दारोगा के 1700 पदों के लिए करें अप्लाई

लंबे समय से वैकेंसी की तका में बैठे अभ्यर्थियों का  इंतजार खत्म हो गया है. बिहार पुलिस में पुलिस अवर निरीक्षक( दारोगा) के पद पर भर्ती के लिए BPSSC यानि बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग ने विज्ञापन निकाला है. विज्ञापन संख्या 01/2017 के तहत 1717 (एक हजार सात सौ सत्रह) पदों पर नियुक्ति के लिए बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग ही उपयुक्त अभ्यर्थियों का चयन करेगा. इसके तहत दो चरणों की लिखित परीक्षा होगी औऱ उसके बाद सफल अभ्यर्थियों को शारीरिक दक्षता परीक्षा से गुजरना होगा. मुख्य बिंदु- विज्ञापन संख्या- 01/2017 कुल पद- 1717 बहाली- बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग द्वारा चयन पद्धति- प्रारंभिक और मुख्य लिखित परीक्षा और शारीरिक दक्षता परीक्षा उम्र सीमा- 01.01.2017 को कम से कम 20 साल और अधिकतम सामान्य के लिए 37, OBC/MBC- 40, महिला(GEN/OBC/MBC)- 40 और SC/ST पुरुष महिला के लिए 42 वर्ष शारीरिक दक्षता के लिए- ऊॅंचाई – (1) अनारक्षित (सामान्य) वर्ग, पिछड़ा वर्ग एवं अत्यन्त पिछड़ा वर्ग के पुरूषों के लिए – न्यूनतम 165 सेन्टीमीटर। (2) अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के पुरूषों के लिए – न्यूनतम 160 सेन्टीमीटर। (3) सभी वर्गां की महिलाओं के लिए – न्यूनतम उॅंचाई 160 सेन्टीमीटर एवं न्यूनतम वज़न 48 किलोग्राम। सीना (सिर्फ पुरूषों के लिए) – (1) अनारक्षित (सामान्य) वर्ग, पिछड़ा वर्ग एवं अत्यन्त पिछड़ा वर्ग के पुरूषों के लिए – बिना फुलाए – 81 सेन्टीमीटर (न्यूनतम) फुलाकर – 86 सेन्टीमीटर (न्यूनतम) (फुलाने के बाद सीना में कम से कम 5 सेन्टीमीटर का अन्तर होना अनिवार्य होगा)। (2) अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के पुरूषों के लिए – बिना फुलाए – 79 सेन्टीमीटर (न्यूनतम) फुलाकर-

Read more

ध्यान से नोट कर लें ये सारी जानकारी

पटना जिला प्रशासन की ओर से जो निर्देश जारी किए गए हैं, वे काफी महत्वपूर्ण हैं. ना सिर्फ निजी स्कूलों के लिए बल्कि बच्चों और उनके गार्जियन के लिए भी. आप इन्हें जरूर पढ़ें ताकि किसी भी जरुरत या फिर स्कूलों की मनमानी के समय आप उन्हें इनकी याद दिला सकें. यही नहीं, पटना के डीएम, एसएसपी. सिटी एसपी और  ट्रैफिक एसपी ने बिल्कुल साफ कह दिया कि अगर आपकी परेशानी स्कूल दूर नहीं कर रहे हों सीधे नजदीकी थाने में संपर्क करें या फिर डीएम, एसएसपी समेत किसी भी अधिकारी को फोन करें. लेकिन याद रहे, ना सिर्फ डीएम बल्कि पटना पुलिस ने साफ-साफ कह दिया है कि 18 साल से कम के लड़के या लड़कियां बिना ड्राइविंग लाइसेंस के स्कूल जाते या गाड़ी चलाते पकड़े गए तो अत्यंत सख्त कार्रवाई होगी. जाहिर तौर पर ये जिम्मेवारी बच्चे के गार्जियन की होगी. नोट करें- हर निजी स्कूल में पर्याप्त संख्या में CCTV कैमरे होने चाहिए जो पूरी तरह एक्टिव हों और कैमरों/ विजुअल की निगरानी के लिए एक व्यक्ति जरुर हो. इसकी नियमित मॉनिटरिंग होनी चाहिए. सभी स्कूलों में 15 दिनों के अंदर सुझाव पेटी(Suggestion Box) लगाने का आदेश. सुझाव पेटी की चाभी प्राचार्य के पास रहेगी तथा इसको खोलते वक्त इसकी वीडियोग्राफी भी करायी जायेगी. सभी स्कूलों में निबंधित सुरक्षा एजेन्सी के माध्यम से ही सुरक्षा गार्ड रखने का निदेश. सुरक्षा व्यवस्था की देख-भाल हेतु एक कर्मी को प्रभारी बनाने का निदेश. सभी सुरक्षा प्रभारियों को जिला स्तर पर दिया जायेगा प्रशिक्षण. सभी विद्यालयों में पास्को के तहत्

Read more

BPSC ANSWER KEY के लिए क्लिक करें

बीपीएससी ने जो आंसर की जारी किया है उसके बाद एक बार फिर इसपर विवाद खड़ा हो सकता है. इसमें कुछ प्रश्नों के उत्तर और साथ ही सही जवाब देने और कट ऑफ हासिल करने के बाद भी पीटी परीक्षा में सिलेक्शन नहीं होने की शिकायत की भी खबर है. आंसर की से अपने उत्तरों का मिलान करने के लिए यहां क्लिक करें- BPSC (60-22) PT ANSWER KEY  रिजल्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें- BPSC (60-22) PT RESULT पूरी खबर यहां पढ़ें- https://goo.gl/Ro4z8D

Read more

BPSC PT का रिजल्ट जारी

60-62वीं पीटी का रिजल्ट आखिरकार करीब 7 महीने के बाद आज देर शाम जारी कर दिया गया. रिजल्ट से जुड़ी मुहत्वपूर्ण बातें- कुल रिजल्ट- 8282 कट ऑफ अनारक्षित श्रेणी – 97 अनारक्षित श्रेणी(महिला)- 86 SC – 83 SC(F)- 68 BC-93 BC(F)-81 EBC- 89 EBC(F)- 75 देखिए अपना रिजल्ट यहां-       बता दें कि पीटी की परीक्षा 12 फरवरी को हुई थी और काफी समय से छात्र इस रिजल्ट का इंतजार कर रहे थे. Click here for result http://bpsc.bih.nic.in/Default.htm

Read more

सरकार के किसी स्टार्ट अप की इन्हें नहीं जरुरत

खुद बनीं स्टार्ट अप कंपनियों के लिए मिसाल 20 साल में खड़ी कर दी उद्यमी महिलाओं की फौज एक से बढ़कर एक ब्रांड के जरिए महिला उद्योग संघ ने पेश की नजीर   बात हो रही है बिहार महिला उद्योग संघ की जिसकी कर्णधार हैं पुष्पा चोपड़ा. बीस साल पहले बिना किसी बाहरी या सरकारी मदद के शुरू किया गया पुष्पा चोपड़ा का प्रयास अब रंग दिखाने लगा है. 200 से शुरूआत करने वाले आज 10-20 लाख कमा रहे हैं और वो भी बिना किसी सरकारी मदद के. 7 से 11 सितंबर तक पटना में उद्योग संघ की महिलाओं ने 23वां उद्योग मेला लगाया जिसमें देश के कई राज्यों से आए उद्यमियों ने भी अपना स्ट़ॉल लगाया. बिहार महिला उद्योग संघ की अध्यक्ष पुष्पा चोपड़ा ने बताया कि वे 1997 से अबतक 23 बार उद्योग मेले का आयोजन  कर चुकी हैं. अब तो यहां इतनी भीड़ जुटती है कि स्टॉल के लिए भी मारामारी होती है. उन्होंने कहा कि सरकार जितना स्टार्ट अप पर अनुदान देकर पढ़ाई और ट्रेनिंग करवा रही है उसका नतीजा कुछ नहीं निकल रहा . उन्होंने बिना किसी सरकारी मदद के इतना बड़ा स्टार्ट अप शुरू किया और आज इतनी बड़ी संख्या में महिलाएँ अपने पैरों पर खड़ी होकर बिहार का नाम रौशन कर रही हैं. पटना से अमित वर्मा

Read more

रेयान से मचे हाहाकार के बाद पटना के स्कूलों पर भी सख्ती

गुरुग्राम के रेयान स्कूल में सात साल के प्रद्यूम्न मर्डर के बाद भी पटना जिला प्रशासन आंखें मूंदे बैठा था. लेकिन patnanow और अभिभावकों की आवाज से जिला प्रशासन की आंख खुली है. पटना डीएम ने 14 सिंतबर को सभी स्कूलों के प्रबंधन की बैठक बुलाई है जिसमें स्कूली बच्चों की सुरक्षा, स्कूलों और अभिभावकों के बीच बेहतर संवाद समेत कई मुद्दों पर चर्चा होगी. File Pic क्या होगा बैठक का एजेेंडा- निजी विद्यालयों में छात्र-छात्राओं की सुरक्षा का बेहतर वातावरण तैयार करने, अभिभावक एवं स्कूल प्रबंधन के बीच बेहतर संवाद स्थापित करने तथा वि़द्यालयों में शैक्षणिक माहौल में सुधार आदि मुद्दों पर गहन समीक्षा. छात्र-छात्राओं की सुरक्षा के संबंध में वि़द्यालय में उपलब्ध सुविधाओं की समीक्षा सुरक्षा में लापरवाही बरतने पर की जायेगी कार्रवाई लापरवाही बरतने वाले विद्यालय प्रबंधन की मान्यता रद्द करने के लिए CBSE, ICSE, BSEB से की जाएगी अनुशंसा विद्यालय में उपलब्ध मूलभूत सुविधाओं के संबंध में सभी वि़द्यालयों से मांगी गयी है जानकारी सभी विद्यालयों को उपलब्ध कराया गया है विहित प्रपत्र प्रपत्र को पटना जिला की वेबसाइट से भी किया जा सकता है डाउनलोड. स्कूल प्रबंधनों से निम्नांकित बिन्दुओं पर सूचनाओं की मांग की गयी हैः- स्कूल में Complaint/Suggestion Box की उपलब्धता SMS की सुविधा CCTV की सुविधा स्कूल में सुरक्षा गार्ड की स्थिति सुरक्षा गार्ड को प्रशिक्षण देने की स्थिति आपदा की स्थिति से निपटने की तैयारी अग्निशमन की व्यवस्था बच्चों को भूकंप के दौरान बचने का प्रशिक्षण बस में GPS की सुविधा, वाहन पार्किंग की व्यवस्था बस पर चालक/कन्डक्टर का नाम, नम्बर

Read more

लोकसंवाद में आ रहे कई काम के सुझाव

बिहार के सीएम नीतीश कुमार के लोक संवाद में भले ही चुनिंदा लोग ही आते हों, लेकिन उनके सुझाव सरकार और प्रशासन के काम आ रहे हैं. 11 सितंबर को सीएम के लोक संवाद में 8 लोगों ने शिरकत की. इनमें दरभंगा के रिजवान और सुमन यादव, मधुबनी के नीतीश रंजन, पटना के रणविजय, दिग्विजय और डॉ एसएन उपाध्याय, औरंगाबाद के धीरेन्द्र कुमार, सीतामढ़ी के रंधीर कुमार शामिल थे.    मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लोक संवाद कार्यक्रम में लोगों के सुझाव सुनते हुए प्रमुख सुझावों में  लोक शिकायत निवारण अधिकार कानून के तहत होने वाली सुनवाई के दौरान लोक प्राधिकार की अनिवार्य उपस्थिति की मांग  मधुबनी के नीतीश रंजन ने सीएम से की. पटना के रणविजय कुमार ने कहा कि संपत्ति के बंटवारे में बेटियों की भी सहमति लेनी चाहिए. दरभंगा के कृष्ण कुमार सुमन ने सुझाव दिया कि सूदखोरों का हिसाब-किताब भी सरकार को लेना चाहिेए. सीएम ने इसे गंभीरता से लेते हुृए राजस्व और भूमि सुधार विभाग से पूरी रिपोर्ट मांगी है कि कितने ऐसे रजिस्टर्ड मनी लेंडर्स हैं बिहार में और कितने बिना किसी रजिस्ट्रेशन के चल रहे हैं.  

Read more

प्रभारी प्रिंसिपल को लेकर दिशानिर्देश जारी

बिहार सरकार ने सूबे के माध्यमिक और उच्च माध्यमिक विद्यालयों में प्रिंसिपल का पद खाली रहने पर वहीं प्रभारी प्रिंसिपल कौन हो, इसके लिए दिशानिर्देश जारी किया है. शिक्षा विभाग के आदेश के मुताबिक ऐसी स्थिति में उस स्कूल का सीनियर मोस्ट टीचर ही प्रभारी प्रिंसिपल बनाया जाएगा. आदेश के मुताबिक, प्रमंडलीय संवर्ग के सहायक शिक्षकों में से सबसे वरीय ही वहां का प्रभारी प्रिंसिपल बनाया जाएगा. यदि कोई प्रमंडलीय शिक्षक नहीं है तो उस स्कूल से संबंधित DEO वरीयता के आधार पर नियोजित शिक्षक को प्रभारी प्रिंसिपल बनाएंगे. इस मामले में सीनियर मोस्ट ट्रेंड पीजी टीचर अपने योगदान की तिथि के आधार पर प्रभारी प्रधानाध्यापक होंगे. ट्रेंड पीजी टीचर नहीं रहने की स्थिति में अनट्रेंड पीजी टीचर प्रभारी प्रिंसिपल बनेंगे. शिक्षा विभाग के आदेश के मुताबिक जब इन दोनों में भी कोई ना हो तो पीजी ट्रेंड ग्रैजुएट टीचर को प्रभारी प्रिंसिपल बनाया जाएगा. लेकिन अगर इस कैटेगरी के टीचर भी उस स्कूल में नहीं होंगे तो फिर ट्रेंड ग्रैजुएट टीचर को प्रभारी प्रिंसिपल बनाया जाएगा. आदेश में ये भी साफ कहा गया है कि कोई भी शारीरिक शिक्षक प्रभारी प्रिंसिपल नहीं बनाया जाएगा.

Read more

‘फिट रहना है तो रहें एक्टिव’

जीवन में सक्रिय रहना बेहद जरूरी है. अगर सक्रिय ना रहे तो कई बीमारियां शरीर में जन्म ले लेती हैं और फिर तो फिजियोथेरेपी ही एकमात्र विकल्प है. ये कहना है पटना एम्स के निदेशक डॉ प्रभात कुमार सिंह का. फिजियोथेरेपी दिवस के मौके पर पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि फिजियोथेरेपी विभाग को बढ़ावा देने के लिए नए जल्द से जल्द अत्याधुनिक उपकरण मंगाया जाएगा. कार्यक्रम की आयोजक फिजियोथेरेपिस्ट रीना श्रीवास्तव ने बताया कि फिजिकल एक्टिविटीज हर उम्र में जरूरी है. बचपन से लेकर वृद्धावस्था तक यदि शरीर को सक्रिय रखा जाए तो बीमारियों से दूर रहा जा सकता है. यही नहीं दर्द से छुटकारा पाने और शरीर को सामान्य स्थिति में लाने के लिए व्यायाम बेहद जरूरी है. घुटना या कूल्हा प्रत्यारोपण हो या फिर प्रसव के बाद या पेट और कार्डियक सर्जरी के बाद दर्द रहित सामान्य जीवनयापन में फिजियोथेरेपी की महत्वपूर्ण भूमिका है. एम्स में फिजियोथेरेपी सम्बंधी इन सभी समस्याओं का इलाज आधुनिक मशीनों द्वारा किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि हर रोज एम्स की फिजियोथेरेपी ओपीडी में 80 से 100 मरीज आते हैं. AIIMS के डीन डाॅ.पीपी गुप्ता ने कहा कि हर उम्र में फिजियोथेरेपी की जरूरत पड़ती है, यह अस्पताल का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है. इस मौके पर चिकित्साधीक्षक डाॅ.एस.एस.गुप्ता ने भी फिजियोथेरेपी की महत्ता पर प्रकाश डाला. कार्यक्रम में डाॅ.रामजी सिंह, डाॅ.नीरज अग्रवाल, डाॅ.बिन्दे कुमार, डाॅ.प्रेम कुमार, डाॅ.सीएम सिंह, डाॅ.संजीव कुमार, डाॅ.वीना सिंह, डाॅ.अनूप कुमार, डाॅ.सुदीप कुमार, डाॅ.योगेश, डाॅ.मुक्ता अग्रवाल, डाॅ.प्रीतांजलि सिंह, डाॅ.संजय पांडेय समेत अन्य

Read more

BSSC इंटर लेवल PT परीक्षा का शेड्यूल रेडी

क्या आप तैयार हैं? बिहार कर्मचारी चयन आयोग की PT परीक्षा का शेड्यूल तैयार है. आपको याद दिला दें कि इसी साल जनवरी -फरवरी महीने में ये परीक्षा चार चरणों में ली जा रही थी. लेकिन पीटी परीक्षा में प्रश्नपत्र लीक कांड ने देशभर में बिहार की किरकिरी कर दी थी.इस मामले में SIT ने भी मीडिया और स्टूडेंट्स के खुलासे पर मुहर लगाते हुए कई लोगों को गिरफ्तार किया था. आनन-फानन में परीक्षा को कैंसिल कर दिया गया था. File Pic इस मामले में आयोग के पूर्व सचिव परमेश्वर राम, अध्यक्ष सुधीर कुमार और कई स्टाफ जेल में बंद हैं. अब ताजा जानकारी के मुताबिक ये परीक्षा अगले महीने हो सकती है. कर्मचारी चयन आयोग ने अक्टूबर और नवंबर महीने में चार चरणों में परीक्षा कराने की तैयारी को लेकर सभी जिलों के डीम और सभी कमिश्नर को पत्र जारी किया है. सबसे पहले पटना नाउ आपको ये जानकारी दे रहा है. पहले ये परीक्षा ऑनलाइन कराने पर भी विचार किया गया था. लेकिन ना तो सरकार औऱ ना ही किसी निजी संस्थान के पास इतनी बड़ी संख्या में छात्रों की परीक्षा हैंडल करने का संसाधन है. इसलिए इसबार इस परीक्षा को ऑफलाइन कराने पर ही बात फाइनल हुई है. BSSC के सचिव के नाम से जारी इस पत्र से ये साफ हो गया है कि अक्टूबर और नवंबर महीने में ये परीक्षा होगी, जिसमें करीब 18.5 लाख अभ्यर्थी शामिल होंगे. इस परीक्षा के जरिए विभिन्न सरकारी विभागों में ग्रुप सी के करीब 15 सीटों पर बहाली होनी है.

Read more