‘प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं’

सफलता सदा उन्हीं लोगों के कदम चूमती है जो अपनी असफलताओं और मार्ग में आने वाली निराशाओं को अपने नियन्त्रण में करके, उनसे शिक्षा लेकर निरन्तर आगे बढ़ते रहते हैं . पीछे मुड़कर देखना उनके स्वभाव में नहीं होता . दिन-रात एक करके अपने लक्ष्य की ओर देखने वाले, ये निस्सन्देह सफल होते हैं . इसका जीता-जागता उदाहरण हैं कोईलवर के सुरौधा कॉलोनी निवासी स्व गणेश चौधरी के पुत्र ब्रजकिशोर चौधरी . जिन्होंने अपने प्रथम प्रयास में ही अपनी मुकाम को हासिल किया . सुरौधा कॉलोनी के दलित बस्ती में रहने वाले ब्रजकिशोर चौधरी सिविल जज के लिये चुन लिए गए हैं . ब्रजकिशोर छोटे से टोले में रहते हुए भी शुरू से ही बड़े सपने देखने लगे थे . उनके पिता जी एक शिक्षक थे . दो भाई व तीन बहन में ब्रजकिशोर दूसरे नंबर पर थे . छोटी उम्र में ही उनके सिर से पिता का साया उठ चूका था . माँ राजमती देवी के कंधो पर भारी बोझ आ चूका था . इसके बावजूद भी ब्रजकिशोर अपने पढाई में कोई बाधा नही आने दिए . हालांकि पिता जी के स्थान पर माँ को स्कूल में चपरासी की नौकरी मिल गयी थी . जिसके बाद ब्रजकिशोर के कंधो पर भी बड़ी जिम्मेवारी हो गयी . बहन की शादी जिम्मेवारियों में सबसे ऊपर था . ब्रजकिशोर की स्कूली शिक्षा प्राथमिक विद्यालय, सुरौधा कॉलनी से हुयी . उसके बाद टीएमबीएस उच्च विद्यालय से 1994 में मैट्रिक परीक्षा उत्तीर्ण किये . इंटरमीडियट व ग्रेजुएशन की पढ़ाई जैन कॉलेज आरा से किया

Read more

भोजपुरी फ़िल्म ईमान-धरम का प्रमोशन

भोजपुर के कोइलवर प्रखण्ड अंतर्गत कुल्हड़िया में आयुष मोशन पिक्चर्स के बैनर तले बन रहे भोजपुरी फ़िल्म ईमान धरम का प्रमोशन किया गया . मौके पर उपस्थित फ़िल्म के निर्माता सतेंद्र तिवारी व् फ़िल्म में मुख्य किरदार के रूप में कार्य कर रहे सुर-संग्राम विजेता आलोक कुमार मीडिया से रूबरू हुए . फिल्म निर्माता सत्येंद्र तिवारी ने बताया कि मुझे अपने पैतृक गांव में ईमान धरम फ़िल्म का प्रमोशन कर खुशी मिल रही है .  फ़िल्म के कहानी के बारे में उन्होंने बताया कि यह एक पारिवारिक फ़िल्म है. यह फ़िल्म दो भाइयों की कहानी है जिसमे एक भाइ दूसरे के बहकावे में आकर घर में कलह पैदा कर देते हैं . फ़िल्म साफ सुथरी है जिसे लोग अपने परिवार के साथ बैठ कर देख सकेंगे. फ़िल्म के लोकशन के बारे में उन्होंने बताया कि फ़िल्म की शूटिंग बिहार के सीतामढ़ी व मुम्बई में शूट किया जाएगा . मौके पर उपस्थित फ़िल्म में बतौर अभिनेता पहले सुर संग्राम के विजेता आलोक कुमार ने पत्रकारों से रूबरू होते हुए बताया कि बन रही भोजपुरी फ़िल्म ईमान-धरम एक सामाजिक व् पारिवारिक फ़िल्म है जो पूरी तरह अश्लीलता मुक्त होगी . आप सभी लोग इस फ़िल्म को सपरिवार एक साथ बैठकर सिनेमा हॉल में देख सकते हैं . इस फ़िल्म में करीब 10 गीत हैं जो काफी अच्छे हैं. अभिनेत्री के रूप में खुशबू पांडेय व मधु सिंह राजपूत , कादिर शेख, अदिति सिंह, आमोद कुमार, गोपाल राय, प्रियंका महाराज, मुमताज समेत कई नामी गिरामी कलाकार है . फ़िल्म में पठकथा , संवाद

Read more

केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री का पैर फ्रैक्चर

केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री सह स्थानीय सांसद अश्विनी चौबे का दाहिना पैर रविवार की देर शाम फ्रैक्चर हो गया. मंत्री सीताराम विवाह महोत्सव में शामिल होने के लिए बक्सर के नई बाजार गए हुए थे. File pic यहां वे मुरारी बापू का प्रवचन सुनने के बाद वे मठ में चल गए. मठ की सीढ़िया उतरने के दौरान अपना संतुलन खो बैठे, किसी तरह से बॉडीगार्ड ने संभाल लिया. आनन-फानन में उन्हें इलाज के लिए सदर अस्पताल ले जाया गया. एक्सरे होने के बाद पता चला कि दाहिना पैर फ्रैक्चर हो गया है. सदर अस्पताल में उनका प्राथमिक इलाज हुआ. बक्सर से ऋतुराज

Read more

DM के बाद अब OSD की संदेहास्पद मौत से सनसनी

बक्सर में तात्कालीन DM मुकेश कुमार पांडे की संदेहास्पद मौत को अभी ज्यादा दिन नहीं हुए हैं इस बीच रविवार को DM के OSD तौकीर अकरम की भी संदेहास्पद मौत हो गई है. पुलिस ने आज सुबह बक्सर जिलाधिकारी के विशेष कार्य पदाधिकारी (OSD) तौकीर अकरम का शव उनके कमरे से बरामद किया.    पुलिस ने उनके कमरे से एक नोट भी बरामद किया है जिसमें रविवार सुबह 4.30 बजे का वक्त लिखा है. कुछ महीने के भीतर ही लगातार 2 ऐसी वारदातों से बक्सर समेत पूरे सूबे में सनसनी फैल गई है. सूचना मिलने पर पहुंचे बक्सर डीएम अरविन्द कुमार वर्मा भी मृतक के घर के बाहर कैंप कर रहे हैं. चर्चा है कि इन दोनों घटनाओं का किसी बड़े मामले से संबंध हो सकता है. इसे लेकर मृतक OSD के कमरे को सील कर दिया गया है. इस बीच बक्सर के प्रभारी एसपी अवकाश कुमार भी मौके पर पहुंच गए हैं और कमरे को खोलकर मामले की जांच कर रहे हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने घटना पर शोक जताया है और मामले की जांच के आदेश दिए हैं. बक्सर के डीएम की भी हुई थी संदेहास्पद मौत पढ़िये पूरी खबर- https://goo.gl/6dDojH बक्सर से ऋतुराज

Read more

सुरौधा टापू पर पहली बार पहुंचे बड़े हाकिम

समस्या सुनाते फफक पड़े सुविधाओं से वंचित ग्रामीण कोइलवर प्रखण्ड अंतर्गत सोन नदी के बीचो-बीच स्थित नगर पंचायत का सुरौधा टापू शनिवार को पूरा गहमागहमी रहा . रहे भी क्यों ना भोजपुर जिले में शराब के अवैध निर्माण और व्यवसाय के लिए कुख्यात सुरौधा के ग्रामीणों ने कोइलवर थाना प्रभारी पंकज सैनी के अथक प्रयास के बाद जब शराब न बनाने व न बेचने और ना ही पीने का संकल्प लिया तो इस संकल्प से प्रभावित व प्रसन्न हो जिले के बड़े हाकिम शनिवार को सुरौधा टापू पहुंचे . जिलाधिकारी संजीव कुमार और पुलिस अधीक्षक अवकाश कुमार जिला और प्रखंड के आलाधिकारियों के लाव लश्कर के साथ सोन नद के बीचोबीच स्थित कोइलवर के सुरौधा टोंक ग्रामीणों से मिलने और उनकी समस्याओं को साझा करने पहुंचे . आज़ादी के बाद पहली बार कोई अधिकारी सुरौधा टापू पर पहुंचा था . इस अवसर पर यहां विकास शिविर का आयोजन किया गया . जीवन मे पहली बार किसी आलाधिकारी को अपने दरवाजे पर देख सुरौधा के ग्रामीण भाव विह्वल व गदगद हो उठे . सबकी नजर कोइलवर थाना प्रभारी को एक नजर देखने को थी जिसने अपनी कड़ी मेहनत व अथक प्रयास से यहां के ग्रामीणों को शराब बन्दी के समर्थन के लिए राजी किया है . कृषि,स्वास्थ्य व स्वच्छता समेत कई विभागों के काउंटर विकास शिविर में लगाये गये थे . जिसमे इन विभागों द्वारा नागरिकों को मिलने वाली सुविधाओं और लाभों की जानकारी दी गयी . साथ ही राजस्व कर्मचारी द्वारा मौके पर कई लोगो के राजस्व रसीद काटा गया

Read more

कोइलवर में मेडिकल कॉलेज खोलने की मांग

बक्सर से पटना जाने के क्रम में केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे की गाड़ी कोइलवर पुल के जाम में फंसा देख स्थानीय लोगों ने उन्हें बधाई तो दी ही लगे हाथ कोइलवर में पहले प्रस्तावित मेडिकल कॉलेज की मांग दुहरा दी . स्थानीय लोगों ने अपनी बात मंत्री के समक्ष रखते कहा कि शुरुआती दौर से ही मानसिक अस्पताल की एक सौ अठाइस एकड़ भूमि में मेडिकल कॉलेज खोले जाने को लेकर जिला प्रशासन कई दौर की बैठकें कर चुका है . राज्य सरकार के हरी झंडी मिलने के बाद कॉलेज का प्रस्ताव भी भेजा जा चुका है. स्थानीय निवासी व पत्रकार दीपक कुमार सिंह ने काबीना मंत्री को बताया कि स्थानीय सांसद व केंद्रीय मंत्री आर के सिंह के सुझाव जिलाधिकारी व स्वास्थ्य विभाग स्थल निरिक्षण भी कर चुके हैं . ऐसी परिस्थिति में दूसरे जगह जमीन देखने व ग्रामीणों का सुझाव माँगा जाना अनुचित तो है ही, राज्य व केंद्र सरकार के राजस्व को भी क्षति पहुँचाना है . मौके पर मौजूद पत्रकार आमोद कुमार व दीपक गुप्ता ने मंत्री को बताया कि पूरे बिहार के इकलौते मानसिक रोग संस्थान में अगर मेडिकल कॉलेज व अस्पताल का निर्माण होता तो न किसानों को भूमि का मुआवजा ही देना पड़ता और न ही अस्पताल के पुनर्निर्माण में ज्यादा लागत ही खर्च होती. जानकारों की मानें तो पूरे बिहार में सिर्फ कोइलवर में ही मानसिक रोगी इलाज कराने आते हैं जबकि मानसिक चिकित्सकों की भी शिक्षा की व्यवस्था कहीं नहीं है जबकि कोइलवर में कॉलेज खुलने के बाद

Read more

महोत्सव को यादगार बनाने की तैयारी

राजगीर महोत्सव के अवसर पर आयोजित होने वाले विशाल हास्य कवि सम्मेलन को यादगार बनाया जाएगा. सूचना भवन में जिला के सभी वरिष्ठ साहित्यकारों ने यह निर्णय लिया. साहित्यकारों ने कहा कि यह एक दुर्लभ अवसर है जब राज्य के सभी क्षेत्रीय भाषाओं के हास्य एवं व्यंग तथा के लब्धप्रतिष्ठित कवि एक मंच पर उपस्थित होंगे. इस राज्यस्तरीय कवि सम्मेलन में सभी साहित्यकार आयोजक की भूमिका में होंगे एवं जिला प्रशासन का पूरा सहयोग करेंगे. साहित्यकारों ने जिलाधिकारी डॉ त्यागराजन एसएम की काफी प्रशंसा की एवं उनके द्वारा साहित्य के उत्थान के लिए किए जा रहे कार्यों की सराहना की। लोगों ने कहा कि दक्षिण भारतीय व अहिंदी भाषी होते हुए भी उनके लिए हिंदी ,उर्दू एवं बिहार में प्रचलित अन्य क्षेत्रीय भाषाओं एवं मूल्यों के प्रति जो प्रेम दर्शाया जा रहा है वह अतुलनीय है. इन के कार्यकाल में जिला सृजन दिवस से जो कवि सम्मेलन एवं साहित्य गोष्ठी की परंपरा शुरू हुई वह अनवरत ऊंचाइयों को प्राप्त करती गई है. वर्ष 2016 से राजगीर महोत्सव में भी कबि सम्मेलन की परंपरा शुरू हुई. इस वर्ष यह और भी भव्य ढंग से आयोजित होगा. 27 नवंबर को राजगीर महोत्सव के मुख्य-मंच से विराट हास्य कवि सम्मेलन का आयोजन होगा ,जिसमें हिंदी एवं उर्दू के अलावे मैथिली, मगही, भोजपुरी, बज्जिका ,अंगिका आदि भाषाओं के लब्ध प्रतिष्ठित हास्य कवि अपनी अपनी रचनाओं से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध करेंगे । बैठक में जिला भू-अर्जन पदाधिकारी सुबोध कुमार सिंह एवं जिला जनसंपर्क पदाधिकारी लालबाबू सिंह ने कहा कि आज के दौर में मानसिक तनाव

Read more

प्रेस दिवस पर परिचर्चा का आयोजन

राष्ट्रीय प्रेस दिवस के मौके पर आरा में एक परिचर्चा का आयोजन किया गया. जिला जनसंपर्क कार्यालय की ओर से आयोजित इस परिचर्चा में विभिन्न मीडिया हाउस से जुड़े पत्रकारों ने भाग लिया. आरा से ओपी पांडे

Read more

शराबी बाइक सवार ने ले ली बच्चे की जान

सड़क दुर्घटना में बच्चे की मौत भोजपुर के चांदी थाना क्षेत्र के हरदास टोला में नासरी गंज-सकड्डी पथ पर नशे में धुत बाइक सवार ने आठ वर्षीय बच्चे को ठोकर मार दिया . ठोकर लगने के साथ ही बच्चा बुरी तरह जख्मी हो गया . वही बाइक सवार भी चोटिल हो गया . बाइक के धक्के से बुरी तरह जख्मी बच्चे की पहचान हरदास टोला निवासी श्री किशुन यादव के आठ वर्षीय पुत्र रोहित कुमार के रूप में की गई है . वहीं बाइक सवार की पहचान पटना जिले के बिहटा थाना क्षेत्र के बिंदौल निवासी हरेन्द्र शर्मा के 26 वर्षीय पुत्र पिंटू शर्मा के रूप में की गई . शराब के नशे में था बाइक सवार सकड्डी -नासरीगंज पथ के चांदी थाना के हरदास टोला निवासी बुरी तरह जख्मी बच्चा रोहित बुरी तरह जख्मी हो गया . आनन फानन में ग्रामीणों ने उसे सदर अस्पताल आरा पहुंचाया जहां चिकित्सकों ने इलाज के क्रम में उसे मृत घोषित कर दिया . धक्का मारने के बाद खुद बाइक सवार भी जख्मी हो गया जिसे स्थानीय थाना द्वारा कोइलवर पीएचसी लाया गया . मेडिकल जांच में बाइक सवार के शराब के नशे में होने की पुष्टि ऑन डियूटी डॉक्टर द्वारा की गई . जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर थाने लाया गया . ससुराल जा रहा था बाइक सवार मिली जानकारी के अनुसार बच्चे को धक्का मारने वाला बाइक सवार कोइलवर के एक निजी मेडिकल लैब में काम करता है . वहां से वह शराब के नशे में धुत होकर अपने ससुराल चांदी

Read more

आरा के कलाकारों का आगरा में जलवा

आरा के कलाकारों ने आगरा में जीता नम्बर वन का खिताब, बटोरे सर्वाधिक अवार्ड द्वितीय नम्बर पर जमशेदपुर का नाटक” देशान्तर”और तृतीय नम्बर पर गुजरात का नाटक “शोभा ये तूने क्या किया” आरा की रंगसंस्था “अभिनव & ऐक्ट” ने बटोरे 1 दर्जन अवार्ड आगरा के मिल्टन स्कूल और संस्कार भारती आगरा द्वारा 14वें रंगोदय 2017 में आरा के कलाकारों ने राष्ट्रीय स्तर पर अपने रंगकर्म का लोहा मनवाया. राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की अमर कृति “रश्मि-रथी” की शानदार प्रस्तुति से सबका दिल जीत नम्बर वन का खिताब अपने खाते में झटक लिया. नाटक का नाट्य रुपांतरण और परिकल्पना वरिष्ठ रंगकर्मी चन्द्रभूषण पांडेय ने किया था और निर्देशन शैलेन्द्र सच्चु ने किया था. रश्मि-रथी को सर्वश्रेष्ठ नाट्य दल, सर्वश्रेष्ठ निर्देशन के लिए निर्देशक शैलेन्द्र सच्चु को, सर्वश्रेष्ठ लाइट के लिए शशि सागर बब्बू को, सर्वश्रेष्ठ वस्त्र व रूप-सज्जा के लिए शांति कुमार को, पुरस्कार तो मिले ही साथ ही नाटक के सर्वश्रेष्ठ मंच सज्जा, सर्वश्रेष्ठ नुक्कड़ नाटक के निर्देशन और नुक्कड़ नाटक के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता सहित तीन पुरस्कार ओ पी पांडेय को मिला. वही मंचीय नाटक रश्मि-रथी में कृष्ण बने अभिनेता शाश्वत कुणाल को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के साथ-साथ नुक्कड़ नाटक “मंडी का नुक्कड़” के लिए द्वितीय श्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार भी मिला. अभिनव& ऐक्ट के कलाकारों को इसके अतिरिक्त सर्वश्रेष्ठ झाँकी, सर्वश्रेष्ठ कैम्प-फायर में प्रस्तुति के लिए भी पुरस्कार मिले. अभिनव & ऐक्ट के कालाकारों को “मंडी का नुक्कड़” के लिए भी सर्वश्रेष्ठ नुक्कड़ नाटक का पुरस्कार मिला. इसतरह कुल 12 अवार्ड आरा के कलाकारों ने बटोर रंगनगरी आरा का

Read more