं. डॉ रहमान का दावा है कि वे कलम से क्रांति लाकर रहेंगे. इसके अलावा सामाजिक सरोकारों से जुड़े मुद्दों पर भी डॉ रहमान बुलंदी से खड़े नजर आते हैं. यही वजह है कि पटना आने वाले छात्रों के लिए वन स्टॉप कोचिंग संस्थान बन गया है अदम्य अदिति गुरुकुल. अपनी विशेष शैली में जेनरल स्टडीज की तैयारी कराने वाले डॉ

Read more