धान में बिचड़ा रोग से किसान परेशान, कृषि मंत्री ने जारी किए निर्देश

कृषि मंत्री डॉ प्रेम कुमार ने कहा है कि राज्य के कई हिस्सों से धान के बिचड़ा में रोग लगने की सूचना प्राप्त हो रही है. जानकारी के अनुसार इस रोग में धान के बिचड़े की पत्तियों के शीर्ष एवं किनारे सूख जाते हैं अथवा पीला दिखने लगते हैं. चूँकि कहीं-कहीं बीज स्थली में बिचड़े अभी छोटे हैं, इसलिए दूर से प्रभावित खेत सूखा दिखायी दे सकता है. यह एक रोग है, जो अधिक तापमान एवं आर्द्रता में वृद्धि होने के कारण अधिक प्रभावी होता है. कृषि मंत्री ने पौधा संरक्षण संभाग के सभी पदाधिकारियों को निर्देश दिया  है कि इस तरह के प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करें एवं किसान भाइयों एवं बहनों को अविलम्ब इसके नियंत्रण का उपाय बताएँ. उन्होंने पौधा संरक्षण संभाग के पदाधिकारियों को प्रभावित क्षेत्रों का सतत् निगरानी करते रहने का भी निदेश दिया है. उन्होंने कहा कि यदि कहीं भी फसलों पर इसका प्रकोप हो तो उसका अविलम्ब इसके प्रबंधन के उपाय युद्ध स्तर पर किया जाये. डॉ कुमार ने राज्य के किसानों से अपील की है कि अगर खरीफ फसलों पर किसी तरह के कीट एवं बीमारियों के लगने की आशंका हो तो तुरन्त इसके निदान के लिए अपने नजदीक के पौधा संरक्षण पदाधिकारी, कृषि समन्वयक अथवा कृषि पदाधिकारी से संपर्क करें.

Read more

डाकबंगला चौराहा से सगुना मोड़ तक ट्रैफिक होगा सुगम

पटना (राजेश तिवारी की रिपोर्ट) | बिहार के पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने कहा है कि विभागीय निविदा समिति ने राजधानी पटना में बेली रोड के समानांतर लगभग सवा 13 किलोमीटर पथ निर्माण के लिए 66.54 करोड़ों रुपए की मंजूरी दी है. इसके तहत कई संपर्क पथों का भी जीर्णोधार होगा. इसी प्रकार विभाग ने प्रदेश के चार जिलों में पथ निर्माण व इससे संबंधित अन्य कार्यों के लिए 18.42 करोड़ों रुपए की स्वीकृति प्रदान की है. यादव ने आज यहां बताया कि स्वीकृत प्रस्तावित योजना के तहत राजधानी के न्यू कैपिटल एरिया में पुनाईचक से समनपुरा होते हुए रुकनपुरा तथा तक पथ एवं अन्य संपर्क पथों के कुल 13.247 किलोमीटर में फुटपाथ निर्माण, हार्ड सोल्डरिंग, पथ संधारण, चौड़ीकरण एवं मजबूतीकरण, वृक्षों की कटाई आदि का कार्य किया जाएगा जिसे 21 माह के भीतर पूरा किया जाना है. बेली रोड के समानांतर माने जाने वाले इस पथ और संपर्क पथों के जीर्णोद्धार से बेली रोड पर डाकबंगला चौराहा से सगुना मोड़ तक वाहनों का गमनागमन सुगम होगा और यातायात अवरुद्ध होने की समस्या से बहुत हद तक निजात मिलेगी. यादव ने बताया कि विभाग ने सीतामढ़ी, दरभंगा और पूर्णिया में पथ निर्माण व अन्य कार्य के लिए 18.42 करोड़ों रुपए की प्रशासनिक स्वीकृति भी दी है. सीतामढ़ी के रसलपुर-गाढ़ा पद में बचाव कार्य पहुंच पथ, RCC पुल का निर्माण आदि के लिए 4.47 करोड़, इसी पथ पर 10वें किलोमीटर में ही एक अन्य स्थान पर उपरोक्त कार्य के लिए 3.65 करोड़, दरभंगा जिले में उजान से घनश्यामपुर वाया कैथवार-लगमा-मछैता-लालपट्टी-पररि-तुमौल

Read more

मैट्रिक पास विद्यार्थी इस दिन से कर सकते हैं ऑनलाइन आवेदन

लंबे इंतजार के बाद आखिरकार बिहार में मैट्रिक का रिजल्ट आ गया. और इसके साथ ही 11वीं में नामांकन के लिए भी बिहार बोर्ड ने सूचना जारी कर दी है. मैट्रिक की परीक्षा पास करने का बाद अब तक विद्यार्थी विभिन्न कॉलेजों में जाकर वहां फॉर्म खरीदकर अलग- अलग अप्लाई करते थे. लेकिन उनकी ये परेशानी अब दूर हो गई है. इस साल से बिहार के सभी 3300 शिक्षण संस्थानों में से किसी भी 20 कॉलेज/हाईस्कूल में आप घर बैठे आवेदन कर सकते हैं और इसके लिए आपके महज 300 रूपए खर्च होंगे. किस कॉलेज में आप एडमिशन ले सकते हैं, ये भी आपको ऑनलाइन पता चल जाएगा. बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि Online Facilitation System for Students (OFSS) सॉफ्टवेयर के माध्यम से 11वीं कक्षा में केन्द्रीय/राज्य बोर्ड द्वारा आयोजित माध्यमिक परीक्षा में उत्तीर्ण विद्यार्थियों का राज्य के लगभग 3,300 इंटरमीडिएट स्तर की शिक्षा प्रदान करने वाले शिक्षण संस्थानों में ऑनलाइन नामांकन हेतु ऑनलाइन आवेदन भरने के लिए दिनांक 30.06.2018 से 09.07.2018 तक तिथि निर्धारित की गयी है। 11वीं कक्षा में नामांकन लेने के इच्छुक विद्यार्थी वेबसाइट www.ofssbihar.in पर जाकर आवेदन करेंगे। 11वीं कक्षा में नामांकन हेतु ऑनलाईन आवेदन करने के लिए निर्धारित शुल्क 300 रुपये है। ऑनलाइन आवेदन निम्नलिखित माध्यमों से किया जा सकता है. क. चयनित सहज वसुधा केन्द्र के माध्यम से- 11 वीं कक्षा में नामांकन हेतु विद्यार्थी राज्य के 2,800 सहज वसुधा केन्द्र पर जाकर OFSS व्यवस्था के तहत ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए प्राधिकृत वसुधा केन्द्र की सूची वेबसाइट www.ofssbihar.in पर उपलब्ध

Read more

यहां क्लिक करें और देखें मैट्रिक रिजल्ट

यहां क्लिक करें और देखें मैट्रिक रिजल्ट मंगलवार शाम 4.30 बजे के बाद biharboard.ac.in या biharboardonline.bihar.gov.in  बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की वर्ष 2018 की मैट्रिक परीक्षा में 17 लाख से ज्यादा परीक्षार्थी शामिल हुए थे. जिनमें से इस बार 68.89 प्रतिशत परीक्षार्थी सफल रहे हैं. टॉप 10 में 23 विद्यार्थी शामिल हैं. टॉप थ्री में तीन लड़कियां हैं. प्रथम स्थान हासिल किया है जमुई के सिमुलतला विद्यालय की प्रेरणा राज ने. राजेश तिवारी

Read more

सिर्फ दफ्तर में नहीं, अब फील्ड में भी दिखेंगे आला अधिकारी

बिहार में अब आम लोगों की सुविधा के लिए सरकार ने बड़ी पहल की है. चीफ सेक्रेट्री दीपक कुमार ने सूबे के सभी आला अधिकारियों के लिए नई गाइड लाइन जारी की है. इसके मुताबिक अब उनका काम सिर्फ दफ्तर तक ही सीमित नहीं रहेगा. उन्हें हफ्ते में दो दिन फील्ड विजिट भी करना होगा और अपने विभाग के अधिकारियों से सीधे संपर्क करके उनकी समस्याएं जाननी होंगी. ये भी स्पष्ट किया गया है कि इस दौरान उनके आवासीय दफ्तर से काम पर रोक होगी. सरकार की ओर से जारी जानकारी के मुताबिक सूबे की प्रशासनिक व्यवस्था को सुदृढ़ करने की दिशा में मुख्य सचिव के निर्देश जारी हुए हैं. ये निर्देश सभी विभागों के प्रधान सचिव/सचिव,पुलिस महानिदेशक, प्रमंडलीय आयुक्त, पुलिस महानिरीक्षक, पुलिस उप महानिरीक्षक, जिला पदाधिकारी, वरीय पुलिस अधीक्षक सहित सभी पुलिस अधीक्षकों के लिए जारी किया गया है. जानकारी के मुताबिक सरकार के महत्वपूर्ण कार्यक्रमों को त्वरित एवं प्रभावी ढंग से लागू करने, इनके सतत अनुश्रवण एवं राज्य में न्याय के साथ विकास एवं प्रशासन को और अधिक संवेदनशील बनाने के उदेश्य से कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं. अब राज्य मुख्यालय स्तर पर प्रत्येक सोमवार, मंगलवार एवं शुक्रवार को यथा संभव पदाधिकारीगण मुख्यालय में उपस्थित रह कर कार्य करेंगे, शुक्रवार को पदाधिकारियों के द्वारा आम लोगों से मिलने का समय रखा जाएगा, मुख्यालय स्तर पर बैठकों/वीडियोकांफ्रेंसिंग का समय यथा संभव उपर्युक्त तीन दिवसों में ही रखा जाएगा तथा सप्ताह के शेष दिनों में प्रधान सचिव/सचिव क्षेत्र भ्रमण पर रहते हुए विभागीय कार्यों का निरीक्षण एवं समीक्षा करेंगे. निर्देश में

Read more

‘शरीर को आत्मा से जोड़ने का काम करता है योग’

पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो गुलाब चंद राम जयसवाल ने कहा है कि योग शरीर को आत्मा से जोड़ने का नाम है और समस्त विश्व में यह भारत का सांस्कृतिक राजदूत है. प्रो. जयसवाल गुरूवार को चतुर्थ अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर पटना के कॉलेज आफॅ कामसॅ आटसॅ एण्ड साइंस में आयोजित योग शिविर का उद्घाटन करने के बाद लोगों को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने शिक्षकों, शिक्षकेत्तर कर्मचारियों और छात्र – छात्राओं को एकाग्रता बढाने और निरोग और स्वस्थ रहने के लिए योग को नियमित रूप से अपनाने की सलाह दी. इस अवसर पर प्रति कुलपति प्रो. गिरीश कुमार चौधरी, प्रिंसिपल प्रो. तपन कुमार शांडिल्य ने भी योग के महत्व पर प्रकाश डाला. शिविर में योग गुरु डॉ. गुडाकेशवत्स ने सलभासन, उतानपाद आसन, प्राणायाम, शीतली प्राणायाम, अनुलोम विलोम, पवनमुक्तासन, और उतानमण्डुक आसन समेत विभिन्न आसनों का अभ्यास कराया. इस अवसर पर पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय के कुलानुशासक प्रो. महेंद्र प्रताप सिंह, प्रो. मनोज कुमार,प्रो. बीके मंगलम, प्रो. अशुतोष कुमार सिंहा , प्रो. सलोनी कुमार, प्रो. रश्मि अखौरी, प्रो. कंचना सिंह ,एनसीसी अफसर प्रमोद कुमार सिंह, एन. सी. सी कमान्डेन्ट कर्नल कृष्ण मोहन समेत बड़ी संख्या में शिक्षक, शिक्षकेत्तर कर्मचारी, एनसीसी कैडेट, एन. एस. एस स्वयंसेवक और छात्र-छात्राओं ने योगाभ्यास में भाग लिया.

Read more

कोईलवर थाने का SP ने किया निरीक्षण

कोइलवर,12 जून.भोजपुर SP अवकाश कुमार ने सोमवार को कोइलवर थाने का निरीक्षण किया. निरीक्षण के दौरान उन्होंने थाना परिसर समेत सिरिस्ता, लंबित कांडों तथा कुर्की जब्ती के मामलों का गहन परीक्षण कर आवश्यक निर्देश दिया. निरीक्षण के दौरान पुलिस कप्तान ने सभी पुलिसकर्मियों से क्षेत्र के नागरिकों के साथ मित्रवत व्यवहार करते हुए जनता से संवाद स्थापित करने के भी निर्देश दिए. उन्होंने शराब तस्करों और कारोबारियों के साथ सख्ती से पेश आने के लिए भी कहा. सभी सिपाहियों से अपनी बीट पर तैनात रहने और गश्त बढ़ाने के भी निर्देश ​दिए गए. निरीक्षण के दौरान एसएचओ पंकज सैनी, अंचल पुलिस निरीक्षक चन्द्रशेखर गुप्ता एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे. कोईलवर से अमोद कुमार की रिपोर्ट

Read more

सूचना दीजिए और जीतिए करोड़ों का इनाम

आयकर विभाग ने लॉंच की नई बेनामी लेनदेन मुखबिर पुरस्कार योजना, 2018  देश में बेनामी संपत्ति रखने वाले और काली कमाई के किंग बने लोगों के लिए बुरी खबर है. आयकर विभाग ने ऐसे लोगों पर शिकंजा कसने के लिए बेनामी लेनदेन मुखबिर योजना शुरू की है. इसके तहत एक करोड़ तक के इनाम की घोषणा की गई है. वहीं विदेश में काला धन रखने वालों की जानकारी देने वालों को 5 करोड़ तक की राशि इनाम में मिल सकती है. अनेक मामलों में यह पाया गया है कि दूसरों के नामों से संपत्तियों में काले धन का निवेश किया जा रहा है यद्यपि इसका लाभ निवेशक द्वारा अपने आयकर रिटर्न में लाभकारी स्वामित्व को छुपा कर लिया जा रहा है. सरकार ने इससे पहले बेनामी संपत्ति लेनदेन अधिनियम, 1988 में बेनामी लेनदेन (निषेध) संशोधन अधिनियम, 2016 के माध्यम से संशोधन किया था ताकि कानून को और मजबूत बनाया जा सके. काले धन का पता लगाने और कर चोरी में कमी लाने के आयकर विभाग के प्रयासों में लोगों की भागीदारी बढ़ाने के उद्देश्य से आयकर विभाग द्वारा ‘बेनामी लेनदेन मुखबिर पुरस्कार योजना 2018’ शीर्षक से नई पुरस्कार योजना जारी की है. इस योजना का उद्देश्य छिपे हुए निवेशकों और लाभकारी स्वामियों द्वारा किए गए बेनामी लेनदेन तथा संपत्तियों तथा ऐसी संपत्तियों पर अर्जित आय के बारे में सूचना देने के लिए लोगों को प्रोत्साहित करना है. ‘बेनामी लेनदेन मुखबिर पुरस्कार योजना, 2018’ के अंतर्गत बेनामी लेनदेन तथा संपत्तियां तथा ऐसी संपत्तियों से हुई प्राप्तियों जो बेनामीलेनदेन (निषेध)  संशोधन अधिनियम, 2016 द्वारा संशोधित

Read more

अब मुख्यमंत्री के सलाहकार की भूमिका निभाएंगे अंजनी कुमार सिंह

पटना (ब्यूरो रिपोर्ट)। रिटायरमेंट के तुरंत बाद IAS अंजनी कुमार सिंह को नई जिम्मेदारी मिल गई है. जैसी कि चर्चा थी, उन्हें मुख्यमंत्री का सलाहकार(नीति एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन) नियुक्त किया गया है. एक जून को मंत्रिमंडल सचिवालय ने इसकी अधिसूचना जारी कर दी. अधिसूचना के अनुसार, पूर्व मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह को राज्य मंत्री का दर्जा और सुविधाएं प्राप्त होंगी. अंजनी कुमार सिंह 31 मई को रिटायर हुए थे. इनका नियंत्री विभाग मंत्रिमंडल सचिवालय होगा. पदभार ग्रहण करने की तिथि से अगले आदेश तक वे इस पद पर रहेंगे. सूत्रों के मुताबिक, मुख्यमंत्री आवास, एक अणे मार्ग और बिहार विकास मिशन कार्यालय में अंजनी सिंह का कक्ष होगा. अधिसूचना के मुताबिक राज्य के सर्वांगीण विकास से संबंधित नीतियों, संकल्पों और कार्यक्रमों का कार्यान्वयन निर्धारित समय में करने और लक्ष्यों की प्राप्ति में मुख्यमंत्री को परामर्श और सहयोग देना इनका दायित्व होगा. इसके अलावा समय-समय पर राज्य के विकास से संबंधित नीतियों, योजनाओं और कार्यक्रमों और उनके कार्यान्वयन से संबंधित अन्य दायित्व भी उन्हें सौंपे जा सकेंगे. बता दें कि अंजनी कुमार सिंह के रिटायरमेंट के बाद दीपक कुमार का बिहार का मुख्य सचिव बनाया गया है.

Read more

बिहार के कई मेडिकल कॉलेजों के प्राचार्य-अधीक्षक बदले गए

अजीत वर्मा बनाए गए पटना मेडिकल कॉलेज(PMC) के प्राचार्य डॉ राजीव रंजन प्रसाद बने पीएमसीएच के अधीक्षक डॉ. सीताराम प्रसाद बने नालंदा मेडिकल कॉलेज(NMC) के प्राचार्य डॉ. हिरण्यगर्भ अग्रवाल बने अनुग्रह नाराण मेडिकल कॉलेज(ANMC), गया के प्राचार्य डॉ. विनोद प्रसाद बनाए गए राजकीय मेडिकल कॉलेज बेतिया के प्राचार्य डॉ. हेमंत कुमार सिन्हा बने  जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज, भागलपुर के प्राचार्य स्वास्थ्य विभाग ने जारी की अधिसूचना

Read more