इसे कहते हैं मील का पत्थर

NHAI यानि नेशनल हाइवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के लिए 2 अप्रैल का दिन देश के राजमार्ग के इतिहास में मील का पत्थर साबित होगा. आज देश के सबसे लंबे टनेल का उद्घाटन होने जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इसका शुभारंभ करेंगे. जम्मू कश्मीर के उधमपुर जिले को रामबन जिले से जोड़ने वाली ये सुरंग 9 किलोमीटर लंबी है. इससे दोनों जिलों के बीच करीब 32 किलोमीटर का फासला कम होगा. इसके साथ ही 2 घंटे समय की बचत होगी और इस हाइवे से गुजरने वाले वाहनों का लाखों का डीजल-पेट्रोल भी बचेगा. हालांकि जम्मू श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर चिनैनी नाशरी टनल में दो पहिया वाहनों के गुजरने को अनुमति मिलने के आसार कम ही हैं. फिलहाल चार पहिया वाहनों को ही टनल से गुजारा जाएगा.

Read more

आज मंगल से संबंधित वस्तुओं का ही करें दान

आज मंगलवार है और ग्रहों में विशिष्ट स्थान रखनेवाले मंगल आज के दिन के स्वामी हैं. ज्योतिषीय मान्यताओं के अनुसार मंगल के प्रभाव से व्यक्ति में साहस, लड़ने की क्षमता और निडरता का भाव आता है. मंगल के प्रभावस्वरुप जातक सामान्यतया किसी भी प्रकार के दबाव के आगे नहीं झुकता. मंगल के द्वारा साहस, शारीरिक बल, मानसिक क्षमता प्राप्त होती है. मंगल के मित्र ग्रह सूर्य, चन्द्र और गुरु है. मंगल से शत्रु संम्बन्ध रखने वाला ग्रह बुध है. मंगल के साथ शनि और शुक्र सम सम्बन्ध रखते हैं. मंगल मेष व वृश्चिक राशि का स्वामी है. मंगल की मूलत्रिकोण राशि मेष राशि है,मंगल के दुष्प्रभावों से बचने के लिए तथा शुभ फलों की प्राप्ति के लिए मंगल से संबंधित वस्तुओं का दान किया जा सकता है. तांबा, गेहूं, घी, लाल वस्त्र, लाल फूल, चन्दन की लकडी, मसूर की दाल. मंगलवार को सूर्य अस्त होने से 48 मिनट पहलें और सूर्यास्त के मध्य अवधि में ये दान किये जाते है. पौराणिक कथाओं के अनुसार रामभक्त हनुमान का जन्म मंगलवार को ही हुआ था. इसलिए मंगलवार को हनुमानजी की पूजा का विशेष महत्व है.हनुमान जी की कृपा पाने के लिए लोग मंगवार का व्रत भी रखते हैं. मंगलवार को सुंदरकांड का पाठ विशेष फलदायी होता है.

Read more

आज महादेव की पूजा से बनेंगे बिगड़े काम

आज सोमवार है और आज के दिन के स्वामी सोम यानी चंद्रमा हैं. ज्योतिषीय गणना के अनुसार चंद्रमा जातक के मन का स्वामी होता है. ऐसे में यदि जन्म कुंडली में चंद्रमा की स्थिति ठीक न हो या वह दोषपूर्ण स्थिति में हो तो जातक को मन और मस्तिष्क से संबंधी परेशानियां होती हैं. चन्द्रमा मां का सूचक है और मन का कारक है . ग्रहों में चंद्रमा को स्त्री स्वरूप माना गया है.भगवान शिव ने चंद्रमा को मस्तक पर धारण किया हुआ है, इसलिए भगवान शिव को चंद्रमा का देवता कहा गया है और सोमवार को भगवान शंकर की पूजा विशेष फलदायी होती है. पौराणिक कथाओं के अनुसार सोमवार व्रत में व्यक्ति को प्रातः स्नान करके शिव जी को जल और बेल पत्र चढ़ाना चाहिए और शिव-गौरी की पूजा करनी चाहिए. पूजा में:-  श्वेत फूल, सफेद चन्दन, चावल, पंचामृत, अक्षत, पान,सुपारी, फल, गंगा जल, बेलपत्र,धतूरा-फल तथा धतूरा-फूल से शिव-पार्वती तथा साथ में गणेशजी, कार्तिकेय और नंदी जी की भी पूजा-अर्चना करनी चाहिए।शिव पूजन के बाद सोमवार व्रत कथा सुननी चाहिए. इसके बाद केवल एक समय ही भोजन करना चाहिए.

Read more

रविवार को इन उपायों से बढ़ेगा मान-सम्मान

आज रविवार है और जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है ये दिन भगवान सूर्य का दिन होता है. सूर्य को सौरमंडल का राजा माना जाता है और सभी ग्रह सूर्य से ही ऊर्जा ग्रहण करते हैं. शास्त्रीय मान्यताओं के अनुसार सूर्य की ऊर्जा से प्रजन, सृजन, उत्पत्ति, पुष्टिकरण और संहार का कर्म चलता है. ज्योतिषीय गणनाओं के अनुसार कुंडली में सूर्य की मजबूत स्थिति जातक को समाज में प्रतिष्ठा दिलाती है. रविवार के दिन सूर्य पूजा से व्यक्ति को घर-परिवार और समाज में मान-सम्मान की प्राप्ति होती है.सूर्यदेव की कृपा से कुंडली के ग्रहों का नकारात्मक प्रभाव समाप्त हो जाता है. इसके साथ ही व्यक्ति की सफलता के द्वार खुलते हैं. बारह राशियों में से सूर्य मेष, सिंह और धनु में स्थित होकर विशेष रूप से बलवान होता है तथा मेष राशि में  सूर्य को उच्च का माना जाता है. मेष राशि के अतिरिक्त सूर्य सिंह राशि में स्थित होकर भी बली होते हैं. सूर्य के मित्र ग्रह चन्द्रमा, मंगल,गुरु है. शनि व शुक्र सूर्य के शत्रु ग्रह है. बुध ग्रह सूर्य के साथ सम सम्बन्ध रखता है.आज  तांबे का बर्तन, पीले या लाल वस्त्र, गेंहू, गुड़, माणिक्य, लाल चंदन आदि का दान करें. आज सुबह शीघ्र उठकर स्नानादि से निवृत होकर तांबे के लोटे में जल लेकर सूर्यदेव को जल अर्पित करें.इसके बाद आदित्य ह्रदयस्तोत्र का पाठ करें. इसके बाद गायत्री मंत्र की एक माला का जाप करें. ऐसा करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं.  

Read more

शनिवार का महत्व

आज शनिवार है और सूर्यपुत्र शनि को आज के दिन का स्वामी माना जाता है. नवग्रहों में सर्वाधिक महत्वपूर्ण स्थान रखनेवाले शनि की कई कथाएं पुराणों में प्रचलित है. शनि को लेकर कई भ्रांतियां हैं और उन्हें मारक, अशुभ और दु:ख कारक माना जाता है. ऐसा माना जाता है कि जिस राशि पर शनि की साढ़ेसाती और ढैया रहती है उस राशि के जातकों के लिए अच्छा समय नहीं रहता है. लेकिन ये बात पूरी तरह सत्य नहीं है. वास्तविकता ये है कि शनि प्रकृति में संतुलन प्रदान करते हैं और न्यायप्रिय हैं. ज्योतिषीय मान्यताओं के अनुसार शनि मकर और कुंभ राशि के स्वामी हैं और पुष्य, अनुराधा और उत्तराभाद्र शनि के नक्षत्र हैं. शनिदेव की प्रसन्नता के लिए लोग कई सारे उपाय करते हैं. जिसमें शनिवार का व्रत और रामदूत हनुमान की आराधना प्रमुख है. ऐसा माना जाता है कि हनुमानजी की आराधना करनेवाले लोगों पर शनि की कुदृष्टि नहीं पड़ती है. इसके अतिरिक्त शनिवार को सूर्योदय से पहले पीपल के वृक्ष में जल देना और परिक्रमा करना भी विशेष फलदायी माना जाता है. साथ ही शनिवार के दिन काली वस्तु का दान आदमी को अशुभ होने से बचाता है. पंडित उमेश कुमार मिश्र

Read more

SIT ने किए चौंकानेवाले खुलासे

BSSC पेपरलीक कांड की जांच कर रही SIT के प्रमुख और पटना के SSP मनु महाराज ने आज प्रेस-कांफ्रेंस कर कई चौंकानेवाले खुलासे किये. मनु महाराज ने बताया कि पेपरलीक कांड की जांच के दौरान गिरफ्तार किए गए BSSC के सचिव परमेश्वर राम के मोबाइल से कई मंत्रियों और बड़े नेताओं के मैसेजेज मिले हैं. पहली नजर में इन मैसेजेज से ये बात सामने आयी है कि ANM बहाली में कई मंत्रियों, विधायकों ने अपने लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए पैरवी की थी. अब इन मैसेजेज की साइंटिफिकली जांच के लिए परमेश्वर राम के मोबाइल को FSL भेजा गया है. उन्होंने बताया कि FSL की जांच के बाद इन मैसेजेज की सच्चाई सामने आएगी. SIT प्रमुख मनु महाराज ने कहा कि अगर पैरवी की बात सही होगी और इन पैरवियों की बदौलत अगर किसी बहाली की बात सामने आएगी तो SIT संबंधित विभाग को कार्रवाई के लिए लिखेगी. मनु महाराज ने कहा कि ये बात पूरी तरह से साफ है कि BSSC का पेपरलीक हुआ था और इसमें शामिल सभी दोषियों की भी पहचान कर ली गयी है. क्या कहा मनु महाराज ने- उन्होंने ये भी कहा कि इस मामले में गिरफ्तार किए गए आईएएस सुधीर कुमार की भूमिका की बात एकदम स्पष्ट है. इस मामले में दबाव के तहत काम करने के सवाल पर मनु महाराज ने कहा कि आजतक उन्होंने किसी प्रेशर में काम नहीं किया है और आगे भी बिना किसी प्रेशर के काम करते रहेंगे.

Read more

आज का राशिफल- गुरुवार

जानते हैं कि आज का दिन विभिन्न राशि के जातकों के लिए कैसा रहेगा. मेष- कार्यक्षेत्र में काफी बदलाव की संभावनाओं के साथ आपका आज का दिन प्रभावशाली साबित हो सकता है. प्रेम प्रसंग चल रहा है तो उसमें कुछ अच्छे बदलाव हो सकते हैं.आज आप किसी को अपना राजदार बना सकते हैं. लोगों से आज काफी मेलजोल बढ़ेगा. हाथ आए अवसर को जाया न करें. वाद-विवाद से दूर रहें. सेहत सामान्य रहेगी. वृष राशि- धनागमन का योग बन रहा है. जिससे मानसिक तनाव से राहत मिल सकती है. आय में वृद्धि होगी. मन को एकाग्र रख अपना काम करें. आज मित्रों का सहयोग मिल सकता है. आप भी किसी के लिए कुछ भी करने को तैयार रहेंगे. परनिंदा से बचने का प्रयास करें. नकारात्मक सोच आपको परेशान कर सकती है. मिथुन – इस राशि के जातकों के लिए आज का दिन लाभ लेकर आनेवाला है. सकारात्मक सोच के साथ की गयी मेहनत रंग लाएगी. किसी खास काम के लिए धन प्रबंध का योग बन रहा है. धैर्य और संयम के साथ काम करें और हर किसी पर भरोसा तो बिल्कुल न करें. किसी से कोई झूठा वादा न करें.   कर्क- आज आपको विशेष सावधानी बरतने की जरूरत है. कोई भी काम शुरू करने से पहले बड़े-बुजुर्ग की सलाह अवश्य लें. आपका दिन तनावभरा रह सकता है इसलिए धीरज और हिम्मत से काम लें. कुछ पुराने परिचितों का सहयोग आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होगा. सेहत का ध्यान रखें. सिंह- आज आपकी सुस्ती आपको घाटा दे सकती है. इसलिए आलस्य को

Read more

अम्बा भी जुड़ा भोजपुरी लोक संस्कृति महोत्सव 2017 से 

आयोजन के प्रेरक बने सिने स्टार सत्यकाम 2 अप्रैल से 9 अप्रैल तक होगा भोजपुरी लोक संस्कृति महोत्सव 2017 भोजपुरी लोक संस्कृति महोत्सव 2017 के आयोजन के लिए amba यानि अश्लीलता मुक्त भोजपुरी एसोसिएशन के संस्थापक बॉलीवुड सिने अभिनेता सत्यकाम आनंद को महोत्सव का प्रेरक बनाया गया. जिसकी घोषणा आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कार्यक्रम निदेशक कृष्ण यादव कृष्णेन्दु ने मौलाबाग में किया. गौरतलब है कि आगामी 2 अप्रैल से 9 अप्रैल तक यह आयोजन वीर कुंवर सिंह स्टेडियम में आयोजित होगा जिसमें विदेशों से भी विशिष्ट अतिथियों का आगमन होगा. उन्होंने बताया कि अम्बा जिस तरह से भोजपुरी में फैले अश्लीलता के लिए लड़ रही है वो भोजपुरी के गर्व की बात है और हमारे लिए प्रेरणा भी. इसी उद्देश्य से युवाओं के प्रेरक बने गैंग्स ऑफ़ वासेपुर फेम शाहाबाद के लाल सत्यकाम आनंद को इस महोत्सव के लिए प्रेरक बनाया गया. कार्यक्रम प्रभारी अरविन्द राय ने ख़ुशी व्यक्त  करते हुए कहा कि सत्यकाम आनंद सिने स्टार बाद में हैं पहले एक भोजपुरिया सिपाही हैं इसलिए इनके आने से युवाओं को और भोजपुरी को एक नयी ऊर्जा मिलेगी.बताते चलें कि भोजपुरी लोक गायक मनीषा श्रीवास्तव को कार्यक्रम का ब्रांड एम्बेसडर बनाया गया है मीडिया  प्रभारी पंकज सुधांशु ने कहा कि बॉलीवुड सिने स्टार के आ जाने से अम्बा की ऊर्जा इस आयोजन को और मजबूत करेगा. सिने अभिनेता सत्यकाम  ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि भोजपुरी के विकास और संस्कृति को जीवित रखने के लिए अम्बा कृत संकल्पित है. हम अपनी विरासत को सहेजे बिना नयी पीढ़ी को

Read more

‘वो पांच बातें जो सबको याद रहेंगी’

यूपी के चुनाव प्रचारों में PM मोदी ने दिखाया दम SCAM,मेरा माई-बाप यूपी,श्मशान भी जरुरी,जनता बनेगी कटप्पा और कुछ का साथ कुछ का विकास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रैलियों में लोगों से कहा कि मैं पांच बाते आपसे करना चाहता हूँ. इस प्रकार उन्होंने scam,मेरा माई-बाप यूपी,श्मशान भी जरुरी,जनता बनेगी कटप्पा,कुछ का साथ कुछ का विकास जैसी बातों को सुनाया उसके बाद से ट्विटर पर ट्रेंड ही बन गया है.प्रधानमंत्री ने कहा कि कि भाईयों बहनों ‘ये चुनाव बीजेपी की स्कैम के खिलाफ लड़ाई है. S से समाजवादी, C से कांग्रेस, A से अखिलेश और M से मायावती. अब आप जानते हैं. मेरा माई-बाप यूपी : पीएम मोदी ने हरदोई की रैली में कहा, ‘मैं यूपी से सांसद बना और यहां पर मिली जीत से देश को स्थाई सरकार मिली और गरीब मां का बेटा पीएम बना. उन्होंने कहा कि यूपी ने मुझे गोद लिया है. यूपी मेरा माईबाप है. मैं माईबाप को नहीं छोडूंगा. मैं भले ही गोद लिया हूं, लेकिन यूपी की चिंता है मुझे.श्मशान भी होना चाहिए: , ‘रमजान में बिजली आती है तो दिवाली में भी आनी चाहिए. भेदभाव नहीं होना चाहिए. यदि कब्रिस्तान है तो श्मशान भी होना चाहिए. ईद और होली दोनों के मौके पर बिजली आनी चाहिए. किसी भी सूरत में भेदभाव नहीं होना चाहिए. जनता बनेगी कटप्पा: मऊ की रैली में बीएसपी के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी की तरफ इशारा करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘यहां बाहुबलियों को टिकट भी दी जाती है. कोई भी बाहुबली जेल जाता है, तो मुस्कुराता हुआ

Read more

बुधवार का महत्व

वैसे तो जीवन का प्रत्येक क्षण अति महत्वपूर्ण है. लेकिन माना ये जाता है कि सप्ताह के सात दिनों का अपना अलग-अलग महत्व है. ऐसे में ये जानना आवश्यक कि बुधवार क्यों खास है और आज के दिन क्या विशेष करना जीवन में सफलता प्रदान कर सकता है. बुधवार सप्ताह का तीसरा दिन है, और इसका स्वामी बुध ग्रह है. ज्योतिषीय मान्यताओं की बात करें तो बुध विचार, चर्चा और अभिव्यक्ति का प्रतिनिधित्व करता है. माना जाता है कि बुध का शुभ प्रभाव व्यक्ति को विद्वान, शिक्षक, कलाकार और सफल व्यवसायी बनाता है. बुध सौर मंडल के आठ ग्रहों में सबसे छोटा और सूर्य से निकटतम है. बुध का रंग हरा है और इन्हें शीतल और नम ग्रह माना गया है. पौराणिक मान्यताओं की बात की जाए तो बुध चंद्रमा और वृहस्पति की पत्नी तारा की संतान हैं. हिंदू मान्यताओं के अनुसार किसी भी शुभ कार्य में सर्वप्रथम भगवान गणेश का पूजन अत्यंत मंगलकारी माना जाता है. परंतु बुधवार के दिन भगवान् गणेश का पूजन विशेष फलदायी है. बुधवार के दिन गणेशजी की उपासना से सुख-सौभाग्य बढ़ता है और जीवन की उन्नति में आनेवाली विध्न-बाधाओं का शमन होता है. इसलिए बुधवार की सुबह स्वच्छ और पवित्र जल से स्नान कर शुभ आसन पर बैठें और विध्नहर्ता गणेश की षोडशोपचार पूजन करें और  ॐ गं गणपतये नमः का 108 नाम मंत्र का जाप करें.   कहा भी गया है- सुमुखश्चैकदंतश्च कपिलो गजकर्णकः | लम्बोदरश्च विकटो विघ्ननाशो विनायकः | धूम्रकेतुर्गणाध्यक्षो भालचन्द्रो गजाननः | द्वादशैतानि नामानि यः पठेच्छृणुयादपि | विद्यारंभे विवाहे च प्रवेशे निर्गमे तथा |

Read more