मैट्रिक और इंटर परीक्षा 2018 के रिजल्ट जारी करने की तिथि की घोषणा

पटना (राजेश तिवारी) । लंबे इंतजार के बाद आखिरकार बिहार में मैट्रिक और इंटर परीक्षा के रिजल्ट जारी करने की तिथि की घोषणा कर दी गई है. इस बारे में बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि अगले महीने दोनों रिजल्ट जारी किया जाएगा. आनंद किशोर ने बताया कि इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा, 2018 के परीक्षाफल की घोषणा 07 जून, 2018 को तथा वार्षिक माध्यमिक परीक्षा, 2018 के परीक्षाफल की घोषणा 20 जून, 2018 को की जाएगी. अध्यक्ष ने कहा कि इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा, 2018 के रिजल्ट प्रोसेसिंग का कार्य अंतिम चरण में है, जिसके बाद परीक्षाफल की घोषणा समिति द्वारा की जाएगी.

Read more

CBSE 12वीं के नतीजे के लिए क्लिक करें

सेन्ट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एडुकेशन यानि CBSE की 12वीं की परीक्षा में शामिल हुए छात्रों के लिए आज नतीजे का दिन है. सीबीएसई के चेयरमैन अनिल स्वरूप ने देशभर के करीब 12 लाख छात्रों को ट्वीट कर शुभकामनाएं दी हैं. All the best to the students who appeared in Class 12 CBSE exams. However, treat the result with equanimity. These exams are not the end of the world. Pat yourself on the back if you have done well. Any perceived failure should make you even more determined to succeed in future. — Anil Swarup (@swarup58) May 25, 2018 शनिवार को दिन के सेकेंड हाफ में रिजल्ट घोषित होने की उम्मीद है. रिजल्ट देखने के लिए आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें, अपना रोल नंबर डालें और सब्मिट करें. अपने रिजल्ट का प्रिंट आउट भी आप ले सकते हैं. Click here for your result http://cbseresults.nic.in/ 12वीं के नतीजे के बाद बहुत जल्द सीबीएसई के 10वीं क्लास के नतीजे भी आने की उम्मीद है.

Read more

ICSE के नतीजे जानने के लिए क्लिक करें

ICSE के 10वीं और 12वीं की परीक्षा के नतीजे आज आ रहे हैं. दोपहर तीन बजे नतीजे घोषित किए जाएंगे. रिजल्ट ऑनलाइन ही जारी होगा. परीक्षार्थी अपना रोल नंबर डालकर रिजल्ट जान पाएंगे. Click here for your 10/12th result 2018. http://www.cisce.org/ To get ICSE Results 2018 on your Mobile SMS ICSE<Space><Unique Id> to 09248082883. To get ISC Results 2018 on your Mobile SMS ISC<Space><Unique Id> to 09248082883.

Read more

“नीनो” के डांस से हैरान हुए बच्चे

सम्भावना में हुआ रोबोट का डेमो, इस साल ही बनेगा विद्यालय परिवार का हिस्सा जिले का पहला स्कूल जहाँ रोबोट से भी दी जायेगी शिक्षा आरा 18 मार्च. स्कूल का परिसर सैकड़ो बच्चे और पिन ड्राप साइलेंस…. जी हां ये नजारा था शनिवार को सम्भावना स्कूल के स्कूल में छोटे से लेकर बड़े बच्चों का. मेज पर दो रोबोट और कुछ इलेक्ट्रॉनिक समानों के साथ सेरिना टेक से आये 3 इंजीनियरो को देख बच्चे बस यही सोच रहे थे कि कब ये रोबोट बोले और कुछ कर के दिखाए. ये शांति रोबोट जैसे काल्पनिक नाम को साक्षात देखने के बाद उसके भाव जानने की वजह से था. पर बच्चों को क्या मालूम था कि रोबोट महाराज नीनो उन्ही के जैसे शरारती हैं. ये तो तब पता चला जब नीनो ने अपने इंट्रो के साथ कविता, चलकर और डांस कर दिखाया. बच्चों के चेहरे पर शांत पड़े भाव  अचानक से कई भावों में बदल गए. सम्भावना उच्च विद्यालय की जूनियर और सीनियर शाखाओं में रोबोट “नीनो” का प्रदर्शन किया गया. सेरिना टेक्नोलॉजी द्वारा बनाये गए इस रोबोट को प्रदर्शित करने सेरिना टेक के बिहार हेड लव कुमार और उनके साथ आये रोबोटिक इंजीनियरों ने बच्चो के सामने ‘नीनो’ की खूबियों को बताया. नीनो भारत का पहला ह्यूमन्वॉयड रोबोट है जो देखने मे ही मानव जैसा नही बल्कि उसके कार्यकलाप भी मानव जैसे हैं. वह चलने और बोलने से लेकर गाने और डांस जैसे क्रियाकलापों को कर सकता है. रोबोट को सांसे रोककर देखने वाले बच्चों ने जब उससे खुद उसका इंट्रोडक्शन

Read more

‘नीनो’ की आरा में “दस्तक”

सम्भावना स्कूल में रोबोट से बच्चे होंगे रू-ब-रू पहला भारतीय रोबोट है “नीनो” Patna now super Exclusive आरा, 17 मार्च. क्या आप जानते है कि “नीनो” कौन है? सोच में पड़ गए न? घबराइए नही यह प्यारा नाम किसी गाड़ी का नही बल्कि भारत मे बने पहले भारतीय रोबोट का नाम है. नीनो जापानी नाम है जिसका अर्थ होता है नटखट. जैसा नाम वैसा काम. लगभग 2.5″ के इस प्यारे रोबोट का काम किसी शरारती बच्चे जैसा ही है. जिसे आज सम्भावना स्कूल में बच्चों के समक्ष प्रदर्शित किया जाएगा. दरअसल इस रोबोट की बहुत सारी खूबियों को देखने के बाद सम्भावना के प्रबंध निदेशक द्विजेन्द्र किरण और प्राचार्या अर्चना सिंह ने अपने स्कूल में इसे लाने का फैसला किया है. अब रोबोट को पाठ्यक्रम में शामिल कर पढ़ाई को और भी रोचक बनाने का प्रबंधक ने फैसला किया है. रोबोट के खूबियों को इसीलिए डेमो के तौर पर आज प्रातः 8.30 बजे असेम्बली के बाद बच्चों के समक्ष प्रदर्शित किया जाएगा. सेरिना टेक्नोलॉजी के बिहार हेड लव कुमार अपने टीम के साथ आरा में ह्यूमन्वॉयड रोबोट को कल बच्चों से रु-ब-रु करायेंगे. बताते चलें कि इसको बिहार की ही बेटी आकांक्षा ने बनाया है. अगर सम्भावना स्कूल ने इस प्यारे रोबोट को स्कूल का हिस्सा बनाया तो जिले का पहला रोबोट रखने वाला विद्यालय बन जायेगा. हालांकि ज्ञान ज्योति में भी रोबोट है लेकिन ह्यूमन्वॉयड रोबोट नही है. चलने-फिरने गाने और मानव जैसे कई काम करने वाले इस रोबोट ‘नीनो’ के तो बच्चे भारत के अन्य जगहों में दीवाने

Read more

माध्यमिक मूल्यांकन के दौरान केंद्रों पर 200 गज में निषेद्याज्ञा लागू

माध्यमिक मूल्यांकन के दौरान केंद्रों पर निषेद्याज्ञा रहेगा लाग 22 मार्च तक चलेगा मूल्यांकन का कार्य आरा, 14 मार्च. बुधवार से माध्यमिक वार्षिक परीक्षा 2018 का मूल्यांकन प्रारंभ हुआ. मूल्यांकन आरा के 3 स्कूलों में किया जा रहा है. जैन स्कूल, हित नारायण क्षत्रिय स्कूल और मॉडल स्कूल में प्रातः 9:00 बजे से संध्या 6:00 बजे तक बार कोडेड उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन स्कूल में शिक्षक कर रहे हैं. इस दौरान विद्यालय परिधि के 200 गज के धारा 144 लागू किया गया है. जिसके तहत 200 गज के अंदर लोगों को प्रवेश करने पर रोक लगाई गयी है. साथ ही किसी तरह के अस्त्र-शस्त्र और घातक हथियार लेकर चलने की मनाही है. केवल मूल्यांकन में शामिल उक्त केंद्रों पर कर्मियों और विधि-व्यवस्था में शामिल सुरक्षाबलों हथियार रखने की आजादी है. साथ ही सिख समुदाय के जिन्हें कृपाण रखने का मौलिक अधिकार है ,उन्हें यह छूट दी गयी है. लेकिन केवल कृपाण लेकर चलने पर यह लागु नही होगा. जिला जन संपर्क पदाधिकारी ने बताया कि यह निषेद्याज्ञा 13 मार्च से 22 मार्च तक होने वाले मूल्यांकन के दौरान सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक लागू होगा. इस दौरान केवल बारात और शव यात्रा में शामिल लोगों पर यह लागू नही होगा. लेकिन इस दौरान ध्वनि विस्तारक यंत्रो का किसी भी तरह के प्रयोग पर सर्वथा मनाही है. आरा से ओ पी पांडेय की रिपोर्ट

Read more

शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET) का रिजल्ट जारी

पटना (राजेश कुमार की रिपोर्ट) । आखिर काफी जद्दोजेहद के बाद बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने 6 मार्च को शिक्षक पात्रता परीक्षा का संशोधित रिजल्ट जारी कर दिया. परिणाम अब आधिकारिक वेबसाइट www.bsebonline.net पर उपलब्ध है. इससे पहले बीएसईबी के अध्यक्ष आनंद किशोर द्वारा 21 सितंबर, 2017 को ही रिजल्ट जारी किए गए थे. लेकिन 11 हजार उम्मीदवारों ने असफल होने के बाद परिणामों को फिर से जांचने का अनुरोध किया तथा बोर्ड को आवेदन दिया. इस पर बिहार बोर्ड ने परीक्षा के आंसर की जारी किये थे. लेकिन इसपर भी असफल अभ्यर्थियों द्वारा आपत्ति दर्ज कराई गई. हजारों छात्रों ने परीक्षा में पूछे गए गलत सवाल और उनके गलत जवाब का हवाला देते हुए जांच की मांग की थी जिसपर बिहार बोर्ड ने विशेषज्ञों की कमिटी बनाकर जांच कराई. पेपर I के लिए 26 विषय विशेषज्ञ और पेपर II के लिए 40 विशेषज्ञों को सवालों की जांच की जिम्मेवारी सौंपी गई थी. रिपोर्ट के मुताबिक, जांच के बाद बीएसईबी ने सहमति व्यक्त की कि 9 प्रश्न ठीक से प्रिंट नहीं किए गए थे और दो सवालों के जवाब स्पष्ट नहीं थे. इन सबको ध्यान में रखने और पुनः जांचने के बाद अब बीटीईटी 2017 के संशोधित परिणामों को जारी किया गया है. रिपोर्ट के मुताबिक 23 जुलाई 2017 को परीक्षा में कुल 2.43 लाख उम्मीदवार सम्मिलित हुए थे. संशोधित रिजल्ट में पिछले रिजल्ट से 8349 परीक्षार्थी ज्यादा सफल घोषित किए गए हैं. इसमें पेपर वन (क्लास 1 से 5) से 1837 जबकि पेपर टू (क्लास 6 से 8) से

Read more

“जूता-बैन” करने वाला ‘बिहार बोर्ड’, Out of syllabus पर कितना “सख्त” ?

बिहार बोर्ड ने गठित की Expert टीम, एक हफ्ते में सौंपेगी रिपोर्ट बिहार बोर्ड- रिपोर्ट आने के बाद गणित की परीक्षा पर लिया जाएगा फैसला पटना, 27 फरवरी. बिहार में परीक्षा से जुड़ा कोई मामला हो और विवाद या हंगामा न हो, तो अजीब लगता है. हर समय कुछ न कुछ विवाद या हंगामा बरपा ही रहता है. वह चाहे परीक्षा में नकल को लेकर हो या उसपर किये सख्ती के लिए या फिर सवाल out होने को लेकर हो. इस बार हंगामा परीक्षा में बोर्ड द्वारा पूछे गए syllabus से बाहर के सवाल पर हुआ है. हो भी क्यों न भाई, बिहार बोर्ड ने जो परीक्षार्थियों की फजीहत की है उससे वे गुस्से में हैं. चप्पल पहन कर परिक्षा दे रहे परीक्षार्थियों में छित-पुट जूते में आये परीक्षार्थियों को कैम्पस में भी जूते खोलवाने वाले शिक्षक और प्रशासन उनसे बदतमीजी से पेश आ रहा है. अब ऐसे में यदि परीक्षा में सवाल वो आ जाएं जो उन्होंने पढ़ा ही न हो तो हंगामा तो वाजिफ है. बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा जारी मैट्रिक परीक्षा में गणित की परीक्षा में syllabus से बाहर के पूछे गए प्रश्नों पर छात्र गुस्से में हैं. परीक्षा में पूछे गए सवालों को परीक्षार्थियों ने कई जगहों से चुनौती दिया है. बताते चलें कि 24 फरवरी को दोनों पालियों में गणित विषय की परीक्षा आयोजित की गई थी. परीक्षा की समाप्ति के बाद कुछ छात्रों द्वारा इस विषय के कुछ प्रश्नों को ‘out of syllabus’ बताया जा रहा है. बिहार बोर्ड द्वारा की गई कड़ाई

Read more

‘आरा’ में खुलेगा ‘लड़कियों के लिए मदरसा’

‘आरा’ में खुलेगा ‘लड़कियों के लिए मदरसा’ अहमदिया सलफिया की 27वीं वर्षगांठ पर मदरसे के उप सचिव ने जताई इच्छा आरा,26 फरवरी. मिल्की मोहल्ला स्थित अहमदिया सलफिया कि 27वीं वर्षगांठ रविवार को मनाई गई. कार्यक्रम की अध्यक्षता जामिया सलफिया (मर्कजी दारुल ऊलूम) वाराणसी के मौलाना मोहम्मद यूनुस मदनी ने की. मंच संचालन प्रधानाध्यापक मौलाना कमालुद्दीन फैजी ने ने किया. तिलावत कुरान मजीद के बाद छात्रों ने हम्द एवं नात सुनाएं. छात्रों ने इसलामी एवं इसलाही शीर्षक पर हिंदी,उर्दू,अंग्रेजी एवं भोजपुरी भाषा में तकरीर पेश किए. मदरसे के उपसचिव अनवर अली आरवि ने कहा कि मैं लड़कियों के लिए एक मदरसा मदरसा खोलना चाहता हूं जहां धर्म के साथ-साथ दुनिया के सभी शिक्षाओं को ग्रहण कर समाज की सेवा की जा सके. मदरसा के सहायक प्रबंधक अनवर अली ने आये रईसों को सिपासनामा (धन्यवाद) पेश किया. उन्होंने मदरसा के सर्वाेच्च प्रबंधक जनाब मौलाना हाफिज अबू नासिर रजाउल हसन आरवी के पधारने पर उन्हें धन्यवाद देते हुए सभी सदस्यगण, शुभचिंतक, श्रोतागण, एवं सभा में उपस्थित लोगों की सेवाओं एवं अतिथियों के आगमन पर उनका स्वागत किया एवं उन्हें धन्यवाद दिया. इस मौके पर मौलाना अब्दुस्समी मदनी ने अपने संबोधन में कहा कि मौलाना अबू मोहम्मद इब्राहीम आरवी ने इस मदरसा की नींव डाली थीं जिसे विश्वविद्यालय का स्थान प्राप्त था, जहां महान विद्वान लोग आते एवं धार्मिक समस्याओं का समाधान पाते थे. उन्होंने विद्यार्थीयों से कहा कि जिस कार्य में आप लोग लगे हुए है वह साधारण कार्य नहीं है शिक्षा कठिन परिश्रम के बिना प्राप्त नहीं होता. किसी शिक्षण संस्था में

Read more

डिप्टी CM ने रेलमंत्री को फोन कर कहा- “थैंक यू”

Group D में रेलवे ने खत्म की ITI की अनिवार्यता बिहार के डिप्टी CM की पहल पर रेलवे ने लिया बड़ा निर्णय पटना, 23 फरवरी. रेलवे के परीक्षा देने वालों के लिए खुशखबरी है. खुशखबरी यह है कि रेलवे ने ग्रुप डी पदों के लिए ITI की अनिवार्यता समाप्त कर दी है. जिसका फायदा अब ज्यादा से ज्यादा परीक्षार्थी उठा पाएंगे. गौरतलब है कि अभी कुछ दिन पहले ही रेलवे के ग्रुप डी में ITI की अनिवार्यता को लेकर 5 हजार से ऊपर छात्रों ने आरा रेलवे स्टेशन पर बवाल काटा था. लगभग 7 घण्टे तक ट्रेनों की आवागमन बाधित के साथ पथराव और हवाई फायरिंग में 2 दर्जन से ज्यादा जख्मी भी हुए थे. इसी को लेकर पटना स्टेशन पर 18 फरवरी को छात्रों ने हंगामा किया था. इस हंगामे के बाद बिहार के डिप्टी CM सुशील मोदी ने बच्चों के भविष्य को लेकर प्रयास ITI को से रेलवे की ग्रुप डी की परीक्षा से हटाने के लिए किया तो उनका यह सकरात्मक पहल काम कर गया. रेलवे के ग्रुप डी के पदों के लिए ITI की अनिवार्यता खत्म करने पर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने रेलमंत्री पियूष गोयल को फोन करके बधाई दी है. उन्होंने कहा है कि ग्रुप डी के पदों के लिए मैट्रिक की योग्यता ही काफी है. ITI की अनिवार्यता खत्म होने से बिहार के लाखों युवकों को फार्म भरने और परीक्षा में शामिल होने का मौका मिलेगा. बताते चलें कि सुशील मोदी ने बुधवार को रेल मंत्री से फोन पर बात कर ग्रुप डी

Read more