किसकी हुई विदाई जिसमे शामिल हुए 1000 NCC कैडेट !

2 सालों में बेहतरीन सेवा देने वाले कर्नल जोशी का तमिलनाडु स्थानांतरण आरा,17 जुलाई. 5 बिहार बटालियन NCC के कमान अधिकारी कर्नल विनोद जोशी का स्थानांतरण अब भारत के दक्षिण इलाके में हो गया है. कर्नल जोशी एक तेज-तर्रार और ईमानदार व्यक्तित्व वाले व्यक्ति हैं, जिन्होंने अपने दो वर्षों के कार्यकाल में 5 बिहार बटालियन NCC को एक नया मुकाम दिया है. जहाँ एक ओर देश सेवा की भावना से ओतप्रोत कर्नल में जहां बच्चों को देश के प्रति मोटिवेट करने की अद्भुत कला है वहीं दूसरी ओर अनुशासन और मेहनत के बल पर दुनिया जीत लेने की पाठ पढ़ाने का गुण. उन्होंने 2 सालों में कई कैम्प के जरिये NCC कैडेटों की बेहतरीन फौज खड़ी की है. अब वे दक्षिण भारत के मद्रास रेजिमेंट सेंटर वेलिंगटन तमिलनाडु में कमान अधिकारी का पदभार संभालेंगे. उनके स्थानांतरण की खबर सुनने के बात जिले भर के उनके चाहने वालो में मायूसी है लेकिन यह खुशी भी है कि वे भारत के दूसरे हिस्से में भी 5 बिहार बटालियन की तरह ही कैडेट खड़े करेंगे जो देश के लिए जियेंगे. सोमवार को कमान अधिकारी कर्नल विनोद जोशी के स्थानांतरण पर जैन कॉलेज परिसर में विदाई सह सम्मान समारोह का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में कॉलेज और स्कूलों के NCC अफसर एवं एक हजार से अधिक NCC कैडेट्स शामिल हुए. कार्यक्रम की शुरुआत पुष्प वर्षा, विदाई गार्ड ऑफ ऑनर और स्वागत गीत से हुई. कैडेटों द्वारा देशभक्ति गीत व नृत्य का आकर्षक मंचन किया गया. जाते-जाते अपने मेहनत से तैयार किये गए कैडेटों के

Read more

“2 जिंदगी” को बचाने में प्रशासन को लगे “4 घण्टे”

आरा ब्लॉक कैम्पस में विशालकाय पेड़ गिरने से हुई 2 की मौत 2 घायल 2 क्रेन, 3 JCB और एक मिनी JCB के बावजूद लग गये 4 घण्टे, मिला साथ सबका पर छूटे सबके पसीने सोमवार को अपराह्न 12.30 बजे के आसपास आरा ब्लॉक स्थित विशालकाय इमली के पेंड के गिर जाने से एक टेम्पो उस की चपेट में आ गया जिसमें सवार 3 लोग प्रकृतिक हादसे में फंस गए. पेड़ का निचला हिस्सा कीड़ा लगने की वजह से कमजोर हो गया था. टेम्पो में सवार सभी ब्यक्ति जमीरा गांव के थे. टेम्पो में एक बुजुर्ग वासुदेव राम अपनी 4 वर्षीय पोती चांदनी के साथ सवार थे. इस टेम्पो से गर्भवती बहू का इलाज कराने के लिए बुजुर्ग पहुँचे थे जिसे आशा कार्यकर्ता उर्मिला देवी महिला को डॉक्टर के पास छोड़ कर बाहर इमली के पेड़ की छांव में आ गयी. वासुदेव राम अपनी पोती और टेम्पो चालक के साथ इमली के पेड़ के नीचे गाड़ी खड़ी कर इंतजार कर रहे थे. इसी बीच अचानक विशालकाय इमली का पेंड चरचराते हुए इतनी तेजी से नीचे गिरा कि पेंड की छांव में खड़े लोगों को कुछ समझने का मौका तक नही मिला और गर्मी से राहत के लिए इस छाँव में खड़ी मुफ्फसिल थानांतर्गत भकुरा के श्रीनगर गांव की आशा कार्यकर्ता उर्मिला देवी और जमीरा गॉंव का टेम्पो चालक सोनू पासवान की मौत हो गयी. आशा कार्यकर्ता को सबसे पहले JCB की मदद से निकाल कर अस्पताल भेजा गया लेकिन रास्ते मे ही उसकी मौत हो गयी. अचानक धड़ाम से गिरे इस

Read more

किन्नरों के भरोसे होगी लड़कियों की सुरक्षा!

आपने सही पढ़ा. बिहार में लगातार लड़कियों के साथ हो रही रेप की घटनाओं से चिंतित सरकार अब किन्नरों को अल्पावास गृह की सुरक्षा सौंपने पर विचार कर रही है. सोमवार को लेक संवाद में छोटी बच्चियों के साथ हो रही रेप जैसी घटनाओं से संबंधित प्रश्न के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि यह एक घिनौना कृत्य है, विकृत मानसिकता है. इसके लिए कानूनी प्रावधान के अनुसार कार्रवाई होनी चाहिए. अब ऐसी स्थिति है कि कोई भी अगर इस तरह का कृत्य करेगा, पकड़ा जायेगा. सजा को और सख्त करने के सुझाव हैं, यह गौर करने वाली बात है. मुजफ्फरपुर और छपरा शॉट स्टे होम में महिलाओं एवं लड़कियों के साथ हुए शारीरिक शोषण से संबंधित प्रश्न का जवाब देते हुए समाज कल्याण विभाग के प्रधान सचिव अतुल प्रसाद ने बताया कि विभाग की जांच से ही इस तरह की घटनाओं की जानकारी मिली है और उस पर कार्रवाई की जा रही है। चाहे कोई भी हों, उनके खिलाफ कानून सम्मत कार्रवाई हो रही है.  पिछले सात-आठ महीनों में बिहार के सभी जिलों में वॉलिंटियर्स के द्वारा जांच की गई है. सरकार की तरफ से इन घटनाओं में जो एनजीओ लिप्त हैं, उन पर भी कार्रवाई की जा रही है. मुख्यमंत्री ने इसके संबंध में कहा कि जो भी एनजीओ के द्वारा इन सब चीजों का संचालन किया जाता है उसकी बेहतर तरीके से जांच पड़ताल कर लेनी चाहिए और ऐसी व्यवस्था विकसित करने की जरूरत है, जिससे इस प्रकार की घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो. अतुल प्रसाद ने कहा कि छपरा अल्पावास गृहग में बच्ची के साथ

Read more

सीट बंटवारे पर बोले मुख्यमंत्री

2019 लोकसभा चुनाव में बिहार की 40 सीटों में से किसे कितनी सीट मिलेगी, इसपर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पहली बार बयान दिया है. सीएम ने कहा कि सीट बंटवारे पर फैसला जल्द ही हो जाएगा. एनडीए के सभी घटक दल बीजेपी, जदयू, लोजपा और रालोसपा के मुख्य नेता एक साथ बैठेंगे और इस मसले को हल करेंगे. उन्होंने कहा कि सीटों को लेकर आमने-सामने बात होगी. अमित शाह से मुलाकात के बाद लोक संवाद में सीएम ने बीजेपी अध्यक्ष से मुलाकात पर  कहा कि उनसे कई मुद्दों पर बात हुई है. लेकिन बंद कमरे में जो बातें हुईं उसे सार्वजनिक नहीं किया जा सकता. उन्होंने ये भी कहा कि जितनी बातें मीडिया में आ रही थीं, उनपर तो अमित शाह ने बोल ही दिया. सीएम नीतीश के मुताबिक, एक महीने में सीट बंटवारे को लेकर बातचीत संभावित है. बीजेपी के प्रस्ताव पर जदयू और अन्य घटक दल मिलकर बात करेंगे.

Read more

वित्त आयोग के सामने रखेंगे बिहार को विशेष दर्जा देने की मांग

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिलना ही चाहिए. विशेष राज्य के दर्जे की मांग से जुड़े प्रश्न का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2006 से ही सरकार के स्तर से एवं हमारी पार्टी के द्वारा भी इसकी मांग की जाती रही है. पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के समक्ष पहले भी सभी दलों की तरफ से यह मांग रखी गई थी 14वें वित्त आयोग की सिफारिश से यह संदेश गया कि बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दे पाना संभव नहीं है. उन्होंने कहा कि बिहार लैंड लॉक प्रदेश है. बिहार एक पिछड़ा राज्य है. यहां प्रति व्यक्ति आय राष्ट्रीय औसत से काफी नीचे है. बाढ़ एवं सुखाड़ जैसी आपदा से यह राज्य हमेशा पीड़ित रहता है. बाढ़ का कारण भी बाहर के जल का दबाव है. सीएम ने कहा कि राज्य में उद्योग धंधे को बेहतर बनाने के लिए राज्य सरकार ने अपने स्तर से कुछ नीतियां तैयार की हैं लेकिन बड़े उद्योग धंधों की स्थापना के लिए करों में छूट दिए जाने की जरुरत है. विशेष राज्य के दर्जे से यह रियायत मिल सकेगी, जिससे राज्य में रोजगार का सृजन हो सकेगा. अभी फिर से सर्वदलीय प्रस्ताव में विशेष राज्य के दर्जे की मांग पर सहमति है. उन्होंने कहा कि 15वें वित्त आयोग के सामने हमलोग अपने पक्ष को फिर से रखेंगे. सीएम सोमवार को लोक संवाद के बाद मीडिया से बात कर रहे थे.

Read more

धान में बिचड़ा रोग से किसान परेशान, कृषि मंत्री ने जारी किए निर्देश

कृषि मंत्री डॉ प्रेम कुमार ने कहा है कि राज्य के कई हिस्सों से धान के बिचड़ा में रोग लगने की सूचना प्राप्त हो रही है. जानकारी के अनुसार इस रोग में धान के बिचड़े की पत्तियों के शीर्ष एवं किनारे सूख जाते हैं अथवा पीला दिखने लगते हैं. चूँकि कहीं-कहीं बीज स्थली में बिचड़े अभी छोटे हैं, इसलिए दूर से प्रभावित खेत सूखा दिखायी दे सकता है. यह एक रोग है, जो अधिक तापमान एवं आर्द्रता में वृद्धि होने के कारण अधिक प्रभावी होता है. कृषि मंत्री ने पौधा संरक्षण संभाग के सभी पदाधिकारियों को निर्देश दिया  है कि इस तरह के प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करें एवं किसान भाइयों एवं बहनों को अविलम्ब इसके नियंत्रण का उपाय बताएँ. उन्होंने पौधा संरक्षण संभाग के पदाधिकारियों को प्रभावित क्षेत्रों का सतत् निगरानी करते रहने का भी निदेश दिया है. उन्होंने कहा कि यदि कहीं भी फसलों पर इसका प्रकोप हो तो उसका अविलम्ब इसके प्रबंधन के उपाय युद्ध स्तर पर किया जाये. डॉ कुमार ने राज्य के किसानों से अपील की है कि अगर खरीफ फसलों पर किसी तरह के कीट एवं बीमारियों के लगने की आशंका हो तो तुरन्त इसके निदान के लिए अपने नजदीक के पौधा संरक्षण पदाधिकारी, कृषि समन्वयक अथवा कृषि पदाधिकारी से संपर्क करें.

Read more

’31 मार्च तक किसी भी हाल में पूरा होगा अनट्रेंड शिक्षकों का प्रशिक्षण’

NIOS से D EL ED कर रहे छात्रों के लिए अहम खबर है. प्रशिक्षण में ढिलाई बरत रहे शिक्षकों के लिए एनआईओएस के चेयरमैन सी बी शर्मा ने साफ कर दिया है कि अनट्रेंड टीचर्स के लिए केन्द्र सरकार की ये महत्वाकांक्षी योजना किसी भी हाल में 31 मार्च 2019 तक पूरी कर ली जाएगी. क्योंकि संसद से पारित आदेश के मुताबिक इस कोर्स को इसी डेट तक पूरा करना है और सभी अप्रशिक्षित शिक्षकों को 31 मार्च 2019 तक ट्रेंड हो जाना है. इस डेट के बाद देश में कोई भी शिक्षक किसी सरकारी या निजी स्कूल में बिना ट्रेनिंग लिए नहीं पढ़ा सकेगा. पटना नाउ से एक्सक्लूसिव बातचीत में राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान के अध्यक्ष चन्द्र भूषण शर्मा ने बताया कि ये एनआईओएस का ऐसा प्रोजेक्ट है जिसमें करीब 15 लाख शिक्षकों को एक साथ प्रशिक्षण दिया जा रहा है. विश्व में ऐसा कोई दूसरा उदाहरण नहीं है. शिक्षकों को याद रखना है कि उन्हें परीक्षा देने का अवसर फिर से जरूर मिलेगा, लेकिन 31 मार्च तक ही. इस डेट तक जो शिक्षक अपना प्रशिक्षण पूरा नहीं कर पाए, उन्हें फिर मौका नहीं मिलेगा. पटना से राजेश तिवारी देखें विडियो

Read more

फुटबॉल का नया विश्व विजेता- फ्रांस

फ्रांस बना फुटबॉल का वर्ल्ड चैंपियन फाइनल में क्रोएशिया को 4-2 से हराया 20 साल बाद फ्रांस ने जीता फीफा वर्ल्ड कप पहली बार विश्व कप फाइनल में पहुंचे क्रोएशिया पर भारी पड़ा फ्रांस. 20 साल बाद फ्रांस ने फिर से हासिल किया विश्व विजेता का खिताब

Read more

अश्लीलता के खिलाफ खड़ा हुआ “अँखुआ”

भोजपुरी में अश्लीलता के खिलाफ जंग की तैयारी संस्कृतिकर्मी, सामाजिक कार्यकर्ता और पत्रकार हुए गोलबंद बक्सर, 15 जुलाई. भोजपुरी में अश्लीलता फैला अपने नाम को चमकाने वालों की खैर नही. अबतक फूहड़ता को आधार बना अपने आप को सुपर स्टार, सुपर सिंगर, सिल्वर जुबली और डायमंड स्टारों जैसे तमगे से नवाजने वालों पर अब ग्रहण लगने वाला है. भोजपुरी की कमाई खाने वालों ने भाषा मे अश्लीलता की चश्नी लगा खूब दोहन किया है और कपिला गाय समझ दिनों दिन इसे दुहने में ही लगे हैं. ऐसे लोग इस हद तक गिर गए हैं कि उन्हें धार्मिक देवी-देवताओं की आस्था के साथ भी खिलवाड़ किया है. भोजपुरी में व्याप्त ऐसे ही अश्लीलता के खिलाफ सकारात्मक और परिणामजनक संघर्ष को ले बक्सर के किला मैदान में एक बैठक आयोजित कर ‘अँखुआ’ नामक संगठन की नींव रखी गयी. बैठक की अध्यक्षता सुप्रसिद्ध गीतकार तारकेश्वर मिश्र ‘राही’ ने की. बैठक में सामाजिक कार्यकर्ता, रंगकर्मी, गायक और पत्रकार शामिल हुए और उन्होने एक हो अश्लीलता के विरुद्ध बिगुल फूंका. बैठक में जुटे समाज के बुद्धिजीवीयों ने तय किया कि ‘अँखुआ’ के बैनर तले भोजपुरी की अश्लीलता के खिलाफ लड़ाई लड़ी जाएगी. साथ ही करीब 1300 साल पुरानी भोजपुरी की गौरवशाली विरासत को भोजपुरी लोक मानस के सामने लाने की ईमानदार कोशिश की जाएगी. भोजपुरी में अच्छी लोक गायकी के लिए मशहूर गायक गोपाल राय ने कहा कि इस मंच से न सिर्फ हम विरोध की लड़ाई लड़ेंगे बल्कि अच्छे और भोजपुरी के अनछुए धुनों और लोकसंगीत का निर्माण कर अच्छे भोजपुरी का मतलब अश्लील

Read more

“आरा” के “कुमार राका” हुए लिम्का बुक में शामिल

वर्ल्ड रिकॉर्ड-1 घंटे में सबसे बड़ा आपदा प्रबंधन ड्रिल विद्यालयों में ‘सबसे बड़े भूकम्प निकासी की कवायद का बनाया रिकॉर्ड 110 स्कुलो के 80 हजार छात्र हुए थे शामिल Patna Now Exclusive आरा, 15 जुलाई. दुनिया मे कुछ अनोखा करने वालों का नाम सदियों के लिए इतिहास के पन्नो में दर्ज हो जाता है. इतिहास में दर्ज यह अनोखा पहल और भी खास तब बन जाता है जब किसी कस्बाई क्षेत्र का रहने वाला व्यक्ति इसे अंजाम देता है. इतिहास में दर्ज यह नाम और कारनामा फिर पढ़ने वालों के लिए कुछ कर गुजरने का प्रेरणा श्रोत बन जाता है. जी हां कुछ ऐसा ही प्रेरणादायक बन चुके हैं लिम्का में अपना नाम दर्ज करा आरा के रहने वाले कुमार राका. कुमार राका का नाम लिम्का बुक में एक अनोखे कवायद के लिए दर्ज किया गया है. कुमार राका की देखरेख में नोएडा में 27 अप्रैल 2017 को 110 स्कूलों में 11 बजे सुबह से 12 बजे दोपहर के बीच 80,000 छात्रों ने सबसे बड़े भूकम्प निकासी की ड्रिल में भाग लिया. एक दिन  में इतनी बड़ी संख्या में आपदा प्रबंधन का इससे पहले किसी ने ऐसा ड्रिल नही किया था. भूकम्प के समय लोगों को सुरक्षित निकालने के तरीकों को इस ड्रिल के माध्यम से प्रदर्शित किया गया था. छात्रों के साथ स्कूल प्रबंधक से जुड़े लोग, आपदा प्रबंधन की टीम और शिक्षक भी शामिल हुए थे. कुमार राका नोएडा आपदा प्रबंधन ऑथरिटी के हेड है. जिनके स्थानीय प्रबंधन में NDRF, NDMA और NIDM का दल भी शामिल था.

Read more